डैंड्रफ एक ऐसी समस्या है जो आसानी से हो तो जाती है, लेकिन इसका हल आसानी से नहीं हो पाता है। डैंड्रफ की समस्या हेयर फॉल के सबसे आम कारणों में से एक है और इसका हल खोजने के लिए बहुत से लोग तत्पर रहते हैं। क्योंकि ये इतनी आम समस्या है इसलिए इससे जुड़े कई हेयर केयर प्रोडक्ट्स मिल जाते हैं, लेकिन इसका परमानेंट हल निकालना काफी मुश्किल है। कई फैंसी शैम्पू और तेल ये दावा करते हैं कि डैंड्रफ 15 दिन के अंदर खत्म कर देंगे लेकिन ऐसा हो नहीं पाता है। ये फैंसी प्रोडक्ट्स बहुत ही ज्यादा महंगे भी होते हैं। डैंड्रफ की समस्या कई बार झड़ते बालों का कारण भी बन जाती है।

ऐसे में अगर आयुर्वेदिक कोई रेमेडी मिल जाए जिससे बिना केमिकल के डैंड्रफ की समस्या हल कर दे तो? डैंड्रफ की इस समस्या को लेकर हमने कैराली आयुर्वेदिक ग्रुप की ज्वाइंट मैनेजिंग डायरेक्टर मिसेज गीता रमेश से बात की। उन्होंने हमें आयुर्वेदिक नुस्खा बताया जो डैंड्रफ के लिए कारगर साबित हो सकता है।

क्या होता है डैंड्रफ-

डैंड्रफ स्कैल्प का वो हिस्सा है सूखने के बाद स्कैल्प से निकल जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि स्कैल्प की स्किन डेड हो जाती है। ऐसा कई कारणों से हो सकता है और सबसे आम कारण होता है इन्फेक्शन। ये काफी खराब स्तिथि भी हो सकती है क्योंकि स्कैल्प में फंगल इन्फेक्शन हो सकता है।

इसे जरूर पढ़ें- सिर्फ एक छोटे से काम से दूर हो सकती है फ्रिजी बालों की समस्या, रात में सोते समय आजमाएं ये ट्रिक

एक्सपर्ट के हिसाब से क्या है उपाय-

एक्सपर्ट मिसेज गीता रमेश के मुताबित आयुर्वेद में ये जरूरी है कि समस्या को रोका जाए। सबसे पहली चीज़ जो लोगों को करनी चाहिए कि वो अपना स्कैल्प साफ रखें। अगर ज्यादा दिनों तक स्कैल्प गंदा रहेगा तो डैंड्रफ ज्यादा पनपेगा। इसके लिए हर्बल शैम्पू से हमेशा अपना स्कैल्प साफ रखें। इसके साथ ही हिबिस्कस पाउडर (गुड़हल का पाउडर), रीठा और शिकाकाई का इस्तेमाल किया जा सकता है। ये बालों को साफ रखने के लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकता है। आप किसी अच्छे आयुर्वेदिक तेल का इस्तेमाल भी अपने बालों में कर सकती हैं जिसका बेस नारियल का तेल हो और जिसमें कई सारी जड़ी-बूटियों का समागम हो जैसे धूरधूरापथरादी (Dhoordhoorapathradi), ये तेल वात और कफ के दोश को दूर करता है साथ ही बेहतर ब्लड सर्कुलेशन देता है। इसके कारण डैंड्रफ की समस्या कम होती है।

expert quote kairali dandruff

ऐसा करने से न सिर्फ डैंड्रफ खत्म होता है बल्कि धीरे-धीरे स्कैल्प फंगल इन्फेक्शन के कारण झड़ने वाले बालों में भी राहत मिलती है।

अन्य चर्चित आयुर्वेदिक तरीके जिनसे कम होता है डैंड्रफ-

1. नीम-

अगर फंगल इन्फेक्शन के कारण स्किन में डैंड्रफ की समस्या बढ़ रही है तो नीम ऑयल का इस्तेमाल करें। इसमें एंटी-फंगल खूबियां होती हैं जो स्कैल्प को ठीक करने में मदद करती है। नीम की खूबियां डैंड्रफ को खत्म करने में सहायक होती हैं और इसका इस्तेमाल हमेशा से ही हेयर-केयर के लिए होता रहा है।

आप चाहें तो नीम हेयर मास्क भी बना सकती हैं जिसके लिए नीम की पत्तियों को पीसकर एक पेस्ट बना लें। इसमें दही मिलाएं और इस हेयर मास्क को अपने स्कैल्प पर लगाएं। इसे 15-20 मिनट रखें और फिर धो लें।

easy expert remedy dandruff

इसे जरूर पढ़ें- प्याज का ऐसे करेंगी इस्तेमाल तो झड़ना बंद हो जाएंगे बाल, बहुत असरदार है ये देसी नुस्खे

2. अंडा और नींबू-

आप सिर पर अंडे की जर्दी और नींबू से बना हेयर मास्क भी लगा सकती हैं। इसके लिए आप दो अंडे की जर्दी में एक नींबू का रस मिलाएं। इसे अच्छे से स्कैल्प में लगाएं। इसे आधे घंटे बाद धो लें। इससे काफी राहत मिलेगी।

Recommended Video

3. आंवला और तुलसी-

अपने बालों के स्कैल्प को सही करने के लिए आंवला और तुलसी का पेस्ट भी बहुत उपयोगी हो सकता है। इसके लिए सबसे पहले आंवला पाउडर और तुलसी को साथ में ग्राइंड कर लीजिए। इसके बाद पानी मिलाकर एक पेस्ट बनाएं और इसे अपने स्कैल्प पर लगाएं।

dandruff fungl infection

4. मेथी दाने-

मेथी का इस्तेमाल हेयर केयर के लिए किया जा सकता है। रात भर के लिए मेथी दानों को भिगो दीजिए। इसके बाद सुबह इसे पीस लीजिए। आप ये पेस्ट ऐसे ही स्कैल्प पर लगा सकती हैं या फिर नींबू का रस भी इसमें मिला सकती हैं। इससे आपके बालों को काफी ज्यादा राहत मिलेगी।

5. अंडे -

आप पूरे अंडे को भी बालों में लगा सकती हैं। हालांकि, इसे थोड़ा लंबे समय के लिए लगाना होगा। इसके लिए दो अंडों को एक साथ एक बर्तन में फोड़ें और उन्हें अच्छी तरह से फेंट लें। इसके बाद अपने बालों में इसे लगाएं और 1 घंटे बाद शैम्पू से धो लें।

अगर आपको ये स्टोरी पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर करें। अपना एक्सपीरियंस आप हमें कमेंट बॉक्स में बताएं। इसी के साथ, ऐसी ही अन्य खबरें पढ़ने के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी से।