दुनियाभर की सांस्कृतिक विरासत का जश्न मनाने के लिए हर साल 18 अप्रैल को World Heritage Day सेलिब्रेट किया जाता है। इंटरनेशनल काउंसिल ऑन मॉन्यूमेंट्स एंड साइट्स (ICOMOS) के प्रयासों से यह दिन सेलिब्रेट करने की शुरुआत हुई थी। हमारे देश में कई ऐसे ऐतिहासिक स्थल हैं, जो वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स की लिस्ट में शुमार हैं। आज का दिन इसलिए भी सेलिब्रेट किया जाता है, ताकि हम अपनी सांस्कृतिक धरोहरों के संरक्षण के लिए जागरूक रहें। भारत में हंपी से लेकर ताजमहल तक 39 ऐसी साइट्स हैं, जो वर्ल्ड हेरिटेज लिस्ट में शुमार हैं। World Heritage Day 2020 आज दुनियाभर में मनाया जा रहा है, इस मौके पर आइए देश के 5 ऐसे ही बेहतरीन ऐतिहासिक स्थलों के बारे में जानते हैं-

नालंदा महावीरा, बिहार

know about best World Heritage

नालंदा 5वीं सदी में भारत की एक चर्चित यूनिवर्सिटी हुआ करती थी। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि यह केंद्र 800 सालों तक चलता रहा और इसने दुनियाभर के छात्रों को शिक्षा प्रदान की। यूनेस्को वेबसाइट के अनुसार इस हेरिटेज साइट से ऐसे प्रमाण मिले हैं, जो बताते हैं कि यहां बौद्ध धर्म का प्रसार हुआ था और यहां शैक्षणिक परंपराओं का विकास हुआ था। 

इसे जरूर पढ़ें: इन चर्चित रानियों की वजह से फेमस हुए ये किले और महल

काजीरंगा वाइल्ड लाइफ सैंक्चुअरी, असम

kajiranga national park

असम की काजीरंगा वाइल्ड लाइफ सैंक्चुअरी ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे 42,996 एकड़ में फैली हुई है। 1974 में इसे नेशनल पार्क घोषित किया गया था। यहां पर एक सींग वाले गेंडे बड़ी संख्या में देखने को मिलते हैं। साल 1985 में इस जगह को वर्ल्ड हेरिटेज साइट में शुमार किया गया था। 

इसे जरूर पढ़ें: भारत की वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स के बारे में कितना जानती हैं आप?

हुमायूं का मकबरा, दिल्ली

humayun tomb delhi

हुमायूं के मकबरे का इतिहास 1572 ईस्वी में मिलता है। मुगल बादशाह हुमायूं बाबर के बेटे थे। बाबर ने भारत पर कई आक्रमण किए थे और सभी में जीत हासिल की थी। बाद में बाबर यहीं बस गए थे। हुमायूं ने अपने पिता की विरासत को संभाला था और उनके बेटे अकबर ने भारत में उत्तर से लेकर दक्षिण तक विस्तार किया था। हुमायूं के समय के प्रसिद्ध मकबरे की बात करें, तो यह इमारत भारत में ताजमहल से पहले बनी थी और इसके 100 साल बाद ताजमहल बना। इस मकबरे के ऐतिहासिक महत्व को देखते हुए इसे साल 1993 में वर्ल्ड हेरिटेज मॉन्यूमेंट का दर्जा दे दिया गया था। 

Recommended Video

चंपानेर पावागढ़ आर्कियोलॉजिकल पार्क, गुजरात

best World Heritage india

चंपानेर पावागढ़ आर्कियोलॉजिकल पार्क का इतिहास 8वीं सदी से लेकर 14वीं सदी के बीच मिलता है। यह स्थल साल 2004 में वर्ल्ड हेरिटेज साइट में शुमार किया गया था। यह जगह अपने इतिहास और सांस्कतिक पहचान के लिए जानी जाती है। 

आगरा का ताजमहल

आगरा का ताजमहल विश्वप्रसिद्ध है। सफेद संगमरमर की इस इमारत का निर्माण मुगल शासक शाहजहां ने अपनी पत्नी मुमताज महल की याद में कराया था। 17 हेक्टेयर में फैला यह मकबरा अपने आर्कीटेक्टर के लिए जाना जाता है। इस इमारत के निर्माण में 20,000 से ज्यादा मजदूर लगाए गए थे और यह 22 वर्षों में बनकर तैयार हुआ था। इस दौरान 1000 हाथियों पर संगमरमर के पत्थर एक जगह से दूसरी जगह ले जाने का काम किया जाता था। 

All Images Courtesy: Pinterest