• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

पहली बार वैष्णों देवी जाने से पहले जरूर जान लें ये बातें

अगर आप भी पहली बार वैष्णों देवी की यात्रा करने का प्लान बना रही हैं तो आपको इस पवित्र स्थान से जुड़ी कुछ खास और जरूरी बातों को जान लेना चाहिए। 
author-profile
  • Kirti Jiturekha
  • Her Zindagi Editorial
Published -19 Mar 2018, 17:52 ISTUpdated -19 Mar 2018, 18:05 IST
Next
Article
navratri vaishno devi yatra

वैसे तो मां वैष्णों देवी के दर्शन करने के लिए उनके दरबार में हर समय हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रहती है लेकिन नवरात्रों के समय में यहां पैर रखने की भी जगह नहीं होती है। 

ऐसा कहा जाता है कि नवरात्रों के समय में मां वैष्णों देवी के दर्शन करने से कोई भी मुराद पूरी हो जाती है शायद इसलिए इन पावन दिनों में मां के दर्शन करने के लिए लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती है। 

हर साल लाखों भक्त मां वैष्णों के दर्शन करते हैं और यह भारत में तिरूमला वेंकटेश्वर मंदिर के बाद दूसरा सर्वाधिक देखा जाने वाला धार्मिक तीर्थ-स्थल है। ऐसी मान्यता है कि मां वैष्णों जब भी अपने भक्त को बुलाती हैं वो किसी ना किसी तरह माता के दरबार पहुंच जाता है। हसीन वादियों में त्रिकूट पर्वत पर गुफा में विराजित माता वैष्णो देवी का स्थान हिंदुओं का एक प्रमुख तीर्थ स्थल है। 

अगर आप भी पहली बार वैष्णों देवी की यात्रा करने का प्लान बना रही हैं तो आपको इस पवित्र स्थान से जुड़ी कुछ खास और जरूरी बातों को जान लेना चाहिए। 

navratri vaishno devi yatra inside

कैसे पहुंचे मां वैष्णों देवी के दर्शन करने 

मां वैष्णो देवी की यात्रा का पहला पड़ाव जम्मू होता है। जम्मू तक आप ट्रेन, बस या फिर हवाई जहाज से पहुंच सकती हैं। जम्मू ब्राड गेज लाइन द्वारा जुड़ा है। नवरात्रों में वैष्णो देवी जाने वाले यात्रियों की संख्या में अचानक वृद्धि हो जाती है इसलिए रेलवे द्वारा हर साल श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए दिल्ली से जम्मू के लिए विशेष ट्रेनें चलाई जाती हैं। 

Read more: अगर जम्मू जाएं तो इस मंदिर जरूर जाएं जहां 33 करोड़ देवी-देवता करते हैं वास

यदि आप बस या टैक्सी से भी जम्मू पहुंचना चाहती हैं तो भी आपको कोई परेशानी नहीं होगी। उत्तर भारत के कई प्रमुख शहरों से जम्मू के लिए आपको आसानी से बस व टैक्सी मिल सकती है। 

अगर बात की जाए वैष्णों देवी भवन की तो उसकी शुरुआत कटरा से होती है। जम्मू से कटरा की दूरी लगभग 50 किमी है। जम्मू से बस या टैक्सी द्वारा कटरा पहुंचा जा सकता है। 

यहां आपको बता दें कि जम्मू रेलवे स्टेशन से कटरा के लिए बस सेवा भी उपलब्ध है जिससे 2 घंटे में आसानी से कटरा पहुंचा जा सकता है।

navratri vaishno devi yatra inside

वैष्णों देवी यात्रा की शुरुआत 

मां वैष्णों देवी यात्रा की शुरुआत कटरा से होती है, आप कटरा पहुंचने के बाद थोड़ी देर आराम करके भी वैष्णों देवी की चढ़ाई शुरू कर सकती हैं। आप पूरे दिन में कभी भी मां वैष्णों देवी की चढ़ाई शुरू कर सकती हैं। 

वैष्णों देवी के भव्न तक पहुंचने के लिए आपको पर्ची कटवानी पड़ती है और वो पर्ची 6 घंटे के अंदर ही आपको फस्ट चेकिंग पॉइंट पर पर्ची दिखानी होती है। कटरा से लगभग 14 मीटर खड़ी चढ़ाई के बाद ही मां के भवन के दर्शन होते हैं। आप यहां तक घोड़े और पालकी की सहायता से भी जा सकती हैं। इसके लिए आपको 1000 और 2000 तक पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं। 

Read more: मॉर्डन पालकी में बैठकर आराम से करें वैष्णों देवी की यात्रा 

वैष्णों देवी के बाद भैरव दर्शन 

ऐसी मान्यता है कि यदि आप पहली बार वैष्णों देवी गई हैं तो आपको भैरव मंदिर के दर्शन करने के बाद ही आपकी मुराद पूरी होगी। वैष्णों देवी के भवन से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर भैरव मंदिर स्थित है। वैसे कई भक्त जब-जब मां वैष्णों देवी के दर्शन करने आते हैं तब-तब भैरव के दर्शन करने भी जरूर जाते हैं। 

Read more: पांडवों ने बनाए थे दिल्ली में भैरों नाथ के ये दो मंदिर, जहां चढ़ती है शराब

कटरा और अर्धकुवारी में भक्तों के ठहरने की व्यवस्था 

कटरा में वैष्णों देवी ट्रस्ट की कई धर्मशालाएं बनी हुई हैं जहां आप रुक सकती हैं पर इसके लिए आपको पहले से ही ऑनलाइन बुकिंग करानी होगी। साथ ही इसके अर्धकुवारी पर भी काफी घर्मशालाएं बनी हुई हैं जहां आप ठहर सकती हैं। अर्धकुवारी पर मां के भवन तक पहुंचने का रास्ता आधा हो जाता है। 

navratri vaishno devi yatra insde

वैष्णों देवी के साथ-साथ घूम सकती हैं ये जगहें 

कटरा और जम्मू के नजदीक कई दर्शनीय स्थल और हिल स्टेशन हैं जहां जाकर आप जम्मू की ठंडी हसीन वादियों का लुत्फ उठा सकती हैं। जम्मू में अमर महल, मंसर लेक, रघुनाथ टेंपल आदि देखने लायक स्थान हैं। जम्मू से लगभग 112 किमी की दूरी पर 'पटनी टॉप' एक प्रसिद्ध हिल स्टेशन है। 

कटरा के नजदीक बाबा धनसार, शिव खोरी, झज्झर कोटली, सनासर, मानतलाई आदि कई दर्शनीय स्थल हैं।

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।