बालों की केयर करने के लिए हम बहुत कुछ करते हैं, लेकिन कई बार बालों को सही करने की कोशिश में हम उन्हें खराब भी कर बैठते हैं। हमें अंदाज़ा भी नहीं होता कि छोटी-छोटी चीज़ें कितनी नुकसानदेह साबित हो सकती हैं और अपने हेयर केयर रूटीन में एक छोटा सा बदलाव करना हमारे लिए फायदेमंद भी साबित हो सकता है। 

बालों में तेल लगाना फायदेमंद होता है ये तो कई बार बताया जा चुका है, लेकिन किस तरह से तेल लगाना सही होगा ये जानना भी बहुत जरूरी है।  एस्थेटिक फिजिशियन, डर्मेटोलॉजिस्ट डॉक्टर सरू सिंह ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर ऑयलिंग करने के सही तरीके शेयर किए हैं। किस तरह के बालों के लिए किस तरह की ऑयलिंग करनी चाहिए। 

डॉक्टर सरू सिंह ने अपनी पोस्ट में कुछ खास बातों की तरफ हमारा ध्यान खींचा जो ऑयलिंग से जुड़ी हुई हैं। 

  • आपको ये ध्यान रखना चाहिए कि ऑयलिंग सिर्फ एक हेल्दी कंडीशनर है और नॉरिशमेंट मिलता है इससे, ये कोई ट्रीटमेंट नहीं है। 
  • किसी का स्कैल्प ऑयली हो सकता है, लेकिन बाकी बाल फ्रिज़ी हो सकते हैं या फिर ड्राई स्कैल्प के साथ ड्राई स्ट्रैंड्स या नॉर्मल स्कैल्प हो सकता है। 
  • सभी तरह के बालों में अलग-अलग तरह की ऑयलिंग की जरूरत होती है, लेकिन एक नियम सभी के लिए फॉलो होता है और वो ये कि ऑयल को बालों में 3 घंटे से ज्यादा नहीं रखना चाहिए। 
  • बालों में रात भर तेल लगे रहने देने से मिट्टी और गंदगी आपके स्कैल्प में आती है। 
  • जो लोग ज्यादा स्कैल्प एक्ने, डैंड्रफ और ऑयली स्किन से परेशान हैं उन्हें हेयर ऑयल्स से बचना चाहिए। 
hair oiling mistakes to void

इसे जरूर पढ़ें- नाक और माथे पर हमेशा आता है ऑयल तो करें ये काम

कैसे करें सही तरह से ऑयलिंग?

जैसा कि पहले बता दिया गया है कि हर तरह के स्कैल्प के लिए अलग तरह की ऑयलिंग तकनीक इस्तेमाल करनी चाहिए तो अब हम स्कैल्प और बालों के हिसाब से बताते हैं कि कैसी ऑयलिंग करनी चाहिए- 

1. ऑयली स्कैल्प -

अगर आपका ऑयली स्कैल्प है तो ऐसे तेल इस्तेमाल करने चाहिए जो लाइट टेक्सचर वाले हों। इसके लिए बादाम तेल, ग्रेप सीड ऑयल आदि बहुत अच्छे साबित हो सकते हैं। ऐसे स्कैल्प में 10 दिन में एक बार ऑयलिंग करना भी काफी होगा जो ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाएगा और हेयर फॉलिकल को नॉरिश करेगा।  

2. ऑयली स्कैल्प के साथ अगर ड्राई स्ट्रैंड्स हों तो-

अब बात करते हैं ड्राई स्ट्रैंड्स की और अगर आपके ऑयली स्कैल्प के साथ ड्राई स्ट्रैंड्स हैं तो ऐसा हो सकता है कि स्कैल्प की समस्याओं के कारण आप अपने बालों को भूल जाते हों। ऐसे में आपको लाइट हेयर ऑयल सिर्फ बालों के स्ट्रैंड्स पर लगाना चाहिए। ये हफ्ते में दो बार जरूर करें।  

आप कैस्टर ऑयल और नारियल के तेल का मास्क भी हफ्ते में एक बार सिर्फ अपने स्ट्रैंड्स पर लगा सकते हैं।  

आर्गन ऑयल का करें इस्तेमाल- आर्गन ऑयल बहुत ही हल्का ऑयल होता है और इसे आप शैम्पू के बाद लीव-इन कंडीशनर की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। ये आपके ड्राई, डैमेज क्यूटिकल्स को हेल्दी शाइन देगा और ये स्कैल्प में ज्यादा ऑयलीनेस नहीं लाएगा।  

scalp issues and hair oils

3. ड्राई स्कैल्प वालों के लिए ये काम होगा फायदेमंद- 

अगर आपका स्कैल्प बहुत ड्राई है तो आप ऑयलिंग हफ्ते में एक या दो बार कर सकते हैं और इनमें से किसी भी तेल का इस्तेमाल बेहतर साबित हो सकता है। इसमें नारियल का तेल, एवोकाडो ऑयल, होहोबा ऑयल (Jojoba oil), ऑलिव ऑयल, कैस्टर ऑयल शामिल होगा। 

ड्राईनेस इसलिए होती है क्योंकि मॉइश्चर की कमी बालों में हो जाती है और ऐसे में ऑयल्स जरूरी हाइड्रेशन दे सकते हैं। अगर ड्राई बाल हैं तो पूरी लेंथ में ठीक से ऑयलिंग करें। आपको हर बार शैम्पू करने के बाद मॉइश्चर से भरपूर कंडीशनर का इस्तेमाल करना चाहिए।  

ड्राई और फ्रिज़ी बालों के लिए लीव-इन हेयर सीरम्स बहुत ही फायदेमंद होंगे। आर्गन ऑयल वाले लीव इन कंडीशनर फायदा पहुंचा सकते हैं।  

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by DR SARU SINGH (@dr.sarusingh)

 

इसे जरूर पढ़ें- Jawed Habib Tips: अगर खत्म हो गया है शैम्पू और कंडीशनर तो कैसे धोएं बाल? 

Recommended Video

ऑयलिंग करते समय ध्यान रखें ये बातें- 

अगर आप ऑयलिंग कर रहे हैं तो कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए जैसे हफ्ते में एक बार ऑयलिंग स्कैल्प हेल्थ के लिए अच्छी साबित हो सकती है- 

  • आप अपनी पसंद का हेयर ऑयल शैम्पू करने से 2 घंटे पहले लगाएं। 
  • अगर आपको ऑयल बालों में लगाना उतना अच्छा नहीं लगता है तो आप हेयर मास्क का इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर सिर्फ बालों के स्ट्रैंड्स में तेल लगाकर आप काम कर सकते हैं। 
  • बालों में तेल को 3 घंटे से ज्यादा न रखें और ओवरनाइट रखना तो और खराब हो सकता है। 

बालों में तेल को रात भर रखने से कोई फायदा नहीं होता है इससे बाल और ज्यादा धूल और गंदगी बालों में चिपकेगी। वो लोग जिन्हें डैंड्रफ हो जाता है या फिर एक्ने वाली स्किन है उनके लिए ज्यादा ऑयलिंग अच्छी नहीं होती है।  

आपको हमेशा ऑयल और ऑयलिंग का तरीका अपने स्कैल्प और बालों के हिसाब से ही चुनें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।