हिंदी सिनेमा की एवरग्रीन एक्ट्रेस मानी जाती हैं वहीदा रहमान। वह कई शानदार फिल्मों का हिस्सा रहीं। यही नहीं इंडस्ट्री में उन्हें हमेशा बड़े स्टार्स के साथ काम करने का मौका मिला। हालांकि, वह ज्यादातर आइटम नंबर करती थीं। हिंदी सिनेमा में उनकी एंट्री गुरुदत्त की वजह से हुई थी। गुरुदत्त के साथ वह पहली बार फिल्म सीआईडी में नजर आईं थी। पर्सनल लाइफ की बात करें तो वह चार भाई-बहनों में सबसे छोटी थी। पढ़ाई-लिखाई के अलावा उन्होंने भरतनाट्यम डांस की ट्रेनिंग भी ली थी। हालांकि, डांस की ट्रेनिंग के लिए उन्हें कई लोगों की बातें सुननी पड़ी थी।

रिश्तेदार और ऑफिस के दोस्तों ने उनके पिता से कहा कि आप ये क्या कर रहे हैं। मुसलमान परिवार की लड़की डांस सीखेंगी तो उसकी शादी कैसे होगी। तब उनके पिता ने कहा कि कोई भी काम बुरा नहीं होती, इंसान बुरे होते हैं। बता दें कि वहीदा रहमान के पिता एक आईएएस ऑफिसर थे और उनकी पोस्टिंग मद्रास में ही थी। भले ही उन्होंने भरतनाट्यम की ट्रेनिंग ली हो, लेकिन फिल्मों में आने का कोई शौक नहीं था।

बचपन से ही बनना चाहती थी डॉक्टर

waheeda rehman

वहीदा रहमान ने ट्विंकल खन्ना के शो ट्वीक को दिए इंटरव्यू में बताया कि शुरुआत में वह डॉक्टर बनना चाहती थी, क्योंकि उस वक्त मुस्लिम परिवार में करियर के तौर पर सिर्फ उसे ही अच्छा माना जाता था। उन्होंने कहा कि यही वजह थी कि वह भी मेडिकल लाइन में आना चाहती थी। आज भी उन्हें मेडिकल पत्रिकाओं को पढ़ना और विभिन्न उपचारों के बारे में जानना अच्छा लगता है। वहीदा के अनुसार, फिल्मों में आने की कोई प्लानिंग नहीं थी, यह सब कुछ अचानक हुआ। उन्होंने फैमिली की हालात को देखते हुए डॉक्टर बनने का सपना छोड़ दिया था और फिल्मों  के ऑफर को एक्सेप्ट किया। बता दें कि वहीदा रहमान काफी छोटी थी, जब उनके पिता का निधन हो गया था, ऐसे में अपनी फैमिली को मदद करने के लिए उन्होंने फिल्मों में आने का फैसला किया। डांस में अच्छी होने की वजह से फिल्मों में एंट्री आसानी से मिल गई।

इसे भी पढ़ें:जब 'क्लिनिकली डेड' हो गए थे अमिताभ बच्चन, डॉक्टर्स ने भी छोड़ दी थी उम्मीद

पिता ने समझ लिया था उन्हें पागल

waheeda rehman father
 
अपने इंटरव्यू में वहीदा रहमान ने बताया कि शीशे के आगे खड़े होकर वो मुंह बनाया करती थी। यह देखने के बाद एक दिन उनके पिता ने उनकी मां से कहा कि चेक करना है ये पागल तो नहीं हो गई है। यही नहीं उनकी इस हरकतों से मां भी अच्छी तरह वाकिफ थी। वह शीशे के सामने अजीबो-गरीब शक्ल बनाया करती थी। ऐसे में एक दिन उनके पिता ने उनसे पूछा कि वह ऐसा क्यों करती हैं, तो अभिनेत्री ने बताया कि मैं लोगों को हंसाना चाहती हूं और अपनी एक्सप्रेशन से रूलाना भी चाहती हूं। उस वक्त अभिनेत्री को यह नहीं पता था कि वो एक एक्ट्रेस बनना चाहती हैं। अभिनेत्री वहीदा रहमान ने बताया कि मेरी जिंदगी में मेरा करियर मेरी शादी, सब कुछ प्लान नहीं था, वो होता गया।
 

Recommended Video

वहीदा रहमान का बॉलीवुड सफर

waheeda rehman acting career
 
वहीदा रहमान का बॉलीवुड सफर काफी शानदार रहा है। उन्होंने हिंदी सिनेमा में अपनी एक्टिंग करियर की शुरुआत गुरुदत्त की फिल्म सीआईडी से की थी। इसके बाद प्यासा, गाइड, कागज के फूल, नील कमल, तीसरी कसम, रंग दे बसंती, दिल्ली 6 जैसी फिल्मों में काम किया। अपनी एक्टिंग और डांस से लोगों का दिल जीतने वाली वहीदा रहमान पिछले साल रिलीज डेजर्ट डॉल्फिन फिल्म में भी काम कर चुकी हैं। उन्होंने अब तक 80 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है।
 
उम्मीद है कि आपको वहीदा रहमान से जुड़ी यह जानकारी पसंद आई होगी। साथ ही, आपको यह आर्टिकल कैसा लगा? हमे कमेंट कर जरूर बताएं और इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी के साथ।