ऐसी कई होम रेमेडीज होती हैं जो बालों को साफ और शाइनी बनाती हैं, लेकिन अगर बात शैम्पू की करें तो इसे ही सबसे अच्छा क्लींजिंग एजेंट माना जाता है जो बालों को सॉफ्ट बनाता है। ऐसे ही कंडीशनर को मॉइश्चराइजिंग के लिए बेस्ट माना जाता है। यकीनन आजकल हम अपनी जिंदगी शैम्पू और कंडीशनर के बिना सोच नहीं सकते हैं, लेकिन ऐसा भी होता है कि कई बार व्यस्तता के कारण हम सही समय पर शैम्पू और कंडीशनर लेकर ना आ पाएं या हमारे पसंदीदा ब्रांड के प्रोडक्ट्स न उपलब्ध हों। 

पहले के समय में लोग अलग-अलग तरह के नेचुरल तरीकों से बालों को धोया करते थे और राख, रीठा, आंवला आदि का इस्तेमाल हेयर केयर रूटीन में किया जाता था, लेकिन अगर आपको ऐसा ही कुछ अभी करना पड़े तो? अगर आपको अभी बाल धोने के लिए शैम्पू या कंडीशनर की जगह नेचुरल प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करना हो तो क्या करेंगे?

हमने ये जानने के लिए हेयर और ब्यूटी एक्सपर्ट जावेद हबीब से बात की। उन्होंने हमें बताया कि किन चीज़ों का इस्तेमाल हम शैम्पू के तौर पर कर सकते हैं। 

1. बेकिंग सोडा का इस्तेमाल-

बेकिंग सोडा को ब्यूटी के लिए कई बार इस्तेमाल किया जाता है और इसे चेहरे पर लगाने को लेकर कई तरह की बातें कहीं जाती हैं। कुछ लोग इसका इस्तेमाल सही मानते हैं तो कुछ लोग इसे गलत मानते हैं। पर अगर आपका शैम्पू खत्म हो गया है तो जावेद हबीब के मुताबिक आप इसे कुछ हद तक इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आपके स्कैल्प में गंदगी है या फिर आपने ड्राई शैम्पू या कोई और प्रोडक्ट बहुत ज्यादा इस्तेमाल कर लिया है तो उसे साफ करने के लिए बेकिंग सोडा काफी अच्छा काम कर सकता है। पर ध्यान रहे कि इसे ज्यादा नहीं लगाना है-

पहले से भीगे हुए बालों में 3 पार्ट पानी और 1 पार्ट बेकिंग सोडा का मिक्सचर लगाएं। इसे दो मिनट रखने के बाद इसे धो लें। 

shampoo substitute for hair

इसे जरूर पढ़ें- 3 तरह के होते हैं डार्क सर्कल्स, इस तरह से किया जा सकता है ट्रीटमेंट

2. एप्पल साइडर विनेगर -

अगर आपके बाल काफी गंदे हैं और ऑयल ज्यादा है तो बेकिंग सोडा के साथ एप्पल साइडर विनेगर का इस्तेमाल किया जा सकता है। आपको उसके लिए 1 पार्ट बेकिंग सोडा और 2 पार्ट एप्पल साइडर विनेगर का इस्तेमाल करना होगा। इसे भी दो मिनट अपने स्कैल्प पर मसाज करने के बाद धो लें। 

3. रीठा और शिकाकाई-

शैम्पू का सबसे अच्छा नेचुरल सब्सटिट्यूट कोई हो सकता है तो वो है रीठा और यहीं कंडीशनर का काम शिकाकाई करता है। इन दोनों को मिलाकर रात में भिगो कर रख दें और सुबह इसी से बालों को धोएं। आपके बाल काफी खूबसूरत भी हो जाएंगे और रीठा में नेचुरल झाग बनाने की शक्ति होती है जो स्कैल्प की समस्याओं को बहुत ही आसानी से ठीक कर सकता है और इसे साफ भी कर सकता है। 

