आज के समय में, पर्यावरण प्रदूषण एक प्रमुख त्वचा देखभाल चिंता है, क्योंकि यह त्वचा की कई समस्याओं से जुड़ी है, जिसमें पिगमेंटेशन, मुंहासे और ब्रेकआउट, समय से पहले फाइन लाइन्‍स आना और त्वचा कैंसर शामिल हैं। छोटे वायुजनित प्रदूषक छिद्रों में फंस जाते हैं और त्वचा को ऑक्सीडेटिव तनाव पैदा करके नुकसान पहुंचाते हैं।

प्रदूषण के संपर्क में आने वाली त्वचा में सीबम स्राव की दर अधिक होती है और लैक्टिक एसिड की मात्रा अधिक होती है, जिसके परिणामस्वरूप गैर-प्रदूषित क्षेत्रों की तुलना में त्वचा का पीएच असंतुलित हो जाता है। लेकिन परेशान न हो क्‍योंकि त्वचा और शरीर के लिए एक जड़ी-बूटी, अश्वगंधा प्रभावी है और यह हेल्‍दी त्वचा और जीवन शैली को बढ़ावा देती है। अश्वगंधा बायो-एक्टिव सिद्धांतों जैसे विथेनोलाइड्स, सैपोनिन्स और एल्कलॉइड्स से भरपूर है, जो त्वचा को गहराई से साफ, मॉइश्चराइज और शांत करता है।

जी हां आयुर्वेद की दुनिया में कई आश्चर्यजनक जड़ी-बूटियां हैं और बहुआयामी लाभों वाली एक ऐसी जड़ी-बूटी अश्वगंधा है। जड़ी-बूटी का नाम संस्कृत के शब्द अश्व (घोड़ा) और गंध से लिया गया है। अश्वगंधा एक मूल्यवान जड़ी-बूटी है, जो रसायन (कायाकल्प) और वात संतुलन गुणों के कारण तनाव, चिंता और डायबिटीज के प्रबंधन में मदद करती है।

इनके अलावा, जब महिलाओं के लिए इसके त्वचा देखभाल लाभों पर चर्चा की जाती है, तो इसके त्वचा और बालों दोनों के लिए संयुक्त लाभ होते हैं। इसे कच्चे या सप्‍लीमेंट रूप में लिए जाने पर अश्वगंधा प्राकृतिक त्वचा के तेल का उत्पादन करता है, इसमें एस्ट्रिजेंट गुण होते हैं जो त्वचा को मॉइश्चराइज करते हैं। 

ashwagandha for skin benefits by expert

जब अश्वगंधा के पाउडर को शहद या दूध के साथ मिलाया जाता है, तो यह टोनर के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यह त्‍वचा के लिए कैसे फायदेमंद है? इस बारे में हमें वेद क्योर के संस्थापक और निदेशक, श्री विकास चावला जी बता रहे हैं। 

श्री विकास चावला जी का कहना है, ''प्रचलित गतिहीन और तनावपूर्ण जीवन में, एक जड़ी-बूटी के रूप में अश्वगंधा के ऐसे लाभ हैं जो शरीर और त्वचा की बाहरी विशेषताओं से अधिक उच्चारण करने में सहायक होते हैं। एडाप्टोजेन से भरपूर यह जड़ी-बूटी ऐसी है, जो अंदर से तनाव को कम करके प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करती है। इस तरह से महिलाओं के लिए यह काफी फायदेमंद होती है।

एंटी-एजिंग गुणों से भरपूर

यह प्राचीन उपाय एंटी-एजिंग दवा के रूप में भी काम करता है। अश्वगंधा में त्वचा में कोलेजन उत्पादन को बढ़ावा देने की क्षमता होती है जो उम्र बढ़ने के कारण दिखाई देने वाले संकेतों को रोकता है। इसके अलावा, अश्वगंधा एक शक्तिशाली एंटी-इंफ्लेमेटरी एजेंट है जो आपकी त्वचा को पहले से कहीं ज्यादा शांत करता है।

