भारत में प्राचीन महल और मंदिरों का अपना एक अलग ही समृद्ध इतिहास रहा है। आज भी भारत के कई प्राचीन मंदिर और महल लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र है। पूर्वोत्तर भारत में गुवाहाटी के बाद अगर कोई सबसे महत्वपूर्ण पर्यटन शहर माना जाता है तो वो है अगरतला शहर है, जहां आज भी कई प्राचीन महल और मंदिर मौजूद है। पर्यटन की दृष्टि से इस शहर में मनोरंजन के तमाम साधन और एंडवेंचर के ढेरों विकल्प हैं।

यह शहर समृद्ध संस्कृति के साथ बेहतरीन प्रकृतिक सौंदर्य का भी सही उदहारण प्रस्तुत करता है। कहा जाता है कि एक समय में इस शहर पर माणिक्य राजाओं का पूर्ण अधिकार हुआ करता था। त्रिपुरा की राजधानी अगरतला ऐतिहासिक, धार्मिक स्मारकों और भवनों के लिए भी जाना जाता हैं। अगर आप भी अगरतला के पर्यटन स्थलों के बारे में जानना और घूमने के लिए जाना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा ज़रूर पढ़ें।   

उज्जयंता पैलेस

best place to visit in agartala tripura inside

आप सोचते हैं कि एक बेहतरीन और खूबसूरत पैलेस सिर्फ राजस्थान और मध्य प्रदेश में देखने और घूमने को ही मिल सकता है, तो शायद आप गलत हो सकते हैं क्यूंकि, यह पैलेस किसी भव्य महल से कम नहीं है। इस पैलेस को महाराजा राधा किशोर माणिक्य ने बनवाया था। वर्षों पहले यह एक शाही महल था, और बाद में राज्य विधानसभा के रूप में भी इसका उपयोग किया गया। आज भी इस महल में दरबार हॉल, पुस्तकालय, सिंहासन कक्ष जैसे कई जगहों पर घूम सकते हैं।  

इसे भी पढ़ें: किसी जन्नत से कम नहीं है मिज़ोरम की ये खूबसूरत घाटी

जगन्नाथ मंदिर  

place to visit in agartala tripura inside

जगन्नाथ मंदिर अगरतला के दर्शनीय स्थलों में से एक प्रमुख स्थान है। यह मंदिर उज्जयंत पैलेस के पास ही है। धार्मिक दृशी की नज़र से अगरतला निवासियों के लिए यह मंदिर बहुत खास है। इस मंदिर का निर्माण 19वीं शताब्दी में माणिक्य राजवंश राजाओं द्वारा करवाया गया था, जो आज भी वैसे के वैसे ही है। यह मंदिर मुख्य रूप से बलभद्र, सुभद्रा और जगन्नाथ को समर्पित है। (जानकी माता यानि सीता की जन्म धरती की सैर पर)   

नीरमहल

best place to visit in agartala tripura neemrana inside

इस महल को 'द लेक पैलेस ऑफ त्रिपुरा' और 'जल महल' के नाम से भी जाना जाता है। शायद, इसलिए इसे तैरता हुआ महल भी कहा जाता है। इस महल का निर्माण राजा बीर बिक्रम किशोर माणिक्य बहादुर ने करवाया था। कहा जाता है कि इस महल का निर्माण उन्होंने ग्रीष्मकाल के समय में रहने के लिए करवाया था।  इस महल में आपको इस्लामिक और हिंदू वास्तुशिल्प का मिला-जुला रूप देखने को मिल जायेगा। (खूबसूरत और बड़ी वॉटरफॉल्स)

Recommended Video

सुंदरी मंदिर 

best place to visit in agartala tripura sundari mandir inside

अगरतला में इस मंदिर का अपना एक अलग ही महत्व है। कहा जाता है कि इस पावन स्थान पर सती के दाहिने पैर का अंगूठा गिरा था, जिसके बाद यह जगह आस्था की केन्द्र बन गई। यह जगह अगरतला में 50 किमी की दूरी पर उदयपुर में स्थित है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि यह 500 साल से भी अधिक पुराना है। ये भी मान्यता है कि भगवान विष्णु ने अपने सुदर्शन चक्र से देवी सती को 51 भागो में काट दिया था और इसी स्थान पर उनका अंगूठा गिरा था। (दुनिया का सबसे बड़ा चॉकलेट म्यूजियम)

इसे भी पढ़ें: उपलब्धि! भारत के इन 8 समुद्री तटों को मिला सबसे साफ Beaches होने का ब्लू फ्लैग टैग

ऐसे पहुंचे अगरतला 

यहां जाने के लिए आप ट्रेन, बस या हवाई सफर से भी जा सकते हैं। यहां रुकने के लिए भी कई सारे होटल और गेस्ट हाउस है। यहां आपको खाने के लिए भी कोई दिक्कत नहीं होगी क्यूंकि, यहां वेज से लेकर नॉनवेज तक सभी चीजें आसानी से मिल जाते हैं। 

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit:(@i.ytimg.com,www.incredibleindia.org)