शिकाकाई का इस्तेमाल बालों में शाइन लाएगा और इसे कंडीशनर की तरह ही सॉफ्ट भी बनाएगा।  

shampoo and substitute

4. अंडे की जर्दी का कंडीशनर- 

जहां शैम्पू की बात हम कर चुके हैं वहीं अब ये भी जानना जरूरी है कि कंडीशनर अगर खत्म हो गया है तो उसकी जगह हम क्या इस्तेमाल करें। अंडे को हमेशा से ही बालों के लिए बेहतर माना जाता है और अंडे का योक हमेशा बालों को मॉइश्चराइज करने के काम आता है। आप बस थोड़ा सा एग योग अपने गीले बालों में लगाएं और उसके बाद उसे पानी से धो लें।  

अंडे की बदबू को हटाने के लिए आप कुछ बूंद एसेंशियल ऑयल्स पानी में मिलाकर बालों में डाल सकते हैं। बस आपको इससे ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं है। पहले बालों को साफ करने के बाद कंडीशनर की जगह अंडे का इस्तेमाल करें।  

shampoo issues

इसे जरूर पढ़ें- नाक और माथे पर हमेशा आता है ऑयल तो करें ये काम

5. एलोवेरा का इस्तेमाल- 

अगर हम कंडीशनर की बात कर रहे हैं तो एलोवेरा को कैसे भूला जा सकता है। एलोवेरा में बहुत सारी एंटी-बैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं जो स्कैल्प से न सिर्फ एक्स्ट्रा ऑयल हटाती हैं बल्कि इन्हें हेल्दी और शाइनी भी बनाती हैं। बालों में अगर मॉइश्चर की कमी है तो कंडीशनर की जगह एलोवेरा का इस्तेमाल किया जा सकता है।  

6. बालों में करें ऑयल थेरेपी- 

बालों की ग्रोथ के लिए ये बहुत जरूरी है कि आप उनमें तेल लगाएं। इसे कंडीशनिंग एजेंट की तरह ही देखें क्योंकि अगर आपने बालों में ठीक तरह से ऑयलिंग की है तो बाद में कंडीशनर की जरूरत कम पड़ेगी या कुछ लोगों के केस में नहीं पड़ेगी। तेल लगाने के बाद साधारण माइल्ड शैम्पू से बाल धोएं तो आपको कंडीशनर नहीं इस्तेमाल करना होगा। इसके लिए हॉट ऑयल थेरेपी सबसे ज्यादा अच्छी साबित हो सकती है।  

Recommended Video

नेचुरल हेयर केयर इस्तेमाल करते समय कुछ बातों का रखें ध्यान- 

ये सही है कि इन सारी चीज़ों से आप बालों को आसानी से धो सकते हैं और शाइनी बना सकते हैं, लेकिन फिर भी कुछ बातों का ध्यान जरूर रखें- 

  • कई लोगों की स्किन सेंसिटिविटी इतनी ज्यादा होती है कि कुछ नेचुरल चीज़ें इस्तेमाल करने से बाल झड़ सकते हैं तो अगर आपको कोई हेल्थ कंडीशन है या फिर स्किन सेंसिटिविटी या फिर हार्मोनल समस्या है तो पहले डॉक्टर की सलाह लेने और पैच टेस्ट करने के बाद ही इन रेमेडीज का इस्तेमाल करें। 
  • अगर आपको किसी इंग्रीडिएंट से एलर्जी है तो उसका इस्तेमाल न करें। 
  • बेकिंग सोडा और एप्पल साइडर विनेगर दोनों ही एसिडिक होते हैं और कई लोगों को सूट नहीं करते हैं ऐसे में आपको पैच टेस्ट जरूर कर लेना चाहिए। 
  • ये नेचुरल इंग्रीडिएंट्स हैं और इनसे बालों को धोने के बाद एकदम शैम्पू जैसा असर नहीं मिलेगा। 
  • बालों को साफ करते समय बहुत जोर से स्कैल्प को नहीं रगड़ें। 
  • हमेशा अपने हेयर टाइप के हिसाब से ही इंग्रीडिएंट्स चुनें।  

एक बात का ध्यान आपको रखना चाहिए कि आपके बालों में क्या सूट कर रहा है या क्या नहीं ये आपको पता होना चाहिए। ऐसे में हेयर केयर रूटीन मैनेज करना काफी आसान हो जाता है। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।