आमतौर पर देखा गया है कि लक्ष्मी माता की कृपा दृष्टि बनाए रखने के लिए लोग अपने घरों में अलग-अलग तरह की मूर्तियों की स्थापना करते हैं या फिर तस्वीर लगाते हैं। लेकिन कई बार माता की गलत मूर्ति की स्थापना करने से लक्ष्मी मां की कृपा होने की जगह वो रुष्ट हो जाती हैं। इसलिए जाने माने वास्तु कंसल्टेंट और ज्योतिषी आचार्य मनोज श्रीवास्तव बता रहे हैं कि मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए घर में कैसी मूर्ति स्थापित करनी चाहिए।

किस मुद्रा में हो मूर्ति या तस्वीर

astro lakshmi

भारतीय संस्कृति में हमेशा से ही मां लक्ष्मी को धन और समृद्धि की देवी माना गया है। आमतौर पर माता लक्ष्मी की तीन प्रकार की तस्वीरें या प्रतिमाएं मिलती हैं। पहली तस्वीर जिसमें लक्ष्मी जी कमल पर खड़ी हुई दिखती हैं। दूसरी जिसमें माता लक्ष्मी कमल पर विराजमान हैं और उनका एक पैर कमल पत्ते पर तथा दूसरा पैर पहले पैर के नीचे दबा हुआ है और तीसरी तस्वीर जिसमें माता लक्ष्मी के दोनों पैर कमल के अंदर छुपे हुए हैं। आमतौर पर शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना गया है कि तीसरी मुद्रा वाली लक्ष्मी जी की तस्वीर या मूर्ति को घर में स्थापित करना शुभ होता है जबकि जिसमें माता खड़ी हुई हैं उसे घर में स्थापित नहीं करना चाहिए। इसके अलावा लक्ष्मी जी के साथ हाथी का एक जोड़ा या फिर हाथी रखना शुभ माना जाता है। यह भी कहा जाता है कि जिस तस्वीर में उनका वाहन उल्लू हो उस प्रतिमा को घर में स्थापित नहीं करना चाहिए। एक और तस्वीर या प्रतिमा होती है जिसमें माता लक्ष्मी विष्णु जी के साथ गरुड़ की सवारी करती हुई दिखती हैं ऐसी मुद्रा में मां लक्ष्मी का रूप घर में रखना फलदायक माना जाता है।

गणेश जी के साथ ना रखें माता की मूर्ति

lord ganesha

अधिकतर घरों पर माता लक्ष्मी की मूर्ति भगवान गणेश जी के साथ रखी दिखाई पड़ती है। जबकि शास्त्रों के अनुसार इस तरह से मां लक्ष्मी की मूर्ति रखना गलत माना जाता है।मान्यतानुसार केवल दीपावली के दिन ही मां लक्ष्मी का पूजन गणेश जी के साथ करना शुभ होता है और ऐसा माना जाता है कि दिवाली के दिन घर पर सुख समृद्धि लाने के लिए माता लक्ष्मी और भगवान गणेश जी को एक साथ पूजना चाहिए।

तस्वीर या मूर्ति मंदिर में ही स्थापित करें

कई लोग मां लक्ष्मी और अन्य देवी-देवताओं की मूर्ति साज-सज्जा के लिए घर में जगह-जगह रखते हैं। देवी-देवता की मूर्ति साज-सज्जा के लिए नहीं बल्कि घर में पूजन हेतु होती है।इसलिए इनकी मूर्ति या तस्वीर घर के पूजा स्थान पर ही लगाएं। 

इसे जरूर पढ़ें:घर की सुख समृद्धि के लिए भगवान शिव को भूलकर भी न चढ़ाएं ये 10 चीज़ें

ऐसी मूर्ति या तस्वीर रखनी है वर्जित

ऐसा माना जाता है कि घर में मां लक्ष्मी की शिला या धातु की मूर्ति ही रखनी चाहिए। प्लास्टिक या प्लास्टर ऑफ पेरिस से बनी हुई मूर्ति नहीं रखनी चाहिए इसके अलावा अगर घर में माता की खंडित मूर्ति है तो उसे तुरंत ही घर के मंदिर से हटा दें। आजकल एब्स्ट्रेक्ट आर्ट का बहुत ज्यादा चलन है लेकिन माता लक्ष्मी की तस्वीर या प्रतिमा एब्स्ट्रेक्ट आर्ट के रूप में नहीं बनी होनी चाहिए। 

Recommended Video

किस दिशा में स्थापित करें मूर्ति

वास्तु के अनुसार पूजा घर उत्तर पूर्व दिशा में होना चाहिए। पूजा घर में माता लक्ष्मी को उत्तर में स्थापित कर सकते हैं इस प्रकार से कि आप जब भी उनका पूजन करें तो आपका मुंह उत्तर की तरफ हो। शास्त्रों के अनुसार घर में या पूजा घर में एक से अधिक माता लक्ष्मी की प्रतिमा या मूर्ति नहीं रखनी चाहिए, इसके अलावा इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि मां लक्ष्मी का मुख उच्च तरह से तराशा हुआ हो। कभी भी ऐसी मूर्ति घर में लाकर नहीं रखनी चाहिए जिसमें माता का चेहरा ठीक प्रकार से परिलक्षित ना हो रहा हो। खराब गुणवत्ता वाली शिला या धातु की प्रतिमा को पूजन के लिए इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। 

आप भी माता लक्ष्मी की प्रतिमा या तस्वीर अपने घर में लगाना चाहते हैं तो इन बातों का ध्यान जरूर रखें माता की कृपा अवश्य होगी। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।