प्रेग्‍नेंसी में महिलाओं को अपनी डाइट पर विशेष ध्‍यान की जरूरत होती है क्‍योंकि महिलाएं जो कुछ भी खाती हैं उसका सीधा असर उसके होने वाले बच्‍चे पर पड़ता है। इसलिए उन्‍हें अपने साथ-साथ अपने होने वाली शिशु की हेल्‍थ का भी ध्‍यान रखना होता है। कीवी प्रेग्‍नेंट महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद होता है। कीवी विटामिन, मिनरल, फाइबर और कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्रोत है जो प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं की बॉडी के लिए बहुत अच्‍छी होती है। इस बारे में जानने के लिए हमने शालीमार स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल की डा‍इटिशियन सिमरन सैनी से बात की तब उन्‍होंने हमें प्रेग्नेंसी के दौरान कीवी के हेल्‍थ बेनिफिट्स के बारे में बताया। आइए हमारे साथ आप भी जानें।

इसे जरूर पढ़ें: Why Should You Treat Yourself To Kiwis Often?
 
डा‍इटिशियन सिमरन सैनी का कहना हैं कि ''कीवी को पोषण का पावरहाउस कहा जाए तो गलत नहीं होगा। इसमें फाइबर, पोटेशियम, फोलिक एसिड, विटमिन सी और ई, एंटीऑक्‍सीडेंट के अलावा तमाम मिनरल से भरपूर होता हैं। प्रेग्‍नेंट महिला को प्रेग्‍नेंसी के दौरान इन्‍हीं पोषक तत्‍वों की जरूरत होती है और अगर ये एक ही फल से मिल जाएं तो कहना ही क्‍या। जी हां कीवी विटामिन सी से भरपूर और शुगर और फैट में लो होने के कारण इसे प्रेग्‍नेंसी में खाना बहुत ही फायदेमंद होता है। दिन में 2 कीवी खाना प्रेग्‍नेंसी में पूरी तरह से सेफ है। इसमें फोलेट होता है जो बच्‍चे के ब्रेन विकास में हेल्‍प करता है। स्‍वाद में अच्‍छा होने के कारण प्रेग्‍नेंट महिलाएं इसे खाना बेहद पसंद करती हैं।''

pregnant eating inside

नार्वे की यूनिवर्सिटी ऑफ ओस्‍लो में हुए एक रिसर्च के अनुसार एक दिन में दो कीवी खाने से न केवल ब्‍लड क्‍लॉट घोलने में मदद मिलती है बल्कि ब्‍लड में फैट की मात्रा भी कम होती है। इस तरह यह हार्ट को हेल्‍दी रखने में मददगार फल है। इस फल को सलाद के तौर पर लिया जा सकता है। इसका जूस बनाया जा सकता है या दही के साथ मिलाकर खाया जा सकता है।

बच्‍चे के ब्रेन विकास के लिए

प्रेग्‍नेंट महिलाओ को भ्रूण के समुचित विकास के लिए प्रतिदिन 400 से 800 माइक्रोग्राम फोलिक एसिड की जरूरत होती है। चूंकि कीवी फल फोलेट का अच्‍छा सोर्स है इसलिए प्रेग्‍नेंसी की शुरुआत में इसे खाना फायदेमंद साबित हो सकता है। इसे खाने से गर्भस्‍थ शिशु के ब्रेन का अच्‍छा विकास होता है।

pregnant eating kiwi inside

विटामिन-सी का भंडार

कीवी विटामिन सी का एक अच्छा स्रोत होता है। इसमें केले से ज्‍यादा पोटैशियम और संतरे से ज्‍यादा विटामिन सी होता है। विटामिन-सी बच्चे के विकास के लिए अच्छा होता है। कीवी न्यूरोट्रांसमिटर को बनाता है जो ब्रेन को सही तरह से काम करने में हेल्‍प करता है। इसके अलावा विटामिन-सी प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले स्ट्रेच मार्क्स को भी कम करता है।

डाइजेशन के लिए बेहतर

कब्ज और एसिडिटी की समस्या प्रेग्नेंसी के दौरान बहुत होती है, जिसे कीवी खाने से ठीक किया जा सकता है। कीवी में एंजाइम्स और फाइबर होता है जो पेट से जुड़ी समस्या जैसे कब्ज, दस्त और एसिडिटी से राहत दिलाता है और साथ डाइजेशन को मजबूत बनाता है।

इसे जरूर पढ़ें: एंटीऑक्‍सीडेंट का पावर हाउस है कीवी, एंटीएजिंग

pregnant eating kiwi inside

इम्यून सिस्टम को बूस्‍ट करें

कीवी एंटीऑक्सीडेंट का एक अच्छा स्रोत होता है, जो भ्रूण में आरएनए और डीएनए की रक्षा करता है और उन्हें डैमेज होने से भी बचाता है। इसके अलावा यह फ्री-रेडिकल्स से भी लड़ने में हेल्‍प करता है। कीवी में पाए जाने वाले पोषक तत्व इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में हेल्‍प करते है। यह सेल्स को ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से भी बचाता है।

तो देर किस बात की अगर आप भी प्रेग्‍नेंट हैं तो अपनी और अपने बच्‍चे की हेल्‍थ के लिए डाइट में कीवी को शामिल करें।

Image Courtesy: unsplash.com & poradnikzdrowie.pl