• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

क्यों स्कूल बस का रंग होता है पीला?

स्कूल बस का रंग हमेशा आपने पीला ही देखा होगा। इस लेख में हम आपको बताएंगे कि क्यों स्कूल बस का रंग हमेशा पीला ही होता है। 
author-profile
Published -07 Sep 2022, 12:08 ISTUpdated -07 Sep 2022, 13:32 IST
Next
Article
school bus colour is always yellow

जब भी आप स्कूल बस को सड़कों पर देखते होंगे तो आपने हमेशा उसे एक ही रंग में देखा होगा। भले ही आप किसी भी स्कूल की स्कूल बस को देख लें सभी पीले ही रंग की होती हैं।

लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि हर स्कूल बस का रंग पीला ही क्यों होता है? इस लेख में हम आपको इसके पीछे का कारण बताएंगे। 

रंगो की फ्रीक्वेंसी और वेवलेंथ 

school bus

आपको बता दें कि साइंस के हिसाब से हर रंग हमारे मस्तिष्क पर भी बहुत असर डालता है। हमारे जीवन में हर रंग का एक अहम् रोल होता है और अपनी अलग वेवलेंथ और फ्रीक्वेंसी होती है।

आपको बता दें कि इसकी वजह से हम सारे रंगों को देख पाते हैं। साइंस के हिसाब से हर रंग का अपना एक आधार होता हैं। जैसे लाल रंग को साइंस के हिसाब से खतरे के लिए दर्शाया जाता है। उसी प्रकार पीले रंग को आकर्षण के रूप में दर्शाया जाता है।

इसे भी पढ़ें - क्यों टायरों का रंग हमेशा काला ही होता है?

क्या होता है विबग्योर?

अगर हम साइंस के हिसाब रंगों को समझे तो बता दें कि विबग्योर में रंगों को बांटा जाता है।

विबग्योर को हिंदी में बैनीआहपीनाला कहते हैं। इसमें बै यानी कि बैंगनी, नी मतलब नीला, आ मतलब आसमानी, है मतलब हरा, पी मतलब पीला, ना मतलब नारंगी और ला मतलब लाल होता है।(कुंडली में मंगल को मजबूत बनाने के लिए पहने लाल रंग की साड़ी, देखें डिजाइंस)

इन सात रंगों में से लाल रंग की वेवलेंथ सबसे ज्यादा होती है इस वजह से यह रंग सबसे ज्यादा दूर से देखा जा सकता है। यही कारण है कि लाल रंग का इस्तेमाल खतरे के संकेत को बताने के लिए किया जाता है। इसलिए ट्रैफिक लाइट में लाल रंग का प्रयोग किया जाता है।

इसे भी पढ़ें - घर में सही रंगों का चुनाव जीवन में ला सकता है सुख समृद्धि

क्यों पीले रंग की होती है बस?

लाल रंग के बाद पीले रंग की वेवलेंथ ही सबसे ज्यादा होती है। इसे भी दूर से देखा और पहचाना जा सकता है। इसी वजह से स्कूल बसों को पीले रंग का ही रखा जाता है। ताकि उसे लोग दूर से भी देख सकें। आपको बता दें कि पीले रंग को बारिश, कोहरा या धुंध में भी पहचाना जा सकता है।

साइंस के हिसाब से पीले रंग का लैटरल पेरीफेरल विजन भी बाकी रंगो से ज्यादा होता है। इसलिए लाल रंग से भी जल्दी पीले रंग को देखा जा सकता है।(ऑनलाइन भी भरा जा सकता है ड्राइविंग लाइसेंस का फॉर्म, फॉलो करें ये स्टेप्स)

आपको बता दें कि लैटरल पेरीफेरल विजन का मतलब है जिस रंग को साइड से भी आसानी से देखा जा सकता है यानी अगर कोई व्यक्ति सामने देख रहा है और उसके वाहन के साइड से कोई पीले रंग का वाहन गुजरेगा तो आसानी से इस रंग को देखा जा सकेगा। इससे स्कूल बस की दुर्घटना होने की संभावना कम हो जाती है।  

 

इस कारण से ही स्कूल बस पीले रंग की होती हैं। 

 

उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुड़ें रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ।

 

Image Credit: Freepik

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।