पूरा दिन हमारे बाल कई तरह की मार झेलते हैं। हेयर कलर्स से लेकर पॉल्यूशन आपके बालों को डैमेज करता है और ऐसे में बालों की अतिरिक्त केयर करने के लिए उन्हें पोषित करने की जरूरत होती है। बालों को पोषण देने के लिए हम सभी कंडीशनर व हेयर मास्क आदि का इस्तेमाल करती हैं। आमतौर पर यह बालों को नरिश करने का काम करते हैं, लेकिन इन दोनों को अप्लाई करने का तरीका और काम करने का तरीका अलग होता है और इसलिए यह जरूरी है कि आप पहले इन दोनों में अंतर समझें और फिर अपनी जरूरत के अनुसार, आप इन्हें सही समय पर अप्लाई करें ताकि आपको अतिरिक्त बेनिफिट मिल सके। हालांकि कई बार ऐसा देखा जाता है कि जब महिलाएं हेयर मास्क लगाती हैं तो उन्हें लगता है कि बालों को पर्याप्त पोषण मिल गया है और इसलिए अब कंडीशनर की जरूरत नहीं है। लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं है।

अगर आप भी अभी तक दोनों में अंतर नहीं जानती हैं तो चलिए आज हम आपको हेयर मास्क और हेयर कंडीशनर के बीच का अंतर बता रहे हैं, जिसे जानने के बाद आपके लिए अपने हेयर केयर करना अपेक्षाकृत आसान हो जाएगा-

इसे जरूर पढ़ें: घर में सस्‍ते में 'एलोवेरा बटर' बनाएं और अपनी स्किन और बालों को सुंदर बनाएं

पोषण में अंतर

Alovera Hair Mask

जैसा कि मैंने आपसे कहा है कि हेयर कंडीशनर और हेयर मास्क (दोमुंहे बालों के लिए होममेड हेयर मास्क) के काम करने का तरीका अलग-अलग होता है। मास्क और कंडीशनर के बीच मुख्य अंतर नमी और हाइड्रेशन के अलग-अलग स्तर हैं। हेयर मास्क बालों के शाफ्ट को गहराई से भेदकर किसी हेयर प्रॉब्लम को ठीक करने में मदद करते हैं। इसके विपरीत, कंडीशनर से मास्क के कार्य करने की अपेक्षा नहीं की जा सकती है। यह केवल बालों को कंडीशन करने का काम करते हैं। जबकि हेयर मास्क बालों को डीप कंडीशनिंग प्रदान करते हैं।

लगाने का तरीका अलग

Shampoo Mask

हेयर मास्क और हेयर कंडीशनर को लगाने का तरीका भी अलग-अलग है। आमतौर पर हेयर मास्क को ड्राई बालों पर लगाया जा सकता है। हालांकि इन्हें हेयर वॉश के बाद लगाने से अतिरिक्त लाभ मिलता है। जबकि मार्केट में मिलने वाले कंडीशनर को अधिकतर शैम्पू के बाद ही बालों पर अप्लाई किया जाता है। यह आफ्टर वॉश प्रोसेस का तरीका है। (ड्राई बालों को सॉफ्ट बनाने के आसान उपाय)

 

समय में अंतर

Alovera New Style Mask

हालांकि हेयर मास्क बालों को डीप कंडीशन करते हैं, लेकिन फिर भी इनका उपयोग हर रोज कई कारणों से नहीं किया जा सकता है। इनमें सबसे मुख्य है इसे अप्लाई करने के बाद लगने वाला समय। दरअसल, हेयर मास्क को बालों में लगाने के बाद आपको इसे कम से कम आधे से एक घंटे छोड़ना होता है ताकि आपके हेयर्स व स्कैल्प को पूरा पोषण मिल सके।

जबकि हेयर कंडीशनर महज एक -दो मिनट में ही अपना काम कर देते हैं। इन्हें अगर लंबे समय तक बालों में छोड़ा जाए तो बालों को फायदे के स्थान पर नुकसान होता है।

 इसे जरूर पढ़ें: एलोवेरा का ऐसे करेंगे इस्तेमाल तो कुछ ही दिनों में चेहरे पर आ जाएगा निखार

Recommended Video


रिजल्ट में फर्क

Alovera Mask

कंडीशनर और हेयर मास्क दोनों ही आपके बालों को सिल्की व स्मूथ बनाते हैं, लेकिन फिर भी इनके रिजल्ट में अंतर होता है। दरअसल, कंडीशनर अस्थायी रूप से बालों को सिल्की और स्मूथ बनाते हैं। इन्हें अप्लाई करने के बाद आपको एक या दो दिन तक ही इसका रिजल्ट नजर आए। लेकिन मास्क अंदर से स्ट्रैंड को पोषण देते हैं, जिसके कारण आपके बाल हेल्दी बनते हैं और हमेशा ही सिल्की व स्मूद नजर आते हैं।

 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।