लगभग हर वह उपाय जिसमें शहद का इस्तेमाल होता है, इसे हेल्दी और नेचुरल शक्ति से भरपूर माना जाता है। दूसरी ओर दालचीनी एक टेस्टी मसाला है, जिसके अपने कई तरह के हेल्थ बे‍निफिट्स होते है। जी हां ये बात तो हम जानते ही है कि शहद और दालचीनी हमारी हेल्थ के लिए कितनी फायदेमंद होती है। लेकिन क्या आप जानती हैं कि अगर इन दोनों को मिला लिया जाए तो यह आपकी बॉडी के लिए किसी जादुई उपाय की तरह काम करता है। दालचीनी और शहद को मिलाकर खाने से ये आपके दिल, पेट, हड्डियों और यहां तक आपकी इम्यून सिस्टम के लिए भी अच्छा होता है। मैं भी अपनी हड्डियों में दर्द से बचने के लिए इन दोनों को मिलाकर खाती हूं। इसके लिए मैं एक चम्‍मच शहद में दो चुटकी दालचीनी मिलाती हूं। हालांकि कुछ महिलाओं को लगता हैं कि शहद गर्म होता है इसलिए इसका इस्‍तेमाल गर्मियों में नहीं करना चाहिए। लेकिन ऐसा बिल्‍कुल भी नहीं है, आप गर्मियों में भी शहद की 1 चम्‍मच खा सकती हैं। आइए इस आर्टिकल के माध्यम से दोनों को मिलाकर खाने के हेल्थ‍ बेनिफिट्स के बारे में जानें।  

इसे जरूर पढ़ें: सुबह खाली पेट शहद में डूबा हुआ लहसुन खाएं और बीमारियों से मुक्ति पाएं

हार्ट प्रॉब्लम्स
cinnamon honey for healthy heart 

नाश्ते में ब्रेड पर शहद और दालचीनी लगाकर खाने से आपका हार्ट हेल्दी रहता है। दालचीनी और शहद को रेगुलर खाने से दिल मजबूत होता है और ये आपकी ब्लड वेसल्स को पुनर्जीवित करता है, जिससे हार्ट अटैक की संभावना कम होती है। लेकिन अगर आप ब्लड को पतला करने वाली दवाएं ले रही हैं तो अपने डॉक्टर से परामर्श के बाद ही दालचीनी का सेवन रेगुलर करें। क्योंकि इसमें कैमारिन नामक तत्व होता है जो ऐसी दवाओं की शक्ति को प्रभावित कर सकता है। साथ ही दालचीनी के अधिक सेवन से इस तत्व के कारण लिवर को नुकसान हो सकता है।

कोल्ड एंड फ्लू दूर भगाए

क्या हर बार मौसम बदलने पर आपको छींक और खांसी होती है? अगर ऐसा अगली बार हो तो भर-भरके दवाएं खाने की बजाय प्राकृतिक उपायों को चुनें। जो बिना किसी साइड इफेक्ट के आपको ठीक करती है। जी हां 1 चम्मच शहद में 1/4 चम्मच दालचीनी मिलाएं और इसे दिन में दो बार खाएं फिर देखें जादू। यह कोल्ड एंड कफ का शक्तिशाली उपाय कैसे अच्छी तरह से दर्दनाक साइनस का ख्याल रखता है। दालचीनी और शहद दोनों ही बॉडी को गर्म करने के लिए जाने जाते हैं इसलिए इनकी खुराक लेने से साइनस को साफ करने में हेल्प मिलती है और इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट इंफेक्शन को दूर रखने में हेल्प करते हैं। अगर आप घर बैठे अपने लिए शुद्ध शहद खरीदना चाहती हैं तो शहद के 600 ग्राम के डिब्‍बे का मार्केट प्राइस 199 रुपये है, लेकिन इसे आप यहां से 193 रुपये में खरीद सकती हैं

