हिमाचल प्रदेश में जब भी घूमने की बात होती है तो सबसे पहले मनाली शहर का ही नाम लिया जाता है, क्योंकि यहां एक से एक बेहतरीन जगहें हैं। लेकिन, मौजूदा समय में जिस तरह से मनाली में भीड़-भाड़ देखी जा रही है, उसे देखकर कई सैलानी घूमने का प्लान भी ड्रॉप कर रहे हैं। ऐसे में अगर आप मनाली की भीड़-भाड़ से दूर किसी शांत और बेहतरीन जगहों पर घूमने का प्लान कर रहे हैं, तो इस आर्टिकल को आपको ज़रूर पढ़ना चाहिए। क्योंकि, इस लेख में हम आपको मनाली की उन जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो शहर की भीड़-भाड़ से दूर है और प्रकृति के एकदम करीब है। मनाली की इन अनसुनी जगहों पर घूमने के बाद यक़ीनन आप कुछ दिनों के लिए इसी जगह बस जाना चाहेंगे, तो आइए जानते हैं।

नग्गर कैसल

best places to visit manali naggar kaisal

मुख्य शहर से लगभग 21 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद मनाली की नग्गर कैसल किसी जन्नत से कम नहीं है। ये जगह एकदम शांत और प्रकृति के बिल्कुल करीब है। यहां अक्सर वो सैलानी आते हैं, जो शहर की भीड़-भाड़ से दूर किसी बेहतरीन जगह घूमना पसंद करते हैं। आपको बता दें कि इस जगह का निर्माण कुल्लू के राजा सिद्ध सिंह ने करवाया था। नग्गर कैसल में राजा सिद्ध सिंह का घर और ब्यास घाटी के जंगलों के अद्भुत दृश्यों की वजह से ये जगह पर्यटकों के लिए बेहद ही खास है।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश की बीर जगह पैराग्लाइडिंग और बर्ड वॉचिंग के लिए है बेस्ट

वशिष्ठ गांव

best places to visit washith village manali

वशिष्ठ गांव मनाली की अनसुनी जगहों में से एक बेहद ही खूबसूरत और शानदार जगह है। राव नदी के किनारे स्थित ये जगह कई अद्भुत नज़रों के लिए जानी जाती है। यहां कई पौराणिक कुंड और झरने भी मौजूद है, जिन्हें ऋषि वशिष्ठ का स्नान घर माना जाता है। कुंड और झरने के अलावा यहां की अपार सुंदरता प्रकृति प्रेमियों के लिए मनाली की ये अनसुनी जगह किसी जन्नत से कम नहीं है। (मनाली में मौजूद शानदार कैफे के बारे में) आपको बता दें कि ये जगह शहर से लगभग 10-12 किलोमीटर की दूरी पर है। 

Recommended Video

मणिकरण

best places to visit manali manikaran

मनाली की अनसुनी जगहों में तीसरे नंबर पर है मणिकरण। मुख्य शहर से लगभग 80 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद ये जगह बेहद ही पवित्र मानी जाती है। पार्वती नदी के किनारे मौजूद ये जगह मणिकरण गुरुद्वारा के लिए भी प्रसिद्ध है। इस गुरुद्वारे के बगल में मौजूद शिव मंदिर के बारे में कहा जाता है कि माता पार्वती और भगवन शिव ने लगभग 11 हज़ार वर्षों से भी अधिक दिनों तक तपस्या की थी। अगर आप मनाली की किसी अनसुनी जगह के साथ किसी पवित्र जगह पर घूमना चाहते हैं, तो यहां पहुंच सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: मणिमहेश झील: हिमालय में मौजूद यह झील शिव के आभूषण के नाम से भी है प्रचलित     

कोठी गांव

best places to visit kothi village manali

मनाली की ये अनसुनी जगह उन लोगों के लिए बेहद ही खास है जो परिवार या पार्टनर से साथ किसी शांत जगह घूमना पसंद करते हैं। समुद्र तल से लगभग 25 हज़ार से भी अधिक मीटर की ऊंचाई पर मौजूद ये जगह खूबसूरत पहाड़ों और ग्लेशियरों के लिए प्रसिद्ध है। व्यास नदी इस जगह में चार चांद लगाती है। आपको बता दें कि ये गांव शहर से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर है, जो पर्टयकों को बेहद शांति और सकून प्रदान करती है। (हिमाचल के प्रीणी गांव में बसती है जन्नत

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@sutterstok,nativeplanet.com)