भारत विविधता वाला देश है और विभिन्न संस्कृतियां इसकी खूबसूरती को बख़ूबी बयां करती हैं। इस देश के हर कोने में कई प्राकृतिक जगहें हैं जिन्हें घूमा जा सकता है। कई जगहों पर कुछ यूनिक ही चीज़ें देखने को मिलती हैं और कई नियम, क़ायदे उसे खास बनाती हैं। आप सोच रहे होंगे कि आखिर मैं कहना क्या चाह रही हूं। तो आपको बता दूं कि भारत में ऐसी कई जगह है जहां के पानी में स्नान या उसे इस्तेमाल करने से कई बीमारियां अपने आप ठीक हो जाती हैं, पड़ गए ना सोच में! लेकिन ये सच है कुछ जगहों पर पानी बिल्कुल शुद्ध और पहाड़ों से आता है जो शरीर को स्वस्थ रखता है। 

इन जगहों के स्थान लोगों का भी यही कहना है। आप सोच रहे होंगे कि ऐसी कौन सी जगह है हमें भी पता लगे। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं भारत के कुछ खूबसूरत और खास जगहों के बारे में जहां की हवा और प्रकृति सेहत को स्वस्थ रखती हैं। 

देहरादून का सबसे लोकप्रिय हिल स्टेशन 

inside  dehradun

शायद यह नाम आपने सुना होगा! सहस्त्रधारा देहरादून के सबसे लोकप्रिय हिल स्टेशन में से एक है।  यहां की प्राकृतिक सुंदरता और झरने ही अपने आप में एक कोहिनूर की तरह है। ऐसा कहा जाता है कि यहां का शुद्ध पानी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। इस पानी में किसी भी तरह की मिलावट नहीं होती क्योंकि ये सीधा पहाड़ों से गिरकर सहस्त्रधारा में बहता है। साथ ही वहां के लोगों का मानना है कि इस पानी में सल्फर भी होता है जिसमें डुबकी लगाने से मानसिक स्तर पर भी अच्छा महसूस होता है। 

छतरपुर का भीमकुंड 

inside  Bheemkund

यह झील छतरपुर यानी मध्य प्रदेश में स्थित है। ये भारत के सबसे अनोखे जल स्रोतों में से एक है। साथ ही यह एक प्राकृतिक गुफा के बीच से निकलकर बहती हैं। भीमकुंड के बारे में ऐसा माना जाता है कि यह कुंड महाभारत काल से है। यहां की खूबसूरती और शुद्धता ही इसे भीमकुंड बनाती है। स्थानीय लोगों का मानना है कि मकर संक्रांति के दिनों में डुबकी लगाने से आपके सारे पाप धुल जाते हैं। साथ ही हर बीमारी दूर हो जाती है। 

इसे ज़रूर पढ़ें-भारत के वो शहर जो हैं एकदम साफ-सुथरे, आप भी जानें

सिक्किम की गुरुडोंग्मार झील

inside  sikkim lake

यह झील सिक्किम में है और भारत की सबसे ऊंची झीलों में से एक है। गुरुडोंग्मार झील सिखों, हिंदुओं और बौद्ध तीनों के लिए बहुत खास है। यहां के लोगों का मानना है कि इस झील के एक कोने को गुरु नानक देव ने छू लिया था और वह हिस्सा जम गया था। तब से ऐसा कहा जाता है कि जो इंसान इस झील में नहाता है तो उसकी तमाम बीमारी झड़ जाती हैं। 

Recommended Video

गंगोत्री मार्ग पर बसी गंगनानी

inside  ganga nai

उत्तराखंड का नाम सुना ही होगा लेकिन क्या आपको पता है कि गंगनानी भी इसी शहर में है। जो कि गंगोत्री मार्ग पर पड़ता है। यहां आने वाले सभी लोग गर्म पानी में ज़रूर स्नान करते हैं। साथ ही यहां की प्रकृति आपको तरोताज़ा रखती है। यह एक छोटा सा गांव है यहां रहने और खाने पीने का भी खूब इंतज़ाम है। 

इसे ज़रूर पढ़ें-क्यों कहा जाता था चौमहल्ला पैलेस को हैदराबाद का दिल, जानें इसके बारे में

तो आप भी इस जगहों पर लुफ्त उठाने के साथ साथ सेहत भी बना सकते हैं। लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक ज़रूर करें, साथ ही ऐसी अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit- Freepik, holiday.com,Travel Website.