एक्सफोलिएशन हमारी स्किन के लिए बहुत जरूरी होता है जिससे डेड स्किन सेल्स हटते हैं और स्किन शाइनी बनती है, लेकिन ये सिर्फ स्किन के लिए ही अच्छा नहीं होता बल्कि बालों के लिए भी ये काफी अच्छा होता है। वैसे तो आप जो देखते हैं उसपर ही यकीन करते हैं, लेकिन एक्सफोलिएशन का असर बहुत ज्यादा होता है और ये आपके लिए बहुत ही फायदेमंद भी साबित हो सकता है। 

स्कैल्प, डैंड्रफ और हेयर फॉल की समस्या को लेकर हमने INATUR की फाउंडर, अरोमा थेरेपिस्ट और कॉस्मेटोलॉजिस्ट मिस पूजा नागदेव से बात की। उन्होंने हमें विस्तार से बताया कि आखिर किस तरह से आप अपने स्कैल्प का हेयर केयर रूटीन फॉलो कर सकते हैं। 

पूजा जी ने हमें बताया कि आखिर कितनी चीजों की वजह से हम अपने स्कैल्प का ख्याल नहीं रख पाते और स्कैल्प एक्सफोलिएशन किन-किन चीजों में मदद कर सकता है। 

hair care issues and exfoliation

इसे जरूर पढ़ें- डैंड्रफ, बालों का झड़ना और खुजली जैसी स्कैल्प की समस्याओं को खत्म करेंगे ये DIY टिप्स

एक्सफोलिएशन कर सकता है ये समस्याएं हल-

स्कैल्प एक्सफोलिएशन कई जरूरी चीज़ों के लिए अच्छा है और कई हेयर प्रॉब्लम्स से हमें बचा सकता है जैसे-

  • एक्सफोलिएशन से क्लॉग्ड हेयर फॉलिकल्स कम होते हैं। 
  • ये खुजली वाले स्कैल्प की समस्या को कम करता है।
  • ये फ्लेकी स्किन की समस्या से हमें छुटकारा दिलाता है।
  • बालों की खूबसूरती बढ़ाने में मदद कर सकता है क्योंकि इससे पूरी स्कैल्प हेल्थ सुधरती है। 

कई लोग ये गलती करते हैं कि वो अपने बालों की लेंथ पर तो ध्यान देते हैं, लेकिन स्कैल्प हेल्थ को नजरअंदाज कर देते हैं। हेल्दी स्कैल्प के लिए ये जरूरी है कि आप स्कैल्प इन्फेक्शन, डैंड्रफ और पसीने का भी ध्यान रखें। इन सभी समस्याओं से निजात पाने के लिए एक्सफोलिएशन मदद करता है। 

hair care and exfoliator

कैसे एक्सफोलिएट करें अपना स्कैल्प?

स्कैल्प को एक्सफोलिएट करने के लिए आप तीन अलग-अलग तरह के स्क्रब का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये आपके हेयर टाइप और स्कैल्प की प्रॉब्लम पर निर्भर करता है कि आप किस तरह का एक्सफोलिएटर स्क्रब इस्तेमाल करते हैं।

स्कैल्प एक्सफोलिएशन करते समय आपको 3-4 मिनट अपने स्कैल्प में ठीक तरह से मसाज करनी होगी जिससे सारी गंदगी निकले। जी हां, ये 30 सेकंड नहीं 3-4 मिनट का प्रोसेस होता है।  

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- एक्सपर्ट से जानें हेयर केयर का आसान आयुर्वेदिक नुस्खा 

1. टेक्सचर स्क्रब

ये वो स्क्रब होते हैं जो कई घरेलू चीज़ों से बनाए जा सकते हैं जैसे शक्कर, सी साल्ट, चारकोल आदि। ये स्कैल्प से गंदगी, तेल, डेड स्किन आदि निकालते हैं। स्कैल्प हेल्थ को सुधारने के लिए ये स्क्रब काफी मददगार साबित हो सकते हैं। स्कैल्प की गंदगी इनके खुरदुरे टेक्सचर के कारण हट जाती है।  

2. स्क्रब कॉम्ब 

ये स्क्रब करने वाले कंघे होते हैं जो मार्केट में आसानी से उपलब्ध होते हैं। ये एक्सफोलिएटिंग ब्रश की तरह भी मिलते हैं जिनका इस्तेमाल आप आसानी से नहाते समय कर सकते हैं। कुछ को गीले बालों में इस्तेमाल करना होता है और कुछ का इस्तेमाल सूखे बालों में होता है। आपको ध्यान ये रखना है कि आप जिस तरह का ब्रश इस्तेमाल कर रहे हों उसके इंस्ट्रक्शन बहुत अच्छे से पढ़ लें।  

3. केमिकल एक्सफोलिएंट्स 

इनका इस्तेमाल हमेशा डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह के बाद ही करना चाहिए। ये आमतौर पर शैम्पू आदि में मिलते हैं और ये अधिकतर एंटी-डैंड्रफ शैम्पू का हिस्सा होते हैं। इसके अलावा, सैलिसिलिक एसिड, pyrithione zinc, और ketoconazole जैसे इंग्रीडिएंट्स आपको मेडिकल स्टोर पर मिल सकते हैं, लेकिन ये फायदे के साथ-साथ नुकसान भी कर सकते हैं। इसलिए आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए। कई बार स्कैल्प इन्फेक्शन होने पर डॉक्टर खुद ही इन्हें सजेस्ट करता है। ये केमिकल एक्सफोलिएंट्स डेड स्किन सेल्स को गला देते हैं और इस तरह से स्कैल्प साफ होता है।  

आपके लिए कौन सा तरीका ज्यादा अच्छा हो सकता है वो आपके हेयर टाइप और स्कैल्प टाइप पर निर्भर करता है। अगर आपको बहुत ज्यादा हेयर फॉल हो रहा है या फिर आपको बालों से जुड़ी कोई और समस्या है तो आप डॉक्टर की सलाह के बाद ही कोई नया ब्यूटी ट्रीटमेंट इस्तेमाल करें।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।