• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

क्या सच में अवध के नवाबों को परोसी गई थी निहारी? जानें इससे जुड़े रोचक किस्से

क्या आप जानते हैं कि निहारी बनाने की शुरुआत कब हुई थी? इसे सबसे पहले किसकी थाली में परोसा गया था? अगर नहीं, तो आइए जानते हैं। 
author-profile
Published -05 Aug 2022, 15:40 ISTUpdated -05 Aug 2022, 16:00 IST
Next
Article
Know About History of Nihari

भारत में न सिर्फ कई राजाओं का शासन रहा है बल्कि कई ऐसे व्यंजन भी रहे हैं, जिन्हें राजाओं व नवाबों की थाली में परोसा जाता था जैसे- मुगल बादशाहों और नवाबों के व्यंजन आदि। हालांकि, जब भी हम मुगल या फिर शाही पकवानों की बात करते हैं तो यकीनन हमारे दिमाग में कबाब, बिरयानी, नरगिसी कोफ्ते, कोरमा आदि। लेकिन कोरमा के अलावा निहारी भी काफी पसंद की जाती है, जिसे मटन या फिर मीट की मदद से तैयार किया जाता है। 

हालांकि, निहारी को कई लोग अवध तो कई लोग मुगलई व्यंजन कहते हैं, लेकिन आज इसे आज दिल्ली, लखनऊ और पाकिस्तान में डिफरेंट तरीके से बनाकर तैयार किया जाता है। तो चलिए आज हम आपको इस लेख में निहारी से जुड़े रोचक तथ्यों के बारे में बताते हैं।  

कैसे अस्तित्व में आई निहारी?

Nihari Famous of which state

निहारी के अस्तित्व को लेकर कई इतिहासकारों में मतभेद है, लेकिन निहारी का संबंध अवध से है। क्योंकि इसे पहली बार 18वीं शताब्दी के अंत में मुगल साम्राज्य के अंतिम दौर में अवध में बनाया गया था। इसके बाद इसे नवाबों की थाली में परोसा जाने लगा था। बता दें कि निहारी को अरबी भाषा में नाहर कहा जाता है, जिसे कई नली के साथ खाना पसंद करते हैं। (9 ट्रेडिशनल मुगलई फूड्स)

इसे ज़रूर पढ़ें- ताजमहल के उद्घाटन में क्या सच में शाहजहां को परोसा गया था कोरमा? जानें इससे जुड़े रोचक किस्से

नाश्ते में परोसा जाता था

कहा जाता है कि निहारी को नवाब और मुगल बादशाह नाश्ते में खाते थे। लेकिन कई जगह उल्लेख मिलता है कि निहारी ज्यादातर सिपाही लोग खाते थे। क्योंकि इसका सेवन करने से न सिर्फ ऊर्जा आती है बल्कि शरीर को गर्म करने के लिए भी करते थे।  

Recommended Video

अवध में अकाल के दौरान था प्रमुख व्यंजन

nihari recipe

बता दें कि कई इतिहासकारों का मानना है कि निहारी को सबसे तक बनाया गया था जब अवध में अकाल पड़ा था। इसे अवध के नवाबों ने लोगों के लिए बनाई थी। कहा जाता है कि यह वही दौर था जब अवध में इमामबाड़ा का निर्माण किया गया था।

आज निहारी आज पुरानी दिल्ली में काफी फेमस है, जिसे तंदूरी रोटी के साथ सर्व किया जाता है। इसे कई तरह से बनाकर तैयार किया जाता है, कुछ लोग मटन की निहारी, कुछ लोग मीट की निहारी खाना पसंद करते हैं। (मुगल साम्राज्य के पारंपरिक व्यंजनों के बारे में जानें)

इसे ज़रूर पढ़ें- मटन निहारी की रेसिपी बनाने का तरीका

आपको निहारी किस स्टाइल में ज्यादा पसंद है, हमें भी कमेंट कर बताएं। साथ ही अगर आपको यह निहारी के इतिहास के बारे में यह जानकारी पसंद आई तो इसे लाइक और शेयर करें। इस तरह पकवानों के रोचक किस्सों के लिए पढ़ते रहें हरजिंदगी। 

Image Credit- (@Freepik) 

 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।