विटामिन डी हमारे शरीर को कई बीमारियों से छुटकारा दिलाता है। लेकिन जब शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है तो यह व्यक्ति के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। ऐसे में बहुत जरूरी है कि विटामिन डी की कमी को रोकने के लिए आहार में विटामिन डी युक्त फूड्स को शामिल किया जाए। एक रिसर्च के अनुसार विटामिन डी युक्त खाद्य पदार्थों  से कोरोना वायरस से होने वाले संक्रमण को भी कम किया जा सकता है। विटामिन डी, कई तरीकों से हमारे शारीरिक कार्यों में मदद करने के लिए जाना जाता है। इस पोषक तत्व को खाने वाले खाद्य पदार्थों से कैल्शियम को अवशोषित करने में मदद करने के लिए कहा जाता है, जो आगे हमारी हड्डियों, मांसपेशियों, दांतों और यहां तक कि नाखूनों को मजबूत करने में मदद करता है। इसके अलावा, विटामिन डी हमारी प्रतिरक्षा शक्ति को बनाए रखने में एक बड़ी भूमिका निभाता है, जो कि कोरोनावायरस को ध्यान में रखते हुए  इस समय बहुत महत्वपूर्ण है। यदि विटामिन डी COVID-19 को रोकने में मदद करता है, तो यह प्रभावित रोगियों के उपचार में भी मदद कर सकता है। 

vitamin d food ()

'प्लोवन' जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, शरीर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी होने से कोरोनावायरस के मरीजों में ऑक्सीजन की कमी की आवश्यकता को इफेक्ट कर सकती है. कोविड-19 एक श्वसन और प्रणालीगत रोग है,  जो गंभीर तीव्र श्वसन सिंड्रोम के कारण होता है। शोधकर्ताओं ने सीरम 25-हाइड्रोक्सीविटामिन डी के लेबल और इफेक्ट स्तरों और प्रतिकूल नैदानिक परिणामों पर इसके प्रभाव, और एसएआरएस-सीओवी-2 इंफेक्शन के कारण इम्यूनिटी और मृत्यु दर के मापदंडों के बीच के संबंध की जांच करने के लिए निर्धारित किया है। 

कविड-19 से संक्रमित कुल 235 रोगियों का अध्ययन किया गया. 74% रोगियों में गंभीर कोविड-19 के इंफेक्शन देखने को मिले 32.8% में विटामिन डी पर्याप्त थे। विटामिन डी की पर्याप्तता और रिड्क्शन में गंभीरता की कमी के बीच एक महत्वपूर्ण संबंध देखा गया। 40 वर्ष से अधिक उम्र के 9.7% मरीज जो विटामिन डी के 20% की तुलना में इंफेक्शन के कारण पर्याप्त रूप से पीड़ित थे, जिनके 25 (ओएच) डी 30 एनजीएमएल का परिसंचारी स्तर था. इसलिए, यह रिकमेंड किया जाता हैकि सामान्य आबादी और विशेष रूप से अस्पताल में भर्ती मरीजों में विटामिन डी की स्थिति में सुधार से रोग और मृत्यु दर की गंभीरता को कम करने में फायदा मिल सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें : विटामिन- D की कमी होने पर हमारा शरीर देने लगता है ये 5 संकेत, कभी न करें इग्नोर

इस बारे में बी एल के सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल की क्लीनिकल न्यूट्रीशनिष्ट मेघा जैन बता रही हैं कि विटामिन डी की शरीर में आपूर्ति के लिए कौन से फूड्स खाने चाहिए। 

मछली

vitamin d food ()

मछली में विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा मौजूद होती है। इसलिए इसके सेवन से शरीर में होने वाली विटामिन डी की कमी की पूर्ति की जा सकती है। ऑयली और फैटी फिश सैल्मन,ट्यूना में दूसरी फिश की तुलना में अधिक विटामिन डी पाया जाता है। 

Recommended Video

अंडा

vitamin d food ()

अंडा विटामिन डी का अच्छा स्रोत होता है। इसके सेवन से शरीर में होने वाली कमियों को पूरा किया जा सकता है। अंडे का पीला भाग जिसे आप फेंक देते हैं वास्तव में हेल्थ के लिए वही फायदेमंद होता है, क्योंकि उसमें विटामिन डी अच्छी मात्रा में पाया जाता है। 

इसे जरूर पढ़ें : जंक फूड से बचना है तो इन हेल्दी स्नैक्स को अपनाएं, वजन होगा जल्दी कम

मशरूम

vitamin d food ()

मशरूम स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है। ये एक हेल्दी वेजिटेबल है जिसमें विटामिन डी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसको खाने में इस्तेमाल करके खाने को अधिक टेस्टी और हेल्दी बना सकते हैं। 

साबुत अनाज

vitamin d food ()

साबुत अनाज के सेवन से शरीर में कई तरह के विटामिन्स की पूर्ती की जा सकती है। साबुत गेहूं, रागी, जौ, जई ये सभी साबुत अनाज हमें विटामिन डी की भरपूर मात्रा देने का काम करते हैं। ये शरीर में इम्यूनिटी को भी बढ़ाते हैं। 

डेयरी प्रोड्क्ट

vitamin d food ()

डेयरी प्रोडक्ट विटामिन डी का अच्छा स्रोत होते हैं। हेल्दी रहने के लिए अपनी डाइट में दूध, पनीर, दही और अन्य डेयरी प्रोड्क्ट की अधिक मात्रा हो शामिल करें। ये विटामिन डी की पूर्ती करने के साथ इम्यून सिस्टम को भी मजबूत बनाते हैं। 

सोया दूध और बादाम दूध

शरीर में विटामिन डी की मात्रा को ठीक रखने के लिए आप नियमित रूप से सोया दूध और बादाम दूध का सेवन करें।

उपर्युक्त खाद्य पदार्थों के सेवन से शरीर में होने वाली विटामिन डी की कमी को पूरा किया जा सकता है साथ ही प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाया जा सकता है। वैसे आप जहाँ तक संभव हो धूप  लेने की भी कोशिश करें क्योंकि सुबह की धूप  विटामिन डी का सबसे अच्छा स्रोत है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik