सर्पगंधा जिसे भारतीय स्नैकरूट भी कहा जाता है, एक बेहद ही स्वास्थ्यवर्ध पौधा है। विशेष रूप से, इसकी जड़ का उपयोग कई तरह की आयुर्वेदिक औषधि बनाने में किया जाता है। इतना ही नहीं, पारंपरिक आयुर्वेदिक चिकित्सा में कई वर्षों से इसका इस्तेमाल किया जा रहा है। दरअसल, इंडियन स्नैकरूट में एक रेसरपाइन नामक तत्व पाया जाता है, जो एक दवा की तरह काम करता है। हालांकि, आम लोगों को इस औषधि के बारे में कम ही जानकारी है। इसके सेवन से उच्च रक्तचाप से लेकर नींद ना आने की समस्या आदि को आसानी से मैनेज किया जा सकता है।

वहीं महिलाओं के लिए भी सर्पगंधा को बेहद फायदेमंद माना जाता है, क्योंकि यह महिलाओं में माहवारी के दौरान होने वाली कई तरह की समस्याओं को भी दूर करता है। हालांकि, सर्पगंधा का सेवन सीमित मात्रा में और सही तरह से करना बेहद ही आवश्यक है, अन्यथा इसके कई विपरीत परिणाम भी देखने को मिल सकते हैं। तो चलिए आज इस लेख में वुमन हेल्थ रिसर्च फाउंडेशन की प्रेसिडेंट डॉ नेहा वशिष्ट आपको बता रही हैं कि सर्पगंधा का सेवन किस-किस स्वास्थ्य समस्या में किया जा सकता है और इसे लेते समय किन नियमों का पालन करना चाहिए-

know  what  is  snakeroot

हाई बीपी में लाभदायक

उच्च रक्तचाप से आपके हृदय के लिए परेशानी खड़ी होती है। ऐसे में सर्पगंधा का सेवन करना लाभदायक होता है। इसके सेवन से ना केवल हृदय की गति को नियमित किया जा सकता है, बल्कि यह हाई ब्लड प्रेशर को भी कण्ट्रोल करता है। इसमें रिसर्पाइन जैसे रसायन होते हैं जो उच्च रक्तचाप के लिए इस्तेमाल की जाने वाली एक प्रिस्क्रिप्शन दवा है। अगर आपको हाई बीपी की समस्या है तो ऐसे में आप हर दिन 1-2 ग्राम सर्पगंधा पाउडर को पानी के साथ लें।

एंग्जाइटी को करें मैनेज

सर्पगंधा को एंग्जाइटी को मैनेज करने के लिए भी जाना जाता है। अगर आपको एंग्जाइटी की समस्या होती है तो ऐसे में आप 3-6 ग्राम सर्पगंधा पाउडर का सेवन कर सकते हैं। 

sarpgandha  and  its  benefits

अनिद्रा को करे दूर

बेहतर स्वास्थ्य के लिए अच्छी नींद लेना बेहद आवश्यक है। लेकिन अगर आपको अनिद्रा या अन्य स्लीपिंग डिसऑर्डर हैं तो ऐसे में आप सर्पगंधा का सेवन करें। चूंकि, यह तनाव को दूर करके आपकी मसल्स को रिलैक्स करता है, जिससे आपको एक बेहतर नींद मिलने में मदद होती है। अनिद्रा की समस्या को दूर करने के लिए आप हर दिन 3-6 ग्राम सर्पगंधा पाउडर का सेवन करें।

महिलाओं के लिए है रामबाण

वैसे तो सर्पगंधा कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करता है, लेकिन महिलाओं के लिए विशेष रूप से लाभकारी है। दरअसल, यह महिलाओं में माहवारी की समस्याओं को दूर करता है। अगर आपको अनियमित पीरियड्स, पीरियड्स की अवधि बहुत लंबी या कम होना, ब्लड क्लॉट्स की समस्या आदि होने पर महिलाओं को सर्पगंधा का सेवन करना चाहिए। आप सुबह-शाम गर्म पानी के साथ 4-5 ग्राम सर्पगंधा पाउडर का सेवन करें।

Sarpgandha  benefits

किड्नी प्रॉब्लम्स को करे दूर

अगर आपको किडनी संबंधी समस्या है तो ऐसे में बेहतर और हेल्दी किडनी के लिए आप हर दिन 1-2 ग्राम सुबह शाम सर्पगंधा पाउडर का सेवन करें।

इन बातों का रखें ध्यान

  • सर्पगंधा यूं तो एक बेहद ही कारगर औषधि है। लेकिन इसका सेवन करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। मसलन, 
  • सर्पगंधा की हमेशा निर्धारित मात्रा ही लेनी चाहिए। अगर इसकी ओवरडोज हो जाती है तो इसके कई साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं और आपकी सेहत को काफी नुकसान हो सकता है।
  • सर्पगंधा का सेवन करने से पहले एक बार एक्सपर्ट से परामर्श अवश्य लेना चाहिए। साथ ही मेडिकल हिस्ट्री चेक करने के बाद उसके अनुसार ही सर्पगंधा का सेवन करने की सलाह दी जाती है। 
  • तीन साल से कम उम्र के बच्चों को सर्पगंधा नहीं देनी चाहिए। वहीं 3-12 उम्र छोटे बच्चों को दिन में केवल बार ही सर्पगंधा का सेवन करना चाहिए।
  • अगर एक महिला प्रेग्नेंट हैं या फिर ब्रेस्टफीड करा रही है तो उसे भी सर्पगंधा का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • शराब के साथ कभी भी सर्पगंधा नहीं लेनी चाहिए या फिर अगर आप नियमित रूप से शराब पीते हैं तो भी आपको सर्पगंधा नहीं खानी चाहिए।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।