बालों की देखभाल हमेशा उसी तरह से करनी चाहिए जैसी समस्या उन्हें हो रही हो। आपके बालों की क्वालिटी ही ये तय करती है कि आखिर किस तरह की समस्या आपके बालों में आएगी। अगर बाल बहुत ज्यादा ऑयली हो गए हैं तो उनमें धूल-मिट्टी और प्रदूषण के कण ज्यादा आएंगे। अगर बालों में ड्राईनेस बहुत ज्यादा है तो वो डैमेज होंगे। स्कैल्प की समस्याओं के लिए अलग तरह के ट्रीटमेंट्स भी किए जाएंगे। 

बालों का ट्रीटमेंट अगर उनकी समस्याओं के आधार पर नहीं होता है तो ये समस्याएं और भी ज्यादा बढ़ जाती हैं। ऐसे में ऑयली, ड्राई, डैमेज, फ्रिज़ी, वेवी, कर्ली, डल बालों के लिए ट्रीटमेंट ठीक तरह से चुनना चाहिए। 

इस तरह से करें ऑयली बालों में शैम्पू-

अगर बाल ऑयली हैं तो वो गंदे ज्यादा होंगे और ऐसे में हफ्ते में तीन बार कम से कम उन्हें वॉश करना चाहिए। हां, बालों में शैम्पू कम इस्तेमाल करें क्योंकि ज्यादा शैम्पू ठीक से धुल नहीं पाता है। लंबे बालों के लिए 1 छोटा चम्मच और छोटे बालों के लिए आधा छोटा चम्मच शैम्पू काफी होता है। शैम्पू सीधे स्कैल्प पर लगाने की जगह आप उसे पानी में घोलकर लगा सकते हैं। शैम्पू करने के बाद 1 नींबू का रस 1 मग पानी में घोलकर अपने बालों को उससे धोएं। इससे स्कैल्प में होने वाले इन्फेक्शन से आराम मिलेगा।

dry and damaged hair care routine

इसे जरूर पढ़ें- कैसे पता करें अपने स्किन टाइप के बारे में, शहनाज़ हुसैन के ये टिप्स हर तरह की स्किन के लिए आएंगे काम

बालों की ऑयलीनेस कम करने के लिए करें ये काम-

  • ऑयली बालों को बार-बार ब्रश नहीं करना चाहिए इससे ऑयल ग्लैंड्स और भी ज्यादा एक्टिव हो जाएंगे और आपके बाल और भी ज्यादा तेल से भरे हुए नजर आएंगे। 
  • आप शैम्पू से 15 मिनट पहले एग व्हाइट लगा सकते हैं। 
  • ऑयली बालों वाले लोगों को क्रीमी कंडीशनर का प्रयोग नहीं करना चाहिए। 
  • बालों को धोने के लिए माइल्ड शैम्पू का इस्तेमाल करें। साथ ही साथ आपको ज्यादा फ्राई फूड्स से दूर रहना चाहिए। 
  • अपनी डाइट में ताजा फल, सलाद, दही और स्प्राउट्स एड करें। 
  • पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं। 
  • एक ग्लास पानी में नींबू का रस मिलाएं और उसे सुबह उठकर सबसे पहले पिएं। 
  • अपने कंघे या हेयर ब्रश को हफ्ते में एक दिन जरूर धोएं। उन्हें गुनगुने साबुन के पानी में डालें और कुछ बूंदें एंटीसेप्टिक सॉल्यूशन की डालें। इन्हें किसी पुराने टूथब्रश से अच्छी तरह से साफ करें।  
shahnaz hair care for colored hair

डैमेज बालों की केयर करने के हैं अलग तरीके- 

अगर आपके बाल ड्राई और डैमेज हैं और जल्दी टूट जाते हैं तो वो कमजोर बाल हैं और उन्हें बहुत ही सौम्यता से संभालने की जरूरत है। ऐसे बालों की देखभाल करने के लिए आपको हेयर प्रोडक्ट्स भी बहुत सावधानी से चुनने चाहिए और ध्यान रहे कि ऐसे बाल हेयर ब्रश से ज्यादा खराब होते हैं और ये जरूरी है कि आप बड़े दांतों वाली कंघी इस्तेमाल करें।  

