हेयर केयर रूटीन में सबसे पहले बालों को वॉश करने की बात आती है, ताकि हेयर व स्कैल्प में मौजूद किसी भी तरह की गंदगी को आसानी से दूर किया जा सके। इसके लिए हम शैम्पू का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि मार्केट में कई अलग-अलग तरह के शैम्पू अवेलेबल हैं और आपको अपने हेयर की जरूरतों के अनुसार सही शैम्पू का चयन करना चाहिए। इन्हीं डिफरेंट टाइप शैम्पू में से एक है टोनिंग शैम्पू। इसके बारे में बहुत कम ही महिलाओं को पता होता है, लेकिन कलर्ड हेयर के लिए टोनिंग शैम्पू का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा माना जाता है, क्योंकि यह आपके कलर को लंबे समय तक यूं ही बनाए रखने में मदद करते हैं। साथ ही आपके केमिकल ट्रीटमेंट हेयर का भी ख्याल रखते हैं। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको टोनिंग शैम्पू के बारे में बता रहे हैं। साथ ही आज हम इसे सही तरह से इस्तेमाल करने के तरीके के बारे में भी चर्चा करेंगे-

क्या है टोनिंग शैम्पू

tanning

टोनिंग शैम्पू के इस्तेमाल से पहले आपको इनके बारे में जानना चाहिए। टोनिंग शैम्पू वास्तव में पिगमेंट डिपॉजिटिंग शैम्पू होते हैं, जिसके कारण यह आपके हेयर के कलर को लंबे समय तक बनाए रखने में मदद करते हैं। दरअसल, जब आप बालों को कलर करवाती हैं तो समय के साथ कलर फेड होने लगता है, जिससे आपके बाल अजीब नजर आते हैं। इस स्थिति से बचने का सबसे अच्छा उपाय है टोनिंग शैम्पू का इस्तेमाल करना। यह टोनिंग शैम्पू ना केवल आपके बालों को फेड होने से बचाते हैं, बल्कि कलर्ड हेयर के लुक को भी बेहतर बनाते हैं। टोनिंग शैंपू कॉम्प्लिमेंट्री कलर थ्योरी का पालन करके काम करते हैं। जिससे किसी भी कलर हेयर को मेंटेन रखना काफी आसान होता है।

ऐसे चुनें टोनिंग शैम्पू

tanning shampoo in hindi

चूंकि आजकल महिलाएं कई अलग-अलग कलर्स को बालों में अप्लाई करना पसंद करती हैं। इसलिए आपको अपने हेयर कलर के अनुसार टोनिंग शैम्पू का चयन करना होगा। इसके लिए आपको सबसे पहले इस बात पर फोकस करना होगा कि आप अपने बालों में कौन से रंग टोन को सही करना चाहती हैं। इसके लिए आप अपने बालों को पहले ध्यान से देखें। अगर आपको इसे समझने में परेशानी हो रही है तो ऐसे में आप अपने हेयरस्टाइलिंग एक्सपर्ट से भी इस बारे में बात कर सकती हैं। एक बार जब आप यह जान जाती हैं कि आप अपने बालों में किस कलर टोन को न्यूट्रीलाइज करना चाहती हैं, तो ऐसे में टोनिंग शैम्पू चुनना आसान हो जाता है। उदाहरण के तौर पर, यदि आपके बालों में गोल्डन या येलो टोन को न्यूट्रीलाइज करना चाहती हैं तो वॉयलेट या पर्पल शैम्पू चुनें।

इसे ज़रूर पढ़ें-मुंहासों से हैं परेशान तो ट्राई करें यह होममेड फेस पैक

ऐसे करें इस्तेमाल

hair care in hindi

अब बारी आती है यह जानने की, कि टोनिंग शैम्पू को कैसे इस्तेमाल किया जाए। इसे इस्तेमाल करना बेहद ही आसान है। इसे आप ठीक ऐसे ही इस्तेमाल कर सकती हैं, जैसे आप अपने रेग्युलर शैम्पू को यूज करती आई हैं। इसके लिए आप सबसे पहले बालों को पानी की मदद से गीला करें। बेहतर होगा कि आप हल्के गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें, क्योंकि इससे आपके क्यूटिकल्स ओपन होते हैं और टोनिंग शैम्पू अधिक बेहतर तरीके से काम कर पाता है। इसके बाद आप हाथों में शैम्पू लें और इसे हल्का मसाज करते हुए अप्लाई करें। इसके बाद करीबन 3-4 मिनट का इंतजार करें और फिर पानी की मदद से इसे वॉश करें। अंत में, कंडीशनर अप्लाई करें और फिर उसे भी रिंस करें।  

Recommended Video

कितनी बार करें इस्तेमाल

hair colour in hindi

चूंकि टोनिंग शैम्पू खासतौर से आपके बालों के कलर को बनाए रखने के लिए डिजाइन किए जाते हैं। इसलिए कई बार महिलाओं के मन में यह ख्याल भी आता है कि वह इसका कितनी बार इस्तेमाल कर सकती हैं। यह आप पर निर्भर करता है। मसलन, अगर आप चाहें तो इसे सप्ताह में दो से तीन बार इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके अलावा, आप एक बार टोनिंग शैम्पू को इस्तेमाल करें और अगली बार रेग्युलर शैम्पू। इस तरह आप अल्टरनेट तरीके से भी टोनिंग शैम्पू का इस्तेमाल कर सकती हैं।

इसे ज़रूर पढ़ें-गोरी त्‍वचा पाने का सबसे सस्ता उपाय है नींबू, ऐसे लगाएं

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (Freepik)