इसे जरूर पढ़ें: जवां बने रहना हो या स्‍ट्रेस दूर भगाना, अश्वगंधा है महिलाओं के लिए नंबर-1 हर्ब

मुंहासों का इलाज

ashwagandha for pimples

अपने एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण, अश्वगंधा को मुंहासों के इलाज में प्रभावी पाया गया है। साथ ही अश्वगंधा में एंटीबैक्‍टीरियल गुण होते हैं जो नई अशुद्धियों के निर्माण से लड़ने और सक्रिय दोषों को दूर करने में प्रभावी होते हैं। यह त्वचा की सूजन, चकत्ते, त्वचा की लालिमा और फोड़े को ठीक करता है। यह उन प्रोडक्‍ट्स के साथ सबसे अधिक उपयोगी होता है, जो त्वचा के लिए बने होते हैं जैसे क्रीम, सीरम और मॉइश्चराइजर।

तेल स्राव को करता है कम

अगर आप ऑयली स्किन से परेशान हैं, तो किसी भी कठोर केमिकल वाले प्रोडक्‍ट्स की जगह अश्वगंधा का इस्तेमाल करें। अश्वगंधा प्राकृतिक रूप से तेल के स्राव को रोकता है, जिससे ऑयली त्वचा की समस्या कम हो जाती है।अश्वगंधा के तत्व आपकी त्वचा से आवश्यक नमी को छीने बिना, त्वचा को शांत, स्वच्छ और तेल मुक्त बनाते हैं।

हाइपरपिगमेंटेशन

ashwagandha for pigmentation

हाइपरपिगमेंटेशन एक त्वचा रोग है, जहां एक विशिष्ट त्वचा पैच का रंग गहरा हो जाता है और बाकी त्वचा के रंग से अलग हो जाता है। यह कालापन तब होता है जब मेलेनिन (एक रंग पैदा करने वाला वर्णक) की अधिक मात्रा त्वचा से चिपक जाती है। यह एक सामान्य त्वचा रोग है जो लगभग सभी प्रकार की त्वचा को प्रभावित करता है।

अश्वगंधा मेलेनिन के उत्पादन को कम करता है और त्वचा को पिगमेंट से बचाता है। पिगमेंटेशन को दूर करने के लिए इसे चेहरे पर ऊपर से लगाया जा सकता है।

Recommended Video


त्वचा का हाइड्रेट करने में मददगार

ड्राई त्वचा से छुटकारा पाने के लिए अश्वगंधा का इस्तेमाल करें। यह त्वचा को मॉइश्चराइज करता है और इसे स्‍मूथ बनाता है। यह हयालूरोनन के उत्पादन में मदद करता है, जो ड्राई त्वचा को ठीक करता है और उसे हाइड्रेट करता है।

इसे जरूर पढ़ें: झुर्रियों और सफेद बालों का काल है अश्वगंधा, शहनाज हुसैन से जानें

त्‍वचा के लिए अश्वगंधा का इस्‍तेमाल कैसे करें?

ashwagandha for skin 

  • आप फेस पैक बनाकर अश्वगंधा का इस्तेमाल कर सकती हैं। अश्वगंधा पाउडर को सही मात्रा में पानी के साथ मिलाकर त्वचा पर लगाएं।
  • आधा चम्मच अश्वगंधा पाउडर लें और उसमें थोड़ी मात्रा में घी और शहद मिलाएं। इस मिश्रण का सेवन दिन में दो बार करें।
  • एक गिलास गर्म दूध में आधा चम्मच अश्वगंधा पाउडर मिलाएं। इसे सोने से पहले पिएं।

अश्वगंधा सबसे अच्छी जड़ी बूटी है जो मुंहासों, पिगमेंटेशन और त्वचा संबंधी अन्य समस्याओं का इलाज कर सकती है। आप इसे त्‍वचा पर लगा सकती हैं या इसका सेवन कर सकती हैं। लेकिन अधिक मात्रा में सेवन करने से पेट की समस्या हो सकती है। यह ब्लड थिनर के रूप में भी काम करता है, इसलिए इसके उपयोग और खुराक के बारे में जागरूक रहें। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हर जिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com