• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

हेयर केराटिन और स्मूदनिंग में होता है अंतर, जानिए बालों के लिए कौन-सा है बेस्ट

आपने कई बार पार्लर जाकर केराटिन या स्मूदनिंग करवाई होगी लेकिन क्या आपको पता है कि इनमें क्या अंतर है? अगर नहीं, तो जानने के लिए पढ़े यह लेख।
author-profile
Published -23 May 2022, 16:42 ISTUpdated -23 May 2022, 17:09 IST
Next
Article
difference between smoothening and keratin smoothening and keratin

महिलाएं अपने बालों की देखभाल करने के लिए तरह-तरह के हेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करती हैं जैसे- शैम्पू, कंडीशनर हेयर मास्क आदि। लेकिन कई बार महिलाएं इन सभी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने के अलावा, कई तरह के हेयर ट्रीटमेंट लेती हैं। जैसे- कुछ महिलाएं बालों को स्ट्रेट करने के लिए केराटिन या स्मूदनिंग करवाती हैं। 

लेकिन बहुत-सी महिलाओं को ये लगता है कि केराटिन और स्मूदनिंग एक ही होते हैं, तो आपको बता दें कि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। केराटिन और स्मूदनिंग अलग-अलग ब्यूटी ट्रीटमेंट हैं, जिनके अपने अलग-अलग फायदे होते हैं। आइए जानते हैं कि केराटिन और स्मूदनिंग  में क्या अंतर होता है। 

केराटिन ट्रींटमेंट क्या है? (What is Keratin Treatment)

keratin treatment in hindi

केराटिन बालों के ऊपर किया जाने वाला हेयर ट्रीटमेंट हैं, जिसे महिलाएं अपने बालों को और सुंदर बनाने के लिए करती हैं। हालांकि, केराटिन एक प्रक्रिया के तहत किया जाता है। इसमें प्रोटीन और नेचुरल प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल किया जाता है और बालों का रूखापन दूर किया जाता है। 

इसे ज़रूर पढ़ें- स्मूदनिंग और रिबॉन्डिंग में क्या होता है अंतर, लेख पढ़कर जानिए

साथ ही, ये ट्रीटमेंट बालों की फ्रीजीनेस को दूर करके उन्हें शाइन देने का काम करता है। क्योंकि इसके अंदर बालों पर प्रोटीन की परत चढ़ाई जाती है और प्रेसिंग के द्वारा प्रोटीन लेयर को लॉक किया जाता है।

स्मूदनिंग ट्रीटमेंट क्या है? (What is Smoothening Treatment)

what is smoothening in hindi

हेयर स्मूदनिंग एक ऐसा ब्यूटी ट्रीटमेंट है, जिसमें केमिकल प्रोडक्ट का इस्तेमाल किया जाता है। इन केमिकल की सहायता से बालों को सीधा या फिर स्ट्रेट किया जाता है और बालों को खूबसूरत लुक दिया जाता हैं। स्मूदनिंग के अंदर बालों पर कई तरह की क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है और बालों को स्मूथ बनाया जाता है। हालांकि, यह थोड़ी केराटिन से थोड़ी महंगी होती है।

जानें क्या है अंतर? (What is The Difference Between Smoothening And Keratin)

  • वैसे तो केराटिन और स्मूदनिंग में सारे प्रोसेस समान होते हैं लेकिन इसमें प्रोडक्ट और प्रोसेस का अंतर होता है। (घर पर इस तरह करें हेयर स्मूदनिंग)
  • कोराटिन में बालों पर कम समय तक रहती है और स्मूदनिंग बालों पर अधिक समय तक की जाती है। 
  • स्मूदनिंग केराटिन से ज्यादा महंगी होती है लेकिन बालों के लिए केराटिन ज्यादा अच्छी मानी जाती है। 
  • केराटिन को आप 3-6 महीने में करवा सकती हैं, वहीं आपकी स्मूदनिंग सालों-साल बालों पर चलती है।  

इन बातों का रखें ध्यान- 

Hair keratin in hindi

  • केराटिन ट्रीटमेंट और स्मूदनिंग में कई तरह की हीट इक्विपमेंट का प्रयोग होता है। इसलिए अगर आपके बाल पतले हैं, तो आप इन्हें न करवाएं। 
  • इन ट्रीटमेंट को करवाने के बाद आप अपने बालों का खास ध्यान रखें। साथ ही, ट्रीटमेंट के बाद आपको बालों पर केराटिन हेयर स्पा करवाना चाहिए। (पार्लर जैसा केराटिन ट्रीटमेंट करें घर बैठे, इससे बाल होंगे सिल्की-शाइनी और सॉफ्ट)
  • आप ये ट्रीटमेंट किसी प्रोफेशनल से ही कराएं क्योंकि इसे कई तरह के केमिकल के साथ किया जाता है। 

उम्मीद है आपको केराटिन और स्मूदनिंग  में क्या अंतर होता है यह समझ में आ गया होगा। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik) 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।