आप सब कैसे हो? सब बढ़िया, है ना? मैं भी अच्छी हूं और अपने आज के आर्टिकल की ओर आगे बढ़ना चाहूंगी। आज मेरा विषय नाक की झाइयों को रोकने और कम करने के आसान, तुरंत और प्रभावी उपाय हैं। हम में से ज्यादातर महिलाएं नाक का उतना ख्याल रखना भूल जाती हैं, जितना हम चेहरे के दूसरे हिस्सों का करती हैं, लेकिन अपनी नाक को खूबसूरत बनाना भी जरूरी है।

पिगमेंटेशन का संदर्भ स्किन के रंग में बदलाव से होता है। स्किन पिगमेंटेशन स्किन के रंग में परिवर्तन लाता है। हालांकि, यह समस्‍या बॉडी के किसी भी हिस्से में हो सकती है लेकिन नाक भी बॉडी का एक प्रमुख हिस्सा है, जिसमें पिगमेंटेशन के चांसेज बहुत ज्यादा होते हैं। मेलानिन जो स्किन के सेल्स से ही बने होते हैं, स्किन के रंग में बदलाव यानी पिगमेंटेशन के होने का सबसे प्रमुख कारण है। 

नाक पर होने वाले पिगमेंटेशन शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचाते हैं लेकिन कई बार बहुत सारे मेडिकल कंडीशंस के कारण भी इस समस्या का सामना करना पड़ता है। नाक पर होने वाली झाइयों को कम करने के लिए आप आसान उपाय अपना सकती हैं। इन टिप्‍स के बारे में हमें डर्मेटोलॉजिस्ट और एस्थेटिक फिजिशियन आईएलएएमईडी के संस्थापक और निदेशक, डॉक्‍टर अजय राणा जी बता रहे हैं।

विटामिन- सी सप्‍लीमेंट्स

nose pigmentation reducing expert tips

नाक की झाइयों को कम करने के लिए आप विटामिन-सी के सप्लीमेंट्स ले सकती हैं जो फ्री रेडिकल्स को कम करने और ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने में मदद करते हैं। आप चाहें तो अपनी डाइट में एंटी-ऑक्सीडेंट्स को भी शामिल कर सकती हैं। साथ ही नाक पर होने वाली झाइयों को कम करने के लिए आप ऐसे स्किन केयर प्रोडक्ट्स को शामिल करें जिसमें विटामिन-सी, रेटिनॉल और फेरूलिक एसिड की मात्रा हो।

इसे जरूर पढ़ें:झाइयों को दूर भगाने के लिए ये 2 टिप्‍स अपनाएं, कुछ ही दिनों में दिखता है असर

स्किन ब्राइटनिंग पील्स

इस समस्‍या को कम करने के लिए आप स्किन ब्राइटनिंग पील्स का इस्तेमाल कर सकती हैं। यह झाइयों को कम करने का सबसे आसान और प्रभावी तरीका है। इस पील्स में कोजिक एसिड, फाइटिक एसिड, एस्कॉर्बिक एसिड की मात्रा होती है, जो मेलानिन के प्रोडक्शन को ब्लॉक करती है। यह एंजाइम मेलानिन के प्रोडक्शन को कम करता है।

लेजर ट्रीटमेंट

lazer treatment for nose pigmentation

आप नाक पर होने वाली झाइयों को कम करने के लिए लेजर ट्रीटमेंट का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। यह नाक पर होने वाले डार्क स्पॉट्स को कम करता है। लेजर ट्रीटमेंट में लेजर लाइट स्किन पर मौजूद मेलानिन को अब्‍जॉर्ब कर लेता है। यह स्किन टोन को ग्लोइंग और स्मूद बनाता है। लेजर लाइट से निकलने वाली हीट स्किन पर मौजूद डार्क सेल्स को नष्‍ट कर देती है।

एप्पल साइडर विनेगर

आप नाक पर पिगमेंटेशन को कम करने के लिए एप्पल साइडर विनेगर का इस्तेमाल कर सकती हैं। एप्पल साइडर विनेगर में एसिटिक एसिड होता है जो स्किन के पिगमेंट को करने में मदद करता है। आप एप्पल साइडर विनेगर में पानी की एक समान मात्रा को मिला लें। फिर इसे अपने नाक के पिगमेंट एरिया वाले डार्क पैचेज पर लगा लें। फिर दो तीन मिनट इसे ऐसे ही छोड़ दें और फिर नाक की त्‍वचा को गुनगुने पानी से धो लें।

एलोवेरा का इस्तेमाल

aloe vera for nose pigmentation

आप नाक की झाइयों को कम करने के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। एलोवेरा में एक नेचुरल पिगमेंट होता है जो स्किन के टोन को लाइट बनाता है। आप एलोवेरा को सोने से पहले लगा लें और सुबह गुनगुने पानी से धो लें। यह स्किन को स्मूद और स्किन पिगमेंट को सही करता है।

इसे जरूर पढ़ें:चेहरे की झाइयों से छुटकारा पाने के लिए ये 7 आसान टिप्‍स अपनाएं

ब्लैक टी वॉटर

नाक पर होने वाली झाइयों को कम करने के लिए आप ब्लैक टी वॉटर का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए आप पानी में एक बड़ा चम्‍मच ब्लैक टी डाल कर उबाल लें। फिर इसे छान कर 2-3 घंटे तक ठंडा होने के लिए रख दें। इसके बाद टी वॉटर में कॉटन में लेकर नाक पर होने वाले पिगमेंटेशन वाले हिस्से पर लगा लें।

Recommended Video

ग्रीन टी एक्सट्रेक्ट

green tea for nose pigmentation

नाक पर होने वाले झाइयों को कम करने के लिए आप ग्रीन टी एक्सट्रेक्ट का इस्तेमाल कर सकती हैं। यह स्किन पिगमेंटेशन को रोकने के लिए सबसे कारगर माना जाता है। ग्रीन टी बैग्स स्किन के डार्क पैचेज को कम करता है। इसके लिए आप ग्रीन टी बैग्स को उबलते हुए पानी पर डालकर 2-3 मिनट छोड़ दें। इसके बाद ग्रीन टी बैग को निकालकर पानी को ठंडा कर दें। इसके बाद ग्रीन टी बैग को नाक के डार्क पिगमेंटेड एरिया पर लगाएं। आप इसे दिन में दो बार इस्तेमाल करें।

आप भी इन उपायों को अपनाकर नाक की झाइयों को कुछ हद तक कंट्रोल कर सकती हैं। लेकिन इन्‍हें इस्‍तेमाल करने से पहले एक बार एक्‍सपर्ट से सलाह जरूर कर लें। ब्‍यूटी से जुड़ी और जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Shutterstock & Freepik.com