अर्थराइटिस के दर्द से लड़ें
cinnamon honey for arthritis pain

जोड़ों में दर्द से परेशान हैं? तो शहद और दालचीनी जैसे शक्तिशाली उपाय को चुनें। इसके लिए 1 कप गर्म पानी लें और उसमें आधा चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाएं। अब इसमें 1 बड़ा चम्मच शहद मिलाएं और अच्छे से मिक्स करें। अर्थराइटिस के कारण होने वाली सूजन और दर्द को ठीक करने के लिए रेगुलर से इस औषधि को पीएं और दो हफ्ते के बाद असर देखें। 2018 में किए गए एक अध्ययन के अनुसार, सी- रि‍एक्टिव प्रोटीन सीरम का लेवल उन महिलाओं में कम हो गया था जिन्हें दालचीनी कैप्सूल दिया गया था क्योंकि यह एंटीऑक्सीडेंट के लिए जाना जाता है और एक एंटीइंफ्लेमेटरी प्रभाव है क्योंकि यह इम्यून सेल्स में न्यूएक्लीयर फैक्टर -κB सक्रियण को रोकता है। जोड़ों के दर्द के लिए आप Mesmara Cinnamon Bark Essential Oil इस्‍तेमाल कर सकती हैा। यह शुद्ध तेल मार्केट में 400 रुपये में मिलता है। लेकिन इसे आप यहां से सिर्फ 240 रुपये में खरीद सकती हैं। 

इम्यूनिटी को बढ़ावा दें

अपनी बॉडी को दालचीनी-शहद कॉम्बो के साथ आप एक मजबूत इम्यूनिटी का गिफ्ट दें जो आपकी बॉडी को रोग पैदा करने वाले बैक्टीरिया और वायरस के खिलाफ लड़ने में मदद करता है। फिट रहने के लिए बस एक गिलास गर्म पानी के साथ इसे लें। इसके अलावा दालचीनी में मौजूद Cinnamaldehyde,  नामक तत्‍व एक एंटी-कार्सिनोजेनिक प्रभाव के लिए भी जाना जाता है। शहद फ्री रेडिकल्स को हटाने में भी मदद करता है, इस प्रकार आपकी बॉडी की हेल्थ को बूस्ट करता है। लेकिन इस उपाय का इस्तेमाल सर्दियों में ज्यादा अच्छा रहता है।

सांसों की बदबू दूर करें

सांसों की बदबू का मुकाबला करने के लिए दालचीनी और शहद की मीठी गंध से बेहतर भला और क्या हो सकता है? अगर आप इस समस्या से परेशान हैं तो दालचीनी के स्वाद वाले च्युइंग गम को चबाना शुरू करें। आप गर्म पानी के साथ दालचीनी और शहद को मिलाकर एक टेस्टी लिक्विड माउथवॉश भी बना सकती हैं। इससे न केवल आपको पूरा दिन तरोताजा महसूस होगा और दांत दर्द में भी आराम मिलेंगे।

खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करें
cinnamon honey for cholesterol level

धमनियों में खराब कोलेस्ट्रॉल या एलडीएल के निर्माण को कम करने के लिए आप इसका इस्‍तेमाल रोजाना कर सकती हैं। अध्ययनों में, दालचीनी को ब्लड प्रेशर और ट्राइसीराइड्स को कम करने वाला सबसे अच्छा उपाय बताया गया है। दूसरी ओर, शहद एंटीऑक्सीडेंट माइक्रोन्यूट्रिएंट्स, पॉलीफेनोल्स और फ्लेवोनोइड्स से भरपूर होता है जो बॉडी में सूजन और एलडीएल को कम करता है। 2003 के सर्वेक्षण के अनुसार, रोजाना 1-6 ग्राम दालचीनी लेने से टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों में, ब्लड शुगर लेवल में 20 प्रतिशत की कटौती हुई और कोलेस्ट्रॉल में 18 प्रतिशत की कमी आई।

इसे जरूर पढ़ें: बाजार में मिलता है नकली शहद, ऐसे करें असली शहद की पहचान
 
अगर आप भी इन सभी समस्याओं से बचना चाहती हैं तो अपने रुटीन में दालचीनी और शहद को शामिल करें। लेकिन ध्यान रहें कि इसे लेने से पहले आप अपने डॉक्टर से जरूर सलाह ले लें। हर एक नुस्खा हर किसी के लिए नहीं बना होता है क्योंकि सभी की बॉडी अलग-अलग होती है।