कम्युनिकेशन सबसे अच्‍छे डेवलपमेंट्स में से एक है जिसने आधुनिक जीवन को प्रभावित किया है। कुछ दशक पहले के विपरीत, आज हम कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल फोन के बिना नहीं रह सकते हैं। वास्तव में कम्युनिकेशन के आधुनिक तरीकों ने पत्र और तार को अप्रचलित बना दिया है! जहां तक मोबाइल फोन का सवाल है, यह हमारे लिए बेहद जरूरी बन गया है। 

हालांकि, मोबाइल फोन का लगातार इस्तेमाल और उसका प्रभाव पिछले कुछ समय से चिंता का विषय बना हुआ है। इलेक्ट्रोमैग्नेटिक रेज के उत्सर्जित रेडिएशन और हमारी हेल्‍थ पर इसके प्रभाव पर कई अध्ययन किए गए हैं। हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के अनुसार, ब्‍लू लाइट नींद को प्रभावित करती है और संभावित रूप से बीमारी का कारण बन सकती है, जिसमें रेटिना की समस्याएं भी शामिल हैं।

त्‍वचा से जुड़ी समस्‍याएं

मोबाइल फोन के जरिए त्वचा को भी काफी मात्रा में रेडिएशन मिलता है। दरअसल, इस बात की आशंका है कि कहीं इसके चलते स्किन डिजीज और कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस के मामले न बढ़ जाए। विशेषज्ञों को यह भी डर है कि मोबाइल फोन के बढ़ते उपयोग और लंबे समय तक कॉल करने से त्वचा की समस्याओं और अन्य प्रभावों का खतरा बढ़ सकता है, जैसे सिरदर्द का बढ़ना, नींद में गड़बड़ी, थकान, सुस्ती आदि। यह सही समय है कि हम बैठें और मोबाइल फोन के हमारी हेल्‍थ और यहां तक कि रूप-रंग पर पड़ने वाले प्रभावों पर विचार करें।

हम सभी सुंदरता पर उन लेखों को याद करते हैं जब हमें कहा जाता था कि भौं न चढ़ाएं, क्योंकि इससे माथे पर फाइन लाइन्‍स आ जाती थीं। डॉक्टरों का मानना है कि फोन पर मैसेज को पढ़ने के लिए लगातार भेंगापन, उनमें से कुछ छोटे फ़ॉन्ट साइज में, आंखों के बाहरी कोनों पर माथे पर समय से पहले की फाइन लाइन्‍स भी पैदा हो सकती हैं।

how mobile phone is affecting  your skin

आई क्रीम का करें इस्‍तेमाल

समय के साथ, ये छोटी-छोटी झुर्रियां और लाइन्‍सपरमानेंट हो जाती हैं। इस तरह की समस्याओं का मतलब है कि हमें आंखों और त्वचा के आसपास की त्‍वचा की नियमित देखभाल करने की जरूरत है, ताकि समय से पहले उम्र बढ़ने के इन लक्षणों को दूर रखा जा सके। आई क्रीम के इस्‍तेमाल से इसमें मदद मिलेगी।

ऐसा कहा जाता है कि चेहरे के किनारे मोबाइल फोन से निकलने वाली हीट, रेडिएशन और ब्‍लू लाइट के संपर्क में आने से त्वचा पर हाइपर पिगमेंटेशन और काले धब्बे या पैच हो सकते हैं। नेचुरल तरीके से, सेल फोन के उपयोग और कॉल की अवधि को कम करना चाहिए। आप चाहें, तो डैमेज को सीमित करने के लिए ब्लू टूथ डिवाइस, या शायद इयरफ़ोन का इस्‍तेमाल करें।

इसे जरूर पढ़ें:शहनाज़ हुसैन के ये टिप्स हर तरह की स्किन के लिए आएंगे काम

स्किन सीरम का इस्‍तेमाल करें

जब आप घर पर हों, तो जितना हो सके अपने लैंडलाइन का इस्तेमाल करने की कोशिश करें। काले धब्बों के लिए, स्किन सीरम से त्वचा की रक्षा करें, विशेष रूप से एक जिसमें प्लांट स्टेम सेल होते हैं। सीरम की कुछ बूंदें लें और इसे त्वचा पर लगाएं। एंटी-पिगमेंटेशन जैल और क्रीम भी उपलब्ध हैं।

