अक्सर महिलाओं को अच्छी आई साइट, हेल्दी बाल और ग्लोइंग स्किन के लिए सीफूड अपनी डाइट में शामिल करने की सलाह दी जाती है। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी हो सकती है कि यही डाइट महिलाओं को जल्दी मां बनने में भी मदद करती है। मां बनना जीवन के सबसे सुखद पलों में से एक है। मां बनने की चाह रखने वाली महिलाएं उस पल का इंतजार करती हैं जब उनके घर में बच्चे की किलकारियां गूंजें और वे अपने लाडले को दुलार और प्यार करें। एक नए अध्ययन में यह बात प्रमाणित की गई है कि सीफूड अपनी डाइट में लेने से प्रेग्नेंसी की संभावना बढ़ जाती है। 

tips for early pregnancy inside

बच्चे की चाह रखने वाली महिलाएं प्रेग्नेंट होने के लिए हर संभव प्रयास करती हैं, कई तरह की दवाएं लेती हैं, मंदिरों में जाकर मुरादें मांगती हैं, दान करती हैं। आपको यह जानकर खुशी होगी कि मां बनने की यह इच्छा अपनी डाइट में सी-फूड लेने से पूरी की जा सकती है। दरअसल सी फूड लेने के जितने फायदे हमें पता होते हैं, उससे कहीं ज्यादा लाभ यह डाइट लेने से हमारे शरीर को मिलते हैं। जर्नल ऑफ क्लीनिकल एंडोक्रिनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म की एक स्टडी में यह बात कही गई है कि प्रेग्नेंसी और सी फूड के बीच गहरा संबंध है। 

इसे जरूर पढ़ें: ऐप्स से पीरियड्स की तारीख याद रखने के साथ अपनी प्रेग्नेंसी भी प्लान करें

द एंडोक्राइन सोसाइटी की तरफ से हुई इस स्टडी में पता चला कि जो कपल्स अपनी डाइट में सी फूड ज्यादा लेते हैं, उनमें फिजिकल रिलेशन बनाने की इच्छा अन्य कपल्स की तुलना में ज्यादा होती है। रिलेशन बनाने की स्थिति में महिलाएं के प्रेग्नेंट होने की संभावना भी अन्य महिलाओं की तुलना में बढ़ जाती है।

ऐसी महिलाएं, जो जल्दी प्रेग्नेंट होना चाहती हैं, उनके लिए सीफूड प्रोटीन और अन्य पोषक तत्वों का एक अहम स्रोत माना जाता है। हालांकि इसमें पाए जाने वाले पारे की वजह से कुछ महिलाओं को मछली बहुत ज्यादा ना खाने की सलाह भी दी जाती है। इस स्टडी में जो नतीजे सामने आए, उन्हें देखते हुए महिलाओं को हफ्ते में 2 से 3 बार ही मछली खाने का परामर्श दिया गया, जबकि मछली खाने वाली लगभग 50 फीसदी प्रेग्नेंट महिलाएं अभी भी इस बताई गई मात्रा से बहुत कम मछली ही अपनी डाइट में लेती हैं। 

 

यह स्टडी करने वाले लीड रिसर्चर ऑड्रे गास्किन्स के अनुसार समुद्री भोजन खाने के प्रेग्नेंसी से जुड़े कई फायदे मिलते हैं, जिसमें जल्दी प्रेग्नेंसी होने से लेकर सेक्सुअली एक्टिव रहना भी शामिल है। ऑड्रे के अनुसार इस अध्ययन में पता चला है कि जो शादीशुदा जोड़े जल्दी बच्चा चाहते हैं, वो हफ्ते में 2 से ज्यादा बार सीफूड का सेवन करते हैं, उनमें फिजिकल रिलेशन बनाने की अधिक इच्छा होती है और इसी से महिलाओं के प्रेग्नेंट होने की संभावना बढ़ जाती है। 

Image Courtesy: Pixabay