हम सभी यह समझते हैं कि व्यस्त दिनचर्या का अर्थ है खुशहाल जीवन क्योंकि हमारे पास करने के लिए बहुत कुछ है। लेकिन इस भागदौड़ भरी जिन्दगी से आपको चंद मिनट निकालकर कभी गहराई से सोचा है कि वास्तव में क्या यही सच है। नहीं, अगर आप खुद से सच बोलने की हिम्मत रखती है तो आपको खुद ब खुद जवाब मिल जाएगा। आज के मॉडर्न लाइफस्टाइल में हमें वह खुशी व शांति नहीं मिलती, जो पुराने समय में लोगों के पास थी। यहां तक कि इस फास्ट लाइफ ने हमें तनाव व अन्य कई तरह की बीमारियां दी हैं। भले ही आज हमारे पास करने के लिए बहुत कुछ है, लेकिन उसे खुशी नहीं कहा जा सकता। यह ठीक वैसे ही है कि हमारे पास अधिक डॉक्टर हैं, लेकिन हेल्थ कम है। हमारे पास अधिक भोजन है, लेकिन कम पोषण है और यह सब इसीलिए है क्योंकि हमने अपनी soul के बारे में सोचना छोड़ दिया है। 

इसे जरूर पढ़ें: ‘ॐ’ उच्चारण करने से मिलेंगे ये 5 फायदे, जो पैसा खर्च करने से भी नहीं मिल पाएंगे

अगर आप इंटरनेट पर देखेंगे तो आपको बॉडी को डिटॉक्स करने के हजारों तरीके नजर आएंगे, लेकिन आत्मा को डिटॉक्स करने के बारे में कोई बा नहीं करता। अपनी soul पर ध्यान न देने के कारण ही वह नकारात्मक विचारों से काफी टॉक्सिक हो जाती है। ऐसे में खुद को लाइट, बेहतर, खुश व सकारात्मक बनाने के लिए उसे भी समय-समय पर डिटॉक्स करना पड़ता है। तो चलिए आज हम आपको soul को डिटॉक्स करने के कुछ आसान तरीकों के बारे में बता रहे हैं-

नकारात्मक लोगों से रहें दूर

inside  how to detox your soul

आपने सुना ही होगा कि जैसी संगत, वैसी रंगत। अर्थात् आप जिस तरह के लोगों के साथ रहते हैं, आपकी सोच भी काफी हद तक वैसी ही हो जाती है। इसलिए अपनी आत्मा को डिटॉक्स करने का सबसे पहला कदम है कि आप नकारात्मक लोगों से दूरी बनाना शुरू कर दें। यह न सिर्फ आपके आत्मविश्वास को कमजोर करते हैं, बल्कि इसके कारण आपके भीतर नकारात्मक विचार आने शुरू हो जाते हैं, जिससे आपका मन हर गुजरते दिन के साथ और भी ज्यादा toxic होता चला जाता है।

हेल्दी डाइट

inside  how to detox your soul

आपका आहार सिर्फ आपके तन ही नहीं, मन पर भी असर डालता है। जब आप अनहेल्दी डाइट लेती हैं तो इससे आपका शरीर तो प्रभावित होता है ही, साथ ही आपका मन भी काफी तनावपूर्ण हो जाता है। वहीं पोषक तत्वों युक्त संतुलित आहार आपके तन व मन दोनों को ही संतुष्टि प्रदान करता है। इससे आप बीमारियों से भी दूर रहती हैं और पोषक तत्व आपके शरीर के सभी हिस्सों को सही तरह से कार्य करने के लिए प्रेरित करते हैं। इसलिए हेल्दी डाइट को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं। इस तरह आप तनाव को भी खुद से दूर रख सकती हैं। अगर आपने कभी नोटिस किया हो तो ऋषि-मुनि हमेशा सात्विक आहार खाने पर जोर देते हैं और वह खुद भी संयमित तरीके से भोजन करते हैं क्योंकि इससे उनका तन ही नहीं, मन भी toxic नहीं होता।

मेडिटेशन

inside  how to detox your soul

यह अपनी आत्मा को डिटॉक्स करने का सबसे आसान लेकिन प्रभावी तरीका है। आप दिन में महज 5 से 10 मिनट मौन में बैठें और अपनी श्वास पर ध्यान केंद्रित करें। जब आप अपनी आंखें खोलेंगी तो अपने भीतर एक स्फूर्ति व हैप्पीनेस का अहसास होगा। इस आंतरिक भाव को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। बस आप एक बार ध्यान करके देखें, आपको खुद-ब-खुद फर्क नजर आएगा।

फोन को करें बंद

inside  how to detox your soul

आज के समय में फोन या इंटरनेट से पूरी तरह दूरी बनाना तो संभव नहीं हैं, लेकिन अगर आप सच में अपने मन को डिटॉक्स करना चाहती हैं तो दिन में एक घंटा फोन को बंद करें। आपको शायद अहसास न हो, लेकिन बहुत सी शारीरिक और मानसिक समस्याओं के पीछे का कारण यह स्क्रीन ही है। इसलिए इससे दूरी बनाकर आप अपने परिवार व हॉबी को टाइम दें। जब आप फोन की बजाय अपने आसपास की चीजों पर अधिक फोकस करेंगी तो आपका मानसिक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य बेहतर होने लगेगा।

इसे जरूर पढ़ें: ये जादुई टिप्स अपनाएं, घर से नेगेटिव एनर्जी को कोसों दूर भगाएं

प्रकृति से दोस्ती

inside  how to detox your soul

यह भी अपने मन को डिटॉक्स करने का एक बेहतरीन उपाय माना गया है। मानव निर्मित चीजें चाहे कितनी भी बेहतरीन हो, लेकिन वे हमें वह वह खुशी और शांति नहीं प्रदान करेंगी जो प्रकृति से मिलती है, क्योंकि हम अप्राकृतिक दुनिया में रहने के लिए डिज़ाइन नहीं किए गए हैं। इसलिए अपने मन को डिटॉक्स करने के लिए जितना संभव हो, आप प्रकृति से साथ उतना समय बिताएं। यह आपको अपना मन रीसेट करने और अपनी आत्मा को फिर से जीवंत करने में मदद करेगा।