भारत के पूर्वी तट पर स्थित ओड़िशा राज्य है। यह क्षेत्रफल के हिसाब से 9 वां सबसे बड़ा राज्य है और जनसंख्या के हिसाब से 11 वां सबसे बड़ा राज्य है। ओडिशा कलात्मक विरासत बेहद समृद्ध है। इतना ही नहीं, यहां पर ऐसी कई  खूबसूरत जगहें हैं, जो पर्यटकों को अनायास ही अपनी ओर आकर्षित करती हैं। कोणार्क के सूर्य मंदिर से लेकर पुरी का जगन्नाथ मंदिर, सुंदर पुरी तट व चिल्का झील आदि कई जगहों को देखने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं। लेकिन इन सभी बेहतरीन जगहों के अलावा ओडिशा में ऐसी कई हॉन्टेड जगहें हैं, जहां का अपना एक अतीत हैं और इन मन को झकझोर देने वाली जगहों में लोगों ने कई पैरानॉर्मल एक्टिविटीज को देखा है। ऐसे में यहां पर आमतौर पर कमजोर दिल के लोगों को जाने की सलाह नहीं दी जाती है। तो चलिए आज हम आपको ओडिशा की कुछ ऐसी ही हॉन्टेड प्लेसेस के बारे में बता रहे हैं-

मंगलाजोडी का पेड़

 odisha travel inside

मंगलाजोडी, ओडिशा के खोरधा जिले में चिल्की झील के उत्तरी किनारे पर ओडिशा के तांदी के तहत एक पुराना गाँव है। मंगलाजोडी के पेड़ को उड़ीसा में एक हॉन्टेड प्लेस माना जाता है। इस स्थान की दिलचस्प बात यह है कि देर रात यहां लोगों द्वारा कई भूत गतिविधियों को महसूस किया गया है। इसलिए, हर किसी को सूर्यास्त के बाद वहाँ जाना प्रतिबंधित है।

इसे जरूर पढ़ें: चंदेरी! भारत के ह्रदय राज्य मध्य प्रदेश का एक बेहद ही खूबसूरत शहर

जतन नगर पैलेस

 odisha travel inside

ओडिशा के ढेंकनाल में स्थित 100 कमरों के महल का निर्माण राजकुमार नरसिंह प्रताप देव ने करवाया था। उन्होंने अपने मजदूरों को मजबूर किया और उन्हें विशेष कमरों में प्रताड़ित किया। कहा जाता है कि निर्माण के दौरान उनमें से कई की मृत्यु भी हो गई थी और अब उनकी आत्माएं महल की दीवारों के भीतर रहती थीं। यह इमारत बर्बाद हो गई है और अब भारत में सबसे हॉन्टेड प्लेसेस से एक बन गई है।

इसे जरूर पढ़ें: प्रसिद्ध कलिंजर फोर्ट से जुड़ें इन रोचक तथ्यों के बारें में कितना जानते हैं आप

री हॉन्टेड हाउस

 odisha travel inside

ओडिशा में भुवनेश्वर के क्षेत्र में स्थित इस स्थान को लेकर माना जाता है कि यहां पर उन छात्रों के भूत भटकते हैं जो कभी यहां रहते थे। कहा जाता है कि यहां पर उन छात्रों की आत्महत्या की दुखद घटना घटित हुई और अब देर रात छत पर घूमते हुए प्रेत की उपस्थिति को महसूस किया जा सकता है। यह स्थान रात में वास्तव में डरावना हो जाता है और इसलिए इसे सूर्यास्त से पहले जगह पर जाने की सलाह दी जाती है।

चांदपुर गांव

 odisha travel inside

ओडिशा के नयागढ़ में चांदपुर गांव के एक पेड़ को हॉन्टेड माना जाता है। कहा जाता है कि शिवू और झोली नाम के दो ग्रामीणों पर बुरी आत्मा का प्रभाव था। जांच के बाद, यह पता चला कि पेड़ में कुछ अज्ञात शैतान शक्तियां थीं। पीड़ित शिवू ने पेड़ को काटकर खत्म करने का फैसला किया, लेकिन उस बुरी आत्मका से उसे मार दिया गया। तब से, शायद ही कोई लोक पेड़ के पास जाने की हिम्मत करता है।

हाईवे ओडिशा

 odisha travel inside

भुवनेश्वर के पास स्टेट हाईवे भी ओडिशा में हॉन्टेड प्लेसेस में से एक जगह है। यह एक महिला चुड़ैल के भूत द्वारा हॉन्टेड होने के लिए जाना जाता है। कहा गया है कि उसकी आत्मा आधी रात को लिफ्ट मांगते हुए दिखाई देती है और यदि कोई व्यक्ति कार को पास में रोक देता है तो वह गायब हो जाती है। यहां से गुजरने वाले कई राहगीरों को सड़क पर अजीब आवाजें सुनाई दीं जो वास्तव में उन्हें परेशान करती हैं।

इन हॉन्टेड प्लेसेस में कुछ लोगों ने पैरानॉर्मल गतिविधियों को महसूस किया है, लेकिन इन जगहों के पीछे की कहानी की सत्यता का कोई प्रमाण या साक्ष्य मौजूद नहीं है। इसलिए हरजिन्दगी की टीम इन कहानियों का समर्थन नहीं करती।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: traveltriangle