सैलानियों के बीच हिमाचल प्रदेश काफी लोकप्रिय है। हो भी क्यों न यहां की खूबसूरती, सुंदर छोटे और शांत गांव, कल्चरल डाइवर्सिटी, लोगों को अपनी तरफ आकर्षित कर ही लेती है। शिमला, मनाली,, धर्मशाला, मैकलॉडगंज आदि जगहों पर तो अक्सर आपने लोगों की भीड़ देखी होगी। अगर आप इस भीड़-भाड़ से दूर जाना चाहती हैं, तो किन्नौर जिले में स्थित एक प्यारे शहर कल्पा में घूम आइए। यह सेब के बागानों के लिए जाना जाता है। इसके अलावा आप यहां अपनी छुट्टियां का भरपूर आनंद ले सकती हैं। यहां घूमने के लिए कई बेहतरीन जगहें हैं, उन्हीं के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं।

किन्नौर कैलाश

kinnaur kailash

कल्पा किन्नौर के सबसे बड़े और सबसे खूबसूरत गांवों में से एक है। अगर आप कल्पा घूमने आते हैं, तो यहां से किन्नौर कैलाश का आनंद उठा सकती हैं। किन्नर कैलाश की बर्फ से ढकी चोटी यहां से बेहद खूबसूरत दिखती है। इस चोटी को रंग बदलने के लिए जाना जाता है। माना जाता है कि यह भगवान शिव का घर है। अगर आप ट्रैकिंग करना चाहती हैं, तो उसके लिए भी यह जगह सटीक है।

नारायण नागिनी मंदिर

यहां का दूसरा आकर्षण केंद्र है यह मंदिर, जो पारंपरिक तिब्बतन पगोड़ा स्टाइल में बनाया गया है। यह मंदिर चीनी गांव के बिल्कुल टॉप पर बसा है, जहां से आप पूरे किन्नौर जिले की खूबसूरती को निहार सकती हैं। कहा जाता है कि यह मंदिर कुछ पांच हजार साल पुराना है। इस मंदिर के कुछ ही दूरी पर एक मोनस्ट्री है जिसका नाम Hu-Bu-Lan-Kar है, आप चाहें तो यहां भी जा सकती हैं।

इसे भी पढ़ें :हिमाचल की इन Unexplored जगह के बारे में नहीं जानती होंगी आप

कामरू किला

kamru kila

इसके पास ही सांगला है जहां से कुछ ही दूरी पर स्थित है कामरू फोर्ट। यह किला प्राचीन शाही लकड़ी से बना है और अब इसे काम्खया देवी के मंदिर के रूप में परिवर्तित कर दिया गया। इस किले में कई करोड़ देवी-देवता मौजूद हैं। प्रवेश द्वार पर बुद्ध की एक मूर्ति है। इसकी बालकनी से आप हिमालय की चोटियों को निहार सकती हैं। इसके आसपास कई अन्य फोर्ट भी हैं।

इसे भी पढ़ें :कुल्लू-मनाली ही नहीं, हिमाचल के ये पांच गांव भी मोह लेंगे आपका दिल

रोघी ट्रेक

यह गांव कल्पा से सिर्फ 8 किलोमीटर दूर है। सुबह जल्दी उठ कर कल्पा से रोघी गांव तक जाना एक अच्छा और लंबा ट्रेक बन सकता है। इसके टेढ़े-मेढ़े रास्ते आपको प्रकृति की गोद में ले जाएंगे। यह गांव अपने सरल-सादी परंपरा के लिए जाना जाता है। यहां के लोगों का पहनावा भी बहुत सादा है। अगर ऑथेंटिक पहाड़ी खाने का स्वाद लेना हो, तो यहां उसका आनंद लिया जा सकता है।

Recommended Video

कैसे पहुंचें कल्पा

how to reach kalpa

हवाई यात्रा :  शिमला का जुब्बरहट्टी हवाई अड्डा कल्पा का निकटतम हवाई अड्डा है, जो लगभग 270 किमी की दूरी पर स्थित है। हवाई अड्डा कई प्रमुख शहरों जैसे दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, आदि से जुड़ा हुआ है।

ट्रेन यात्रा : शिमला में एक छोटा रेलवे स्टेशन है, जिसके माध्यम से लोकप्रिय टॉय ट्रेन गुजरती है। यह कल्का होते हुए एक नैरो ट्रैक गुजरती है। कल्का ही कल्पा पहुंचने का निकटतम रेलवे स्टेशन है। जो सात से आठ घंटे में आपको यहां पहुंचा देता है। 

बस यात्रा : कल्पा जाने के लिए आप एचआरसीटीसी की बस भी बुक कर सकती हैं। शिमला, मनाली, किन्नौर से कई बसें कल्पा के लिए जाती हैं।  बस से कल्पा पहुंचने में आपको लगभग 13-14 घंटे लगेंगे।

कल्पा जाने का सही समय

कल्पा की यात्रा का आदर्श समय अप्रैल से जुलाई के गर्मियों के महीने हैं क्योंकि इस अवधि के दौरान यहां का तापमान 8 डिग्री सेल्सियस से 24 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है। इस मौसम में हल्के ऊनी कपड़े ले जाना काफी होता है।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें। ऐसे अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हर जिंदगी के साथ।

Image credit: freepik, unsplash, wikipedia,holidify.com