सुशांत सिंह राजपूत वो एक्टर थे जिन्होंने अपने छोटे से करियर में भी बहुत नाम कमाया और समय से बहुत पहले इस दुनिया को अलविदा कह दिया। सुशांत सिंह राजपूत ने अपने कई फैन्स बनाए और उनकी फिल्मों ने ये साबित किया कि वो कितने मंझे हुए कलाकार थे। पिछले साल जिस तरह से सुशांत की मौत की खबर सामने आई थी पूरी दुनिया चौंक गई थी। बॉलीवुड से लेकर बिहार की गलियों तक सभी दुखी थे कि आखिर ऐसा कैसे हो गया।

सुशांत सिंह राजपूत का जन्मदिन 21 जनवरी को होता है और इस मौके पर उनके फैन्स को हम ऐसी कुछ फिल्मों के बारे में बताने जा रहे हैं जो दिल को छू जाएं। इन फिल्मों में कोई न कोई मैसेज दिया गया है और सुशांत की एक्टिंग इनमें बेमिसाल है। ये तीन फिल्में सुशांत के करियर के तीन अहम पड़ाव साबित हुई हैं और ये फिल्में आपको भी देखनी चाहिए। 

1. एम एस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी

क्यों सुशांत सिंह राजपूत के लिए महत्वपूर्ण है ये फिल्म?

सुशांत सिंह राजपूत का करियर इस फिल्म से बिलकुल ही बदल गया था। वो एक चमकता हुआ सितारा थे और इस फिल्म के बाद वो एक सुपरस्टार बन गए थे। सुशांत सिंह राजपूत के करियर का टर्निंग प्वाइंट ये फिल्म साबित हुई थी। 

sushant block buster ms dhoni

क्यों देखनी चाहिए ये फिल्म?

इस फिल्म में एक महान क्रिकेटर एम एस धोनी की जिंदगी के बारे में बताया गया है। एक चीज़ जो इस फिल्म से हम सीख सकते हैं वो ये है कि भले ही कोई कितना भी बड़ा स्टार और सेलेब क्यों न हो उसकी जिंदगी में हमेशा ऐसे मोड़ आते हैं जब वो खुद को हारा हुआ महसूस करता है। करियर में ढलान, प्यार का छिन जाना, जिंदगी का स्ट्रगल आदि बहुत कुछ होता है जिसके साथ हमें जीना पड़ता है। हम अगर इन सब बातों को पीछे छोड़कर आगे नहीं बढ़े तो जिंदगी बहुत ही मुश्किल हो जाएगी। 

इसे जरूर पढ़ें- क्या आप दे सकते हैं 2020 में रिलीज हुई बॉलीवुड फिल्मों से जुड़े इन सवालों के जवाब?

Recommended Video

2. छिछोरे

क्यों सुशांत सिंह राजपूत के लिए महत्वपूर्ण है ये फिल्म? 

इस फिल्म की शूटिंग के दौरान भी कथित तौर पर सुशांत डिप्रेशन से गुजर रहे थे। सुशांत ने इस फिल्म में डिप्रेशन के खिलाफ लड़ने और परिवार के प्यार और सपोर्ट की सीख दी है। ये फिल्म 100 करोड़ क्लब में शामिल होने वाली सुशांत की कुछ फिल्मों में से एक है।  

sushant  crore chichore

क्यों देखनी चाहिए ये फिल्म? 

एक इंसान अपनी जवानी में कितना बेफिक्र हो सकता है, उसे कितना समय अपने प्यार और परिवार को देना चाहिए, उसकी जिंदगी में कितने उतार-चढ़ाव आ सकते हैं और डिप्रेशन जैसा दानव किस तरह जिंदगी में घर कर सकता है ये सब कुछ इस फिल्म में देखने को मिलता है। ये बेहद खूबसूरत फिल्म है जो हमें बताती है कि हम जिंदगी में किस तरह से आगे बढ़ सकते हैं और परिवार का साथ मिले तो बहुत बड़ी मुश्किल भी हल की जा सकती है। माता-पिता और बच्चों का रिश्ता कई तरह का हो सकता है और दोनों को ही एक दूसरे को समझना चाहिए ये भी इस फिल्म में दिखाया गया है।  

इसे जरूर पढ़ें- Dil Bechara: सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म के ट्रेलर में हैं ये 5 खास बातें 

3. दिल बेचारा 

क्यों सुशांत सिंह राजपूत के लिए महत्वपूर्ण है ये फिल्म? 

ये सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म थी और इस फिल्म में वो एक मरते हुए इंसान की जिंदादिली के बारे में बता रहे थे। इस फिल्म में उनकी अदाकारी बेमिसाल थी।  

sushant last dil bechara

क्यों देखनी चाहिए ये फिल्म? 

कई बार कोई गंभीर बीमारी लगने के बाद इंसान निराश और हताश हो जाता है। वो एक तय रूटीन में ही अपनी जिंदगी जीता है और उसे कुछ भी समझ नहीं आता। पर इस फिल्म में दिखाया है कि जिंदगी जितनी भी है उसे जीने के दो तरीके हो सकते हैं। या तो निराश होकर जियो और अपने अंत का इंतज़ार करो या फिर जिंदादिली से जियो। इस फिल्म में सुशांत सिंह राजपूत ने हंसाया भी है और रुलाया भी है। फिल्म बहुत ही खूबसूरती के साथ आगे बढ़ते हुए हमें बताती है कि सांसे जब तक रुक नहीं जाती हैं तब तक जिंदगी चलती रहती है।  

सुशांत सिंह राजपूत की ये तीनों फिल्में हमें कोई न कोई मैसेज देती हैं और बस हमें ये सीखने की जरूरत है। अगर आप सुशांत सिंह राजपूत के फैन हैं तो ये तीनों फिल्में जरूर देखें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।