किसी भी सब्जी का स्वाद उसकी ग्रेवी से बढ़ता है। कुछ लोग पतली तो कुछ थिक ग्रेवी पसंद करते हैं, यह सब कुछ च्वाइस पर निर्भर करता है। हालांकि, कुछ लोगों की शिकायत होती है कि बिना प्याज और लहसुन के ग्रेवी अच्छी नहीं बनती है। वहीं कुछ लोगों का मानना है कि चाहे कुछ भी मिला लो ग्रेवी परफेक्ट नहीं बन पाती है। बता दें कि ग्रेवी बनाने का भी एक फार्मूला है। इस दौरान आप अगर कुछ गलतियां कर दें, तो लाख इंग्रेडिएंट्स मिक्स करने के बावजूद भी ग्रेवी अच्छी नहीं बन पाती।

सब्जी की ग्रेवी अगर परफेक्ट नहीं बन पाई तो सारी मेहनत बेकार हो जाती है। कुछ ग्रेवी को थिक करने के लिए स्टार्च या फिर अन्य इंग्रेडिएंट्स को मिक्स कर देते हैं, जबकि आपको ऐसा कुछ करने की आवश्यकता नहीं। आप लिमिटेड चीजों के जरिए भी परफेक्ट ग्रेवी बना सकती हैं, लेकिन इसके लिए तरीका सही होना चाहिए। ऐसे में आज हम बात करेंगे उन गलतियों के बारे में जो ग्रेवी बनाते वक्त नहीं किया जाना चाहिए।

ठंडे पानी का इस्तेमाल

cold water for gravy

कुछ सब्जियां ऐसी होती हैं,जो पकाते वक्त पानी छोड़ती हैं। ऐसी स्थिति में आपको पानी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, कोशिश करें कि सब्जियों के पानी में ही उसे पकाया जाए। इसके अलावा अगर आपको लग रहा है सब्जी में पानी डालने की आवश्यकता है तो गुनगुने या फिर गर्म पानी का इस्तेमाल करें। ऐसा करने से सब्जी का स्वाद खराब नहीं होगा, इसके अलावा सब्जियां जल्दी पक कर तैयार भी हो जाएंगी। वहीं पानी डालने में भी जल्दी ना करें, जब सब्जियां अच्छी तरह भून लें, तब पानी मिक्स करें।

ग्रेवी को कुछ देर तक पकाएं

cooking tips for gravy

कई बार हमें ग्रेवी की टेक्सचर थिक नजर आने लगती है, जिसके बाद हम तुरंत गैस बंद कर देते हैं। ऐसा नहीं करना चाहिए, कोशिश करें कि ग्रेवी को कुछ देर तक पकाया जाए। शुरुआत में मसालों को भूनने के बाद सब्जियों को कुछ देर भूनें। दोनों चीजें जब कढ़ाही में चिपकने लगे तो पानी का इस्तेमाल करें। शुरुआत में पानी की मात्रा अधिक रखें, इतना की सारी सब्जियां उसमें आसानी से डिप हो जाए। अब इसे करीब 10 से 12 मिनट तक पकने दें। जितनी देर आप अपनी सब्जियों को ग्रेवी के साथ पकाएंगी उतना ही स्वाद बढ़ेगा। जल्दी गैस बंद करने के चक्कर में ना रहें।

इसे भी पढ़ें:Kitchen Tips: बरसात में सूजी को कीड़ों से दूर रखने के उपाय

एक बार में ना डाले नमक

ज्यादातर लोग सब्जियों को भूनते वक्त ही नमक डाल देते हैं, जो गलत नहीं है, लेकिन अगर आप ग्रेवी रखना चाह रही है तो एक बार में नमक ना डालें। सब्जी के हिसाब से नमक की मात्रा को शुरुआत में आधा कर दें। जब ग्रेवी पकाने का समय में आए तब उसमें थोड़ा और नमक डालकर पकाएं। इससे दो फायदे होंगे, पहला नमक कभी तेज नहीं होगा और दूसरा ग्रेवी का स्वाद बढ़ जाएगा।

Recommended Video

ग्रेवी ढक कर ना पकाएं

thick gravy

जब आपकी सब्जी पक चुकी है, लेकिन ग्रेवी में आप कंफ्यूज हैं तो कढ़ाही को ढक कर ना पकाएं। कढ़ाही को खुला रखें और लगातार चलाते रहें। ध्यान रखें कि सिर्फ नमक का स्वाद ही नहीं कभी-कभी जलने का स्वाद भी ग्रेवी के टेस्ट को खराब कर देताहै। अगर सब्जी अभी पकी नहीं और उसमें ग्रेवी(ग्रेवी रेसिपी) भी है तो भी उसे ढककर ना पकाएं। इसके बजाय आप कढ़ाही पर एक प्लेट रख दें, लेकिन वह पूरी तरह ढका नहीं होना चाहिए। ध्यान रखें कि बीच-बीच में आपको चलाते भी रहना है।

इसे भी पढ़ें: कबाब के शौक़ीन हैं तो बनाएं इन बेस्ट रेसिपीज को, करेंगे सभी पसंद

आखिर में मसाला डालने की गलती ना करें

mix spices in gravy

कई बार हम खुशबू के लिए मसाला पाउडर आखिर में डालते हैं, जो कि सही नहीं है। अगर आपको मसाला डालना है तो सिर्फ गरम मसाला मिक्स करें, वह भी उचित मात्रा में। सभी मसालों को शुरुआत में ही डालकर अच्छी तरह पकाना होता है, आखिर में डालने से सब्जी का स्वाद खराब हो जाएगा। वहीं ग्रेवी को थिक बनाने के चक्कर में बेवजह चीजों को मिक्स ना करें। कोशिश करें सीमित मात्रा में ही यह बनकर तैयार हो जाए।

उम्मीद है कि ये कुकिंग टिप्स आपको परफेक्ट और स्वादिष्ट ग्रेवी बनाने में मदद करेगी। साथ ही, अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।