सेल फोन को मुंहासे पैदा करने या मुंहासे की स्थिति को बढ़ाने के लिए भी जाना जाता है। दरअसल, सेल फोन में बहुत सारे बैक्‍टीरिया हो सकते हैं। अगर आपको डैंड्रफ है, तो हेयरलाइन के गुच्छे चेहरे के किनारे तक भी पहुंच सकते हैं, जिससे पिंपल्स और मुंहासे हो सकते हैं।

shahnaz husain skin care tips 

एस्ट्रिजेंट लोशन का इस्‍तेमाल

बालों से सीबम (त्वचा और खोपड़ी का प्राकृतिक तेल) चेहरे का ऑयल बढ़ा सकता है और पोर्स को बंद कर सकता है, जिससे ब्लैकहेड्स और यहां तक कि मुंहासे भी हो सकते हैं। फोन को रोजाना साफ करें। ऑयली या मुंहासे वाली त्वचा के लिए ऑयल को कम करने के लिए एस्ट्रिजेंट लोशन और कॉटन से पोंछें। पोर्स को साफ रखने के लिए हफ्ते में दो बार फेशियल स्क्रब का इस्तेमाल करें। मुंहासों के फटने पर स्क्रब लगाने से बचें।

Recommended Video

चिंता का एक अन्य कारण सेल फोन से निकलने वाली ब्‍लू लाइट और इसका त्वचा पर पड़ने वाला प्रभाव है। विशेषज्ञों का मानना है कि कोलेजन के टूटने और त्वचा की लोच के क्रमिक नुकसान के कारण झुर्रियां, पिगमेंटेड पैच या यहां तक कि ढीली त्वचा जैसे दिखाई देने वाले उम्र बढ़ने के संकेतों के संदर्भ में ब्‍लू लाइट  त्वचा को नुकसान पहुंचा सकती है।

इसे जरूर पढ़ें:त्वचा को साफ़ और हेल्दी बनाने के लिए फॉलो करें ये टिप्स

तो उत्तर क्या है? पहली चीज जो आप कर सकते हैं, वह सेल फोन पर कम बातचीत करना है और जब भी संभव हो, लैंडलाइन का उपयोग करना। एक्‍सपर्टस का कहना है कि "हैंड्स-फ्री" डिवाइस से फोन और चेहरे के बीच अधिक दूरी बनाने में मदद मिलती है। 

वास्तव में, सेल फोन का प्रभाव दुनिया भर में चिंता का विषय बन गया है और निश्चित रूप से और अधिक शोध की ओर ले जाएगा। इस बीच, हमें और अधिक जागरूकता पैदा करना जारी रखना चाहिए, अपने बच्चों और खुद को मोबाइल फोन के नकारात्मक प्रभाव से सुरक्षित रखना चाहिए।

आप त्‍वचा की देखभाल के लिए शहनाज हुसैन के बताए इन प्रोडक्‍ट्स का इस्‍तेमाल कर सकती हैं।

skin care products

how mobile phone affect

(फेमस ब्यूटी और हेयर केयर एक्सपर्ट्स शहनाज हुसैन 'शहनाज हुसैन ग्रुप' की चेयरपर्सन, फाउंडर और मैनेजिंग डायरेक्टर हैं। शहनाज हुसैन के कई हर्बल प्रोडक्‍ट्स आपको बाजार में आसानी से मिल जाएंगे। ब्‍यूटी के क्षेत्र में आर्यूवेद को बढ़ावा देने के लिए उन्‍हें कई अवॉर्ड्स से नवाजा भी जा चुका है।)  

अगर आपको यह आर्टिकल अच्‍छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। इसी तरह और भी शहनाज हुसैन की ब्‍यूटी टिप्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।

Image Credit: Shutterstock.com