साल भर से ऊपर हो चुका है और अब इंटरनेशनल ट्रैवल करना जैसे एक लग्जरी बन चुका है। भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण कई देशों ने भारतीयों की आवाजाही में प्रतिबंध लगा दिया था। विदेश यात्रा के लिए तरस रहे लोगों को लिए ये साल भी बड़ा भारी रहा है। हालांकि शुरुआती समय में मामलों की संख्या कम देखते हुए कुछ देशों ने भारतीय पर्यटकों के लिए रास्ते खोल दिए हैं।

इस बीच अब भी कुछ ऐसे देश हैं, जहां वीजा की उपलब्धता और हवाई यात्रा की अनुमति भिन्न हो सकती है। मगर फिर भी आप विशेष मामलों के तहत वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं। कुछ यूरोपियन देश भारतीयों को टूरिस्ट वीजा जारी कर रहे हैं।  ये कौन-से देश हैं और इस बारे में अधिक जानकारी के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। 

द नीदरलैंड्स

the netherlands issuing visa to indians

आपको बता दें कि नीदरलैंड भारतीयों को वीजा जारी कर रहा है, लेकिन वह केवल ब्लू कार्पेट, सीमैन और री-एंट्री वीजा स्वीकार कर रहा है। आप मुंबई, चेन्नई, हैदराबाद और बेंगलुरु से आवेदन कर सकते हैं। नीदरलैंड ने 1 जून, 2021 से भारतीय यात्री उड़ानों पर प्रतिबंध हटा लिया था। वैक्सीनेटेड और नॉन-वैक्सीनेटेड ट्रैवलर्स नीदरलैंड जा सकते हैं, मगर उन्हें कोविड-19 की नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट ले जानी होगी। इसके साथ वहां पहुंचने पर क्वारंटाइन के नियम फॉलो करने होंगे।

डेनमार्क

denmark issuing visa to indians

क्या आप डेनमार्क की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं? तो आपको वीजा के लिए भी अप्लाई कर देना चाहिए। एंबेसी की वेबसाइट के मुताबिक, भारतीय यात्रियों के लिए सभी शॉर्ट और लॉन्ग टर्म वीजा उपलब्ध हैं। आप नई दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, चेन्नई, हैदराबाद, कोच्चि और बेंगलुरु से वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं। यात्रा करने से पहले, डेनमार्क के वर्तमान प्रवेश प्रतिबंधों और आवश्यकताओं के लिए 'प्रवेश आवश्यकताएं' सेक्शन को जरूर देखें।डेनमार्क में प्रवेश करने वाले व्यक्ति को अनिवार्य टेस्टिंग और आइसोलेशन रूल्स फॉलो करने पड़ सकते हैं।

जर्मनी

germany issuing visa to indians

जर्मनी एक ऐसा अन्य देश है जो भारतीयों को वीजा जारी कर रहा है लेकिन अगर आप फैमिली रीयूनियन के लिए जा रहे हैं तो ही आपका डी- कैटेगरी का वीजा स्वीकार होगा। इसके अलावा कांसुलेट अप्रूवल वाले सी-वीजा को भी मंजूरी मिल रही है।  आप सी और डी कैटेगरी के लिए वीजा का आवेदन दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, हैदराबाद, कोच्चि और बेंगलुरु से कर सकते हैं। इसके साथ ही ट्रैवल करने के दौरान एयरलाइन को नेगेटिव टेस्ट रिजल्ट, वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट और रिकवरी सर्टिफिकेट प्रदान करना होगा। पीसीआर टेस्ट 72 घंटे से पहले का नहीं होना चाहिए, वहीं एंटीजन 48 घंटे से पहले का नहीं होना चाहिए।

इसे भी पढ़ें : ये 5 देश पर्यटकों को ऑफर कर रहे हैं कोविड-19 की वैक्सीन, आप भी जानें

पोलैंड

poland issuing tourist visa to indians

सेंट्रल यूरोप के इस देश में अगर घूमने की इच्छा है, तो अब तैयार हो जाइए, क्योंकि यह देश भी भारतीयों के लिए अपने दरवाजे खोल चुका है। आपको जानकर खुशी होगी कि पोलैंड भारतीय यात्रियों को लॉन्ग-टर्म वीजा जारी कर रहा है। आप वीजा के लिए आवेदन मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, चेन्नई, नई दिल्ली और कोलकाता से कर सकते हैं। अगर आपके पास वैक्सीन सर्टिफिकेट है, तो आपको कंपलसरी क्वारंटाइन में छूट मिल सकती है। इसके अलावा पोलैंड के लिए ट्रैवल करने के लिए आपको आरटी-पीसीआर टेस्ट की आवश्यकता नहीं है। कुछ ट्रैवलर्स को 10 दिनों के लिए क्वारंटाइन जरूरी हो सकता है।

इसे भी पढ़ें : क्या है Vaccine Passport, जिसके बिना विदेश यात्रा में पड़ सकता है खलल? जानें

इस समय कई वीएफएस ग्लोबल सेंटर लॉक डाउन प्रतिबंधों के कारण अस्थायी रूप से बंद हैं, भोपाल, कोयंबटूर, गुरुग्राम, लखनऊ, गोवा और तिरुवनंतपुरम में, आप वीज़ा एट योर डोर स्टेप सेवा का लाभ उठा सकते हैं। आपको बस इतना करना है कि आवेदन जमा करें, बायोमेट्रिक में नामांकन करें और पासपोर्ट को वापस कुरियर करवा लें।

Recommended Video

इसके साथ ही ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, फ्रांस, इटली और तुर्की अन्य ऐसी यूरोपियन कंट्री हैं, जो वीजा जारी कर रही हैं। अब आपका विदेश घूमने का सपना भी पूरा हो सकता है। इन देशों की ऑफिशियल वेबसाइट्स में जाकर आप अन्य जरूरी डिटेल्स और जानकारी पा सकते हैं। हमें उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। ट्रैवल से जुड़े ऐसे लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

Image Credit: unsplash