डैमेज बालों की केयर करने के लिए करें ये काम- 

  • आप 2 भाग नारियल के तेल में 1 भाग कैस्टर ऑयल मिलाएं और उसे गुनगुना करके अपने बालों में लगाएं। इसे बालों की जड़ों से लेकर एंड्स तक अप्लाई करें। 
  • बहुत ज्यादा प्रेशर से मसाज न करें और न ही बालों को ज्यादा रगड़ें। इससे बालों के टूटने का खतरा बढ़ता है। 
  • ऐसे बालों के लिए रेगुलर कंडीशनिंग बहुत जरूरी होती है। 
  • अगर आपके बाल ड्राई और डैमेज हैं तो बालों में हफ्ते में एक बार स्पा लेना अच्छा हो सकता है। 
  • स्पा ट्रीटमेंट्स में हेयर फॉलिकल्स सही होते हैं और ये पूरे ट्रीटमेंट्स होते हैं जिसमें हेड मसाज, स्टीम, हेयर पैक, डीप कंडीशनिंग आदि सब कुछ दिया जाता है। 
  • डल और डैमेज बालों के लिए प्रोटीन पैक्स जरूरी होते हैं।  

इसे जरूर पढ़ें- ऑयली त्‍वचा है तो फॉलो करें शहनाज हुसैन की ये 5 स्किन केयर टिप्स  

Recommended Video

अगर बाल ड्राई और कलर्ड हैं तो उनकी केयर अलग तरह से करें- 

डैमेज और ड्राई बाल अलग होते हैं, लेकिन वहीं अगर बात कलर्ड बालों की हो तो ये बहुत ही ज्यादा खराब हो सकते हैं। कलर्ड बालों में केमिकल्स होते हैं और इसलिए ये ज्यादा खराब हो सकते हैं।  

कलर्ड बालों की केयर करने के टिप्स- 

  • अगर बाल कलर्ड हैं तो उनकी केयर करने के लिए आप हफ्ते में एक बार हॉट ऑयल थेरेपी जरूर करें। 
  • शुद्ध नारियल के तेल को गर्म करके इसे बालों में लगाएं। 
  • स्कैल्प को सावधानी से सिर्फ उंगलियों की मदद से मसाज करें। सर्कुलर मोशन में ऐसे मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। 
  • इसके बाद आप बालों में गर्म और नम टॉवल लपेटे जिससे बालों को स्टीम मिले। इसे 5 मिनट तक रखें फिर से इसे गर्म पानी में डुबोकर निचोड़ें और बालों में लगाएं। 
  • इससे बालों और स्कैल्प में तेल बेहतर तरीके से एब्जॉर्ब हो जाता है। 
  • इस तेल को रात भर रखें और अगले दिन बालों को धो लें। बालों को धोने के लिए आप हमेशा हर्बल शैम्पू का ही इस्तेमाल करें। 
  • बालों में शैम्पू कम लगाएं और अच्छी तरह से पानी से धोएं। शैम्पू के बाद क्रीमी कंडीशनर का इस्तेमाल जरूर करें। 
  • आप लीव-इन कंडीशनर और हेयर सीरम का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।  

बालों को कलर करने के बाद आपको उनकी केयर जरूर करनी होगी क्योंकि अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो उनका टेक्सचर खराब हो जाएगा। केमिकल कलर्स के कारण बालों का मॉइश्चर उड़ जाता है और इसलिए हॉट ऑयल थेरेपी और क्रीमी कंडीशनर बालों की मदद कर सकते हैं। ड्राई बालों को टावल से बार-बार रगड़ना सही नहीं होगा इसकी जगह टावल को बालों में लपेट कर एक्स्ट्रा पानी को एब्जॉर्ब होने दें। बालों में हमेशा बड़े दांतों वाली कंघी ही इस्तेमाल करें।   

उलझे हुए बालों को हमेशा बहुत ही सावधानी से सुलझाना चाहिए और बालों को सुलझाने के लिए हेयर ब्रश का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। अगर आप बड़े दांतों वाले कंघे इस्तेमाल करेंगे तो ज्यादा बेहतर होगा। इसी के साथ, बालों में हेयर ड्रायर का इस्तेमाल भी कम करना चाहिए। इसी के साथ, केमिकल कलर्स को भी कम इस्तेमाल करना चाहिए और बालों को मजबूती देने वाला हेयर केयर रूटीन फॉलो करना चाहिए।  

आपके बाल एक कोमल कपड़े की तरह होते हैं तो उन्हें वैसे ही ट्रीट करें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।