मनाली हमारे देश के सबसे ज्यादा देखे जाने वाले हिल स्टेशनों में से एक है। और यह कहना गलत नहीं होगा कि यहां टूरिस्ट सीजन कभी खत्म ही नहीं होता है। बस मानसून को छोड़ दिया जाए तो आपको पूरे शहर में बस टूरिस्ट ही दिखेंगे। यहां भारत के सभी हिस्सों से लोग आते हैं, क्योंकि यह जगह फैमिली हॉलिडे, हनीमून मनाने वाले कपल्स और यहां तक कि एडवेंचर ट्रेक के लिए भी एक पसंदीदा स्थान है। मनाली में सबके लिए कुछ न कुछ है। सिर्फ यहीं नहीं इसके आसपास के क्षेत्रों में भी लोग अपनी छुट्टियां बिताना पसंद करते हैं। ऐसी ही एक जगह है, जो मनाली से ज्यादा दूर नहीं है, मनमोहक सोलंग वैली है।

सिर्फ मनाली के आसपास ही नहीं, बल्कि सोलंग वैली को पूरे हिमाचल में घूमने के लिए सबसे खूबसूरत जगहों में से एक माना जाता है। यह जगह सर्दियों में स्वर्ग में बदल जाती है। बर्फ से ढके पहाड़ बहुत खूबसूरत दृश्य प्रस्तुत करते हैं। सोलंग वैली अपने स्की स्लोप्स के लिए जाती है और इसके अलावा यहां बहुत कुछ है, जिसा आनंद आप उठा सकते हैं। अगर आप अपनी अगली ट्रिप सोलंग वैली के लिए प्लान कर रहे हैं, तो बस कुछ बातों का ध्यान रखें और ट्रिप को बजट में प्लान करें। लेकिन यह कैसे होगा, वो आपको हम बताएंगे।

बस की टिकट पहले से करें बुक

bus to manali solang

दिल्ली सोलंग वैली से लगभग 563 किमी दूर है और दिल्ली से पहले आप मनाली पहुंचेंगे और फिर मनाली से आप कैब, टैक्सी आदि से सोलंग पहुंच सकते हैं। इस रात भर की यात्रा में लगभग 12-13 घंटे लगते हैं। दिल्ली से यात्रा करने का सबसे अच्छा तरीका वोल्वो बसें हैं जो आमतौर पर शाम को कश्मीरी गेट से शुरू होती हैं। टिकट की कीमत आमतौर पर 1000 रुपये से 1600 रुपये के बीच होती है। आप अपनी बस की टिकट को पहले से बुक कर लें, क्योंकि पीक टाइम में अक्सर बसें नहीं मिलती या उनका फेयर ज्यादा होता है। आप अगर चाहें तो ट्रेन से भी सोलंग पहुंच सकते हैं। सोलंग घाटी का निकटतम रेलवे स्टेशन जोगिंदर नगर रेलवे स्टेशन है, जो घाटी से 175 किमी की दूरी पर स्थित है।

मनाली में करें स्टे

सुबह मनाली पहुंचने के बाद आप अपने ट्रांसपोर्टेशन के आधार पर माल रोड के आसपास के होटलों या होमस्टे की तलाश कर सकते हैं। सोलंग वैली में भी कुछ होमस्टे हैं, लेकिन वह महंगे होंगे, इसलिए बेहतर है कि आप मनाली के आसपास के होटल, होमस्टे और होस्टल में रुकें, ये बजट ट्रैवलर के लिए सस्ते और किफायती होंगे। सर्दियों में चूंकि सोलंग और मनाली में बर्फ पड़ती है और लोगों की भीड़ भी ज्यादा होती है, तो ऐसे में आप अपने होमस्टे पहले से बुक करें तो बेहतर रहेगा। 

मनाली के टूरिस्ट अट्रैक्शन को करें एक्सप्लोर

manali tourist attraction

मनाली में मॉल रोड के अलावा, हडिम्बा मंदिर, वशिष्ठ मंदिर और जोगिनी फॉल है, जिसे आप एक दिन में एक्सप्लोर कर सकते हैं। वशिष्ठ मंदिर में गर्म पानी का कुंड भी है जहां सर्दियों में बैठने का अलग ही मजा होगा। वहीं जोगिनी वॉटर फॉल एक अच्छे ट्रेक के साथ एक खूबसूरत झरने की ओर आपको ले जाता है। हडिम्बा टेंपल प्राचीन मंदिरों में से एक है, इसकी खासियत इसका आर्किटेक्चर भी, जो बहुत अद्भुत है।

इसे भी पढ़ें :बजट में कैसे करें मालदीव की ट्रिप प्लान, जानें

मनाली से सोलंग वैली ऐसे जाएं

आप मनाली से सोलंग वैली के लिए कैब कर सकते हैं। अगर आप सोलो ट्रैवल या दो लोग हैं, तो फिर बाइक अच्छी रहेगी, लेकिन बाइक तभी रेंट करें, जब आप पहाड़ों के घुमावदार रास्तों से परिचित हों। मनाली से सोलंग वैली लगभग 13 किलोमीटर है, इस बीच आप सुंदर पहाड़ों को निहार सकते हैं। मनाली से सोलंग के लिए आपको कैब आसानी से मिल जाएगी।

इसे भी पढ़ें :बजट में कहीं भी करना हो ट्रैवल तो इन टिप्स का रखें ख्याल

सोलंग वैली में क्या करें एक्सप्लोर

what to explore in solang valley

सोलंग एडवेंचर स्पोर्ट्स का अच्छा खासा हब है। आप यहां कई सारी चीजों का लुत्फ उठा सकते हैं। 

  • माउंटेन स्पोर्ट्स
  • पैराग्लाइडिंग
  • गोंदोला सवारी
  • स्कीइंग
  • क्वाड मोटर साइकिलिंग
  • स्नो मोबाइल राइड
  • ज़ोरबिंग
  • ट्रैकिंग और कैंपिंग आप सोलंग वैली में कर सकते हैं।

ऐसे करें खाने-पीने में खर्च

सोलंग वैली क्योंकि काफी लोकप्रिय है, इसलिए वहां खाने-पीने की चीजें महंगी होंगी। सोलंग में कुछ ट्राई करने से अच्छा है कि आप मनाली के आसपास खूबसूरत रेस्तरां और कैफे में ही भोजन करें। यहां किसी भी ढाबे में थाली की शुरुआत 50 रुपये से होगी। मनाली में आपको नॉन-वेज भी जरूर ट्राई करना चाहिए। साथ ही यहां का ऑथेंटिक धाम भी ट्राई करें। खाने-पीने का आपका दिन का खर्चा यहां लगभग 1000 रुपये होगा, बाकी आपकी चॉइसेस पर डिपेंड करता है।

मनाली और सोलंग वैली की ट्रिप के लिए यही कुछ मुख्य बाते हैं, जो आपको ध्यान रखनी चाहिए। अगर आपको यह लेख पसंद आया तो इसे शेयर करें। ऐसे अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।