फिटकरी देखने में जितना सामान्य लगता है उतना है नहीं। असल में इसमें पाया जाने वाला पोटेशियम एल्युमिनियम सल्फेट घरेलू तौर पर कई तरह की स्किन संबंधी समस्‍याओं और अन्य प्रकार की बीमारियों के उपचार के लिए फायदेमंद है। जिससे शायद आप अभी तक अपरिचित होंगे। हालांकि, आपने अक्सर देखा होगा कि दादा, चाचा या कोई अन्य बुजुर्ग व्यक्ति दाढ़ी बनाने के बाद इसे अपने चेहरे पर लगते हैं। संभवतः आप के मन में यह जिज्ञासा होती होगी कि आखिर फिटकरी लगाने से क्या होता है? आखिर इसका इस्तेमाल किन-किन रुप में हो सकता है? तो अब आप परेशान ना हो क्‍योंकि आज हम आपको यह बताएंगे कि आखिर फिटकरी क्यों घरेलू उपचार के लिए सही माना जाता है। 

इसे भी पढ़ें: क्या केले की चाय पी है अगर नहीं तो आज ही करें ट्राई और 5 बीमारियों से छुटकारा पाएं

पानी को साफ करने में

दिल्ली, मुंबई और दूसरे अन्य बड़े-बड़े शहरों में सप्लाई का गंदा पानी आना कोई बड़ी बात नहीं है। ऐसे में अगर फिटकरी गंदे पानी की सफाई में इस्तेमाल किया जाए तो कैसा रहेंगा। जी हां, पोटेशियम एल्युमिनीयम सल्फेट और एंटी-बैक्टीरियल की सहायता से फिटकरी पानी में मौजूद बैक्टीरिया को जड़ से खत्म कर देता है। फिटकरी को गंदे पानी में डालने पर यह पानी की गंदगी को नीचे जमा कर देती है और आपको साफ पानी उपलब्ध होता है। 

माउथवास के लिए लाभदायक

सांसों में बदबू आना सामान्य बात है फिटकरी इसके उपचार के लिए सही माना जाता है। फिटकरी में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल मुंह से निकलने वाली बदबू को आसानी से दूर कर देता है। अगर आपके दांत या मसूड़े में किसी भी प्रकार का दर्द हो तो फिटकरी से माउथवास करने पर आराम मिल सकता है। फिटकरी के पानी से गरारे करने पर फायदेमंद हो सकता है।   

चोट लगने और घाव होने पर 

benefits of alum or fitkari inside

घर में किसी को चोट लगना और घाव होना आम बात है। ऐसे में अगर, घर में फिटकरी हो तो इसका इस्तेमाल चोट लगने और घाव होने पर किया जा सकता है। घाव या चोट लगने या लगातार खून आने पर आप फिटकरी के पानी का इस्‍तेमाल कर सकते है। घाव वाली जगह को फिटकरी के पानी से धोएं इससे खून निकलना बंद हो जाएगा। आप फिटकरी को महीन पीसकर भी इस्तेमाल में ला सकते हैं।

पसीने की बदबू से मिलेगा छूटकारा

benefits of alum or fitkari inside

गर्मियों में पसीना आना कोई बड़ी बात नहीं है। ऐसे में अगर पसीने से हमेशा बदबू आती हो तो फिटकरी इसके लिए कारगर उपचार है। इसके लिए नहाने से पहले फिटकरी का महीन चूर्ण बनाकर उसकी थोड़ी मात्रा पानी में डाल सकते हैं। ऐसा करने से आपको पसीना भी कम आएगा और पसीने की बदबू से भी मुक्ति मिलेगी। 

सिर की गंदगी के साथ जुएं की सफाई में फायदेमंद

benefits of alum or fitkari inside   

फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल प्रॉपटी होती है, जो बैक्टीरिया को मारने में हेल्प करती हैं। यहीं वजह है कि इसके इस्तेमाल से सिर के जुएं मर जाते हैं। फिटकरी जुएं मारने के साथ-साथ आपके सर के गंदगी को भी दूर करता है। इसके लिए आपको फिटकरी के पानी से नियमित रुप से नहाना होगा। इसके इस्तेमाल से आपको जल्द ही जुओं के साथ-साथ सर के गंदगी से छुटकारा मिल जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: इस रागी रोटी को खाने के बाद परांठा पूरी खाना भूल जाएंगी आप

खांसी और दमा के लिए लाभदायक

benefits of alum or fitkari inside

फिटकरी किसी एक बीमारी के लिए लाभदायक नहीं है बल्कि इसके इस्तेमाल से खांसी, दमा और बलगम जैसी बिमारियों से भी निजात पाया जा सकता है। इसके लिए आपको फिटकरी पीसकर शहद के साथ मिलाकर चाटना होगा। ऐसा करने से खांसी, दमा और बलगम की समस्‍या ठीक हो जाएगी।  

यूरिन इंफेक्शन में फायदेमंद  

लोंगो में यूरिन इंफेक्शन की शिकायत काफी होती है। फिटकरी इस समस्या का बेहतर उपचार है। इस समस्या को दूर करने के लिए आप दिन में दो बार फिटकरी के पानी से अपने प्राइवेट पार्ट की सफाई करें। ऐसा करने से आपको इंफेक्शन की समस्या नहीं होगी और आप पहले से बेहतर महसूस करेंगे।