हमारे देश को डिजिटल इंडिया बनाया जा रहा है ताकि लोग आसानी से घर में रहकर भी कई सारी सुविधाओं का लाभ उठा सकें। आपको बता दें कि सरकार भी कई सालों से इस दिशा में काम कर रही है और यह काम कोरोना महामारी की वजह से काफी हद तक सफल भी हुआ है क्योंकि कोरोना महामारी और सोशल डिस्टेंसिग को देखते हुए भारत सरकार ने कई सारी डिजिटल योजनाएं शुरू की हैं। 

इसके साथ ही, कई सारे मोबाइल ऐप्स और सुविधाएं भी लॉन्च किए हैं ताकि लोगों को इधर-उधर भटकना न पड़े। वह आसानी से अपना डाटा मोबाइल या अन्य किसी डिजिटल तकनीक से कर सकें। तो चलिए, आज हम भारत सरकार द्वारा आयुष्मान योजना के तहत लॉन्च किए गए डिजिटल हेल्थ कार्ड के बारे में आपको जानकारी देंगे, जो लगभग हर व्यक्ति के लिए मददगार हो सकते हो सकता है।

क्या है डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड? 

what is health id card

डिजिटल हेल्थ कार्ड एक तरह का ऑनलाइन हेल्थ पोर्टफोलियो है, जिसके अंदर आपकी हेल्थ से जुड़ी तमाम जानकारियां शामिल होती है। क्योंकि इस कार्ड के तहत आपको एक आईडी मिलती है, जिसके अंदर व्यक्ति के स्वास्थ्य से जुड़ी हर जानकारी दर्ज की जाती है। इसमें आपकी बीमारी और इलाज से जुड़ी तमाम जैसे रिपोर्ट, फाइल आदि। 

इसे ज़रूर पढ़ें- गिफ्ट कार्ड क्या है? जानें किस तरह से किया जा सकता है इस्तेमाल 

इस तरह कर सकते हैं अप्लाई

how to apply health id in hindi

अगर आप अपना हेल्थ आईडी कार्ड बनवाना चाहते हैं, तो आप घर बैठे खुद पोर्टल पर जाकर बनवा सकते हैं। इसके लिए आपको NDHM पर जाकर खुद को रजिस्टर करना होगा। आप ABDM ऐप अपने मोबाइल फोन में भी डाउनलोड कर सकते हैं और इसके जरिए आप खुद को रजिस्टर कर सकते हैं, कैसे आइए जानते हैं। 

  • इस कार्ड को बनवाने के लिए आपको नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। 
  • यहां आपको कार्ड अप्लाई करने के लिए 'Create your health card' का ऑप्शन दिखेगा। आप वहां पर क्लिक करें। 
  • इसका बाद, आपके पास आधार कार्ड से लॉन इन करने का ऑप्शन आएगा। अगर आप अपने आधार कार्ड का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो 'Generate via Aadhaar' पर क्लिक करें। 
  • इसके बाद आपको अपना आधार कार्ड नंबर डालना होगा फिर इसके बाद आपको अपनी सहमति दर्ज करनी होगी। 
  • इसके बाद आपके रजिस्ट्रार मोबाइल नंबर पर 6 अंक का ओटीपी आएगा। आप ओटीपी को दर्ज कर अपनी डिटेल्स को वेरिफाई करें। 
  • इसके बाद आपको अपना मोबाइल नंबर डालना होगा, जिस पर आपके पास ओटीपी आया होगा। फिर आपको वेरीफाई करना होगा। 
  • इसके बाद आपके मोबाइल पर एक आईडी और पासवर्ड आएगा, तो आपका हेल्थ कार्ड की आईडी होगी। इसके बाद आप अपनी सारी डिटेल भरेंगे। 
  • जब आप अपनी सारी जानकारी भर लेंगे, तो उसके बाद आपके पास सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। ऐसा करने के बाद आपका हेल्थ कार्ड जनरेट हो जाएगा। 

इस तरह से मिलेगा लाभ

benefites and uses

अब आप सोच रहे होंगे कि इस कार्ड के क्या फायदे हैं, तो आपको बता दें कि अगर आप किसी भी अस्पताल में भर्ती हैं, तो इस कार्ड को वहां लॉग इन कर सकते हैं।

  • इसमें आपके इलाज से संबंधित तमाम जानकारियां उपलब्ध होंगी। अगर आपका कोई पर्चा खो गया है, तो उससे संबंधित तमाम जानकारी इस कार्ड में आपको मिल जाएगी। 
  • इस कार्ड या ऐप की सहायता से आप एक अच्छे डॉक्टर की भी तलाश कर सकते हैं। 
  • आपको बार-बार टेस्ट करवाने की भी कोई जरूरत नहीं होगी क्योंकि एक बार में ही आपको रिपोर्ट का पूरा डाटा इस कार्ड में दर्ज हो जाएगी। (मोबाइल का डाटा हमेशा रखें ऑन, मिलेंगे ये फायदे)
  • आप आसानी से किसी भी डॉक्टर को दिखा सकते हैं, वह आपका इलाज इस कार्ड की सहायता से आसानी से कर सकता है। 

उम्मीद है कि आपको समझ में आ गया होगा कि हेल्थ कार्ड क्या है और इसके क्या फायदे हैं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik and google)