हम सभी जानते हैं कि कोरोना ने बाकी क्षेत्रों की तरह ट्रैवल इंडस्ट्री को भी बुरी तरह से प्रभावित किया है। वहीं, भारत में बढ़ते मामलों को देखते हुए कई देशों ने भारतीय पर्यटकों की आवाजाही पर रोक लगा दी थी। हालांकि लॉकडाउन में ढील होने के साथ-साथ ही कुछ-कुछ देशों ने यह पाबंदी भी हटा दी है। अब आप उन देशों में ट्रैवल कर सकते हैं, मगर आपको कुछ नियमों का पालन भी करना होगा। कुछ देशों में अभी भी क्वारंटाइन पीरियड लागू किया हुआ है, तो कहीं कोविड नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना आवश्यक है। इन गाइडलाइन्स के साथ ही वैक्सीन की अनिवार्यता भी है।

इस बीच ऐसे कुछ देश सामने आए हैं, जो अपने यहां आने वाले टूरिस्ट्स को वैक्सीन ऑफर भी कर रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि यह पर्यटकों को लुभाने का तरीका है, तो कुछ इसे फायदे के रूप में देख रहे हैं। वजह जो भी है, लेकिन यह वाकई काबिल-ए-तारीफ है कि अब आप इन देशों में घूमने के साथ-साथ वैक्सीन भी लगवा सकेंगे। आइए ऐसे ही कुछ देशों के बारे में जानें।

यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका

america offer vaccine to tourists

अमेरिका ने अपनी रेजीडेंसी रिक्वायरमेंट्स को खत्म कर दिया है और वे पर्यटकों को टीका लगाने के लिए तैयार हैं। न्यूयॉर्क सिटी पहले से ही यात्रियों को टाइम्स स्क्वायर, हाई लाइन, ब्रुकलिन, और सेंट्रल पार्क जैसे लोकप्रिय स्थानों पर फाइजर-बायोएनटेक या मॉडर्ना की पहली खुराक की पेशकश कर रहा है। वहीं पर्यटन को प्रोत्साहित करने के लिए इस सूची में अब एरिज़ोना, फ्लोरिडा, लुइसियाना और टेक्सास राज्य भी शामिल हो गए हैं। अलास्का स्वास्थ्य और सामाजिक सेवा विभाग में पब्लिक हेल्थ के निदेशक, हेइडी हेडबर्ग ने एक स्टेटमेंट में कहा, 'जो कोई भी अलास्का में या उसके माध्यम से यात्रा कर रहा है, वह अगर चाहे तो टीकाकरण करवा सकता।'

अबू धाबी

abu dhabi offers vaccine to tourists

अबू धाबी, एक अन्य प्रसिद्ध पर्यटन स्थल और संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी, पर्यटकों को फाइजर और सिनोफार्म जैसी फ्री कोविड-19 वैक्सीन ऑफर कर रहा है। यदि आपने अभी तक अपना टीकाकरण नहीं करवाया है और फाइजर वैक्सीन लगाने का इंतजार कर रहे हैं, तो आप अपने पासपोर्ट विवरण का उपयोग करके उनके स्वास्थ्य ऐप पर अपना अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं। आपको टीकाकरण केंद्र पर प्रवेश वीजा या प्रवेश टिकट दिखाना होगा। आपको बता दें कि अब तक संयुक्त अरब अमीरात की पूरी आबादी के 6 प्रतिशत से अधिक लोगों को कोविड-19 वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

बाली, इंडोनेशिया

bali is offering covid vaccine to tourists

बाली ने भी विदेशी पर्यटकों को चीनी सिनोवैक वैक्सीन और ब्रिटिश एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की पेशकश टूर पैकेज के माध्यम से करना शुरू कर दिया है जिसमें टीकाकरण शामिल है। यह योजना इंडोनेशियाई पर्यटन और रचनात्मक अर्थव्यवस्था मंत्रालय द्वारा बनाया गया था। उसी समय, इंडोनेशियाई एयरलाइन Garuda (GIAA.JK) ने यात्रियों को मुफ्त कोविड-19 टीकाकरण शुरू किया था। इसमें  20 यात्रियों ने पहले ही दिन सिनोवैक वैक्सीन का लाभ उठाया था। अब तक, इंडोनेशिया आबादी के केवल 5.5 प्रतिशत लोगों को पूर्ण टीकाकरण प्राप्त हो चुका है।

इसे भी पढ़ें :Good News : इन देशों ने अब खोल दिए हैं इंडियन टूरिस्ट्स के लिए अपने दरवाजे, जानें

रशिया

russia offers covid vaccine to tourists

रशिया ऐसा अन्य देश है, जो विदेशी पर्यटकों को कोविड-19 के टीके दे रहा है, हालांकि यह एकदम मुफ्त नहीं है। उनका वैक्सीन प्लान पर्यटकों के लिए केवल तीन हफ्तों के लिए है और इसकी कीमत 1500 यूएसडी (1,11,707 रुपये)से 2500 यूएसडी (1,86,178 रुपये) है, जो फ्लाइट के अतिरिक्त है। हालांकि कुछ पर्यटकों को रशिया ट्रैवल करने में अभी भी कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, क्योंकि रशिया के वाणिज्य दूतावास अभी वीजा जारी नहीं  कर रहा है।  रशियन यूनियन ऑफ ट्रैवल इंडस्ट्री के अध्यक्ष आंद्रेई इग्नाटेव ने एक स्टेटमेंट में कहा, ' प्रोडक्ट तैयार है, लेकिन वैक्सीन पाने के लिए विदेशियों के लिए वीजा सपोर्ट और लीगल एंट्री का मुद्दा अभी हल नहीं किया गया है।'

इसे भी पढ़ें :मालदीव और वियतनाम जैसे एशियाई देशों ने खोल दिए हैं वैक्सीनेटेड भारतीयों के लिए दरवाजे

मालदीव

maldives offering covid vaccine to tourists

मालदीव एक ऐसी जगह है, जहां हर मशहूर हस्ती जाना पसंद करती है। मालदीव ने दक्षिण एशिया के पर्यटकों के लिए 3V पर्यटन को शुरू किया है, जिसका मतलब है- विजिट, वैक्सीनेट और वेकेशन। इसमें भारत के पर्यटक भी शामिल हैं। मालदीव के पर्यटन मंत्रालय ने कुछ समय पहले एक ट्वीट किया था, जिसमें कहा था, 'मालदीव 15 जुलाई से दक्षिण एशिया से आने वाले पर्यटकों के आगमन पर पर्यटक वीजा जारी करना फिर से शुरू करेगा। मालदीव में प्रवेश करने के लिए पर्यटकों को एक नेगेटिव आरटी-पीसीआर टेस्ट की आवश्यकता होगी।' अपने पर्यटन और अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए, हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री तैयारी कर रही है कि उनका अधिकतर स्टाफ पूरी तरह से वैक्सीनेटेड हो और रिसॉर्ट आदि में इमरजेंसी मेडिकल फैसिलिटी की सुविधा भी हो।

Recommended Video

फिर देर किस बात की, अगर आप इन देशों की यात्रा करने का प्लान कर रहे हैं और अब तक वैक्सीन अगर नहीं भी लगी है, तो कोई बात नहीं। ये देश तो वैक्सीन ऑफर कर ही रहे हैं। आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें। ट्रैवल से जुड़े ऐसे आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

 

Image Credit : freepik.com