हिंदू धर्म में कई देवी-देवताओं की पूजा की जाती है। इनमें से शनि देव को भी बहुत महत्‍व दिया गया है। ऐसी मान्‍यता है कि शनिदेव न्‍याय के देवता है। साथ ही शनिदेव बहुत जल्‍दी क्रोधित भी हो जाते हैं। इतना ही नहीं शनिदेव के क्रोधित होने पर आपकी कुंडली में शनि दोष आ सकता है और आपके जीवन में उथल-पुथल मच सकती है। ऐसे में शनिदेव को प्रसन्‍न रखना बेहद जरूरी है।  

शास्‍त्रों में हर देवी-देवता के लिए एक विशेष दिन तय किया गया है और उस दिन उनकी पूजा-अर्चना का विधान है। शनि देव की पूजा के लिए शनिवार का दिन शुभ माना गया है। यदि आप की कुंडली में शनि दोष है और काफी समय से जीवन में आ रही मुश्किलों से परेशान है तो आप शनिवार के दिन भगवान शनि की पूजा-अर्चना करने के साथ ही कुछ विशेष उपायों को आजमा कर उन्‍हें प्रसन्‍न कर सकते हैं। इस बारे में उज्‍जैन के पंडित कैलाश नारायण शर्मा कहते हैं,

'शनिदेव के क्रोध से सभी को डर लगता है। मनुष्‍य के अच्‍छे और बुरे कर्मों का फल भगवान शनि ही प्रदान करते हैं। मगर, शनिदेव को जितनी जल्‍दी क्रोध आता है वह उतनी ही सरलता से प्रसन्‍न भी हो जाते हैं। इसके लिए कुछ उपाय हैं। जिन्‍हें आपको अपना चाहिए।'
 

पंडित कैलाश नारायण शर्मा आगे कहते हैं, 'केवल एक रोटी के उपाय से आपको शनि दोष से मुक्ति मिल सकती है।' पंडित जी इन उपायों के बारे में विस्‍तार से भी बताते हैं। वह कहते हैं, 'जो पाप आपसे हुए हैं उनका दंड तो आपको अवश्‍य ही झलना पड़ेगा मगर, आप उसके प्रकोप को कम कर सकते हैं। इसके लिए रोटी से जुड़े अलग-अलग उपाय आपकी मदद करेंगे।'

avoid shani  dosha by  chapati

काले कुत्‍ते को रोटी खिलाएं 

भगवान शनि को काला रंग अति प्रिय है। अगर आप आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं और बहुत कोशिशों के बाद भी आपको कोई समाधान नजर नहीं आ रहा है तो आपको शनिदेव को प्रसन्‍न करने के लिए काले कुत्‍ते को सरसों का तेल चुपड़ कर रोटी खिलानी चहिए। रसोई में जब रोटी सिक रही हो तो जो आखिरी रोटी सेकें वह कुत्‍ते के लिए निकाल दें। पंडित जी कहते हैं, 'वैसे तो जानवरों को रोज ही भोजन कराना चाहिए मगर, कुंडली में शनि दोष है और उससे आपको धनहानि (धन की हानि से बचने के उपाय) हो रही है तो आपको हर शनिवार रात में इस उपाय को आजमाना चाहिए। इससे शनिदेव के क्रोध का प्रकोप कम होता है। राहु-केतु की खराब दशा और कालसर्प योग से पीडि़त व्‍यक्तियों के लिए भी यह उपाय लाभदायक सिद्ध हो सकता है। '

इसे जरूर पढ़ें: धन एवं सुख-शांति के लिए पंडित जी के बताए परफ्यूम के इन 5 उपायों को आजमाएं

How  to  avoid shani  dosha

गाय को रोटी खिलाएं 

गाय को हिंदु धर्म में ईश्‍वर का दर्जा प्राप्‍त है। अलग-अलग अवसरों में गाय की पूजा-अर्चना का भी विधान है। कई घरों से गाय को रोज ही रोटी खिलाई जाती है। ऐसा करने से जो फल आपको प्राप्‍त होता है, उसके बारे में पंडित जी बताते हैं,

'अथर्ववेद के अनुसार 'धेनु सदानाम रईनाम' इसका अर्थ है कि गाय समृद्धि लेकर आती है। अगर आपके परिवार में आपसी मतभेद हैं। लड़ाई-झगड़ों से घर की शांति भंग हो चुकी है तो आपको गाय को रोटी खिलानी चाहिए। यह कार्य आपको रोज करना चाहिए। रसोई में बनने वाली पहली रोटी आपको गाय के नाम पर निकाल देनी चाहिए। घर का कोई भी सदस्‍य गाय को रोटी खिला सकता है। इससे घर में सुख और शांति बनी रहती है। कुंडली में शनि दोष है तो शनिवार के दिन आप काली गाय को किसी मिठाई के साथ यदि रोटी खिलाते हैं तो इससे शनिदेव अति प्रसन्‍न होते हैं।'

Recommended Video

कौओं को रोटी खिलाएं 

शनि को प्रसन्न करने के लिए कौओं को रोटी खिलानें का भी महत्‍व है। आपको बता दें कि कौआ भगवान शनि के 9 वाहनों में से एक है। इसे पितरों और शनिदेव का प्रतीक भी माना जाता है। पंडित जी बताते हैं कि शनि दोष से बचने के लिए घर की छत पर आपको रोज एक रोटी को टुकड़ों में करके कौओं के खाने के लिए डालनी चाहिए। इतना ही नहीं रोटी के साथ आपको कौओं के लिए पीने का पानी भी रखना चाहिए। ऐसा करने से आप शनि दोष से तो बचते ही हैं साथ ही इससे आपकी मनोकामना भी पूर्ण होती है।(जानें शनि की स्थिति से जुड़ी खास बातें)

रोटी से जुड़े पंडित जी के बताए इन उपायों को आप भी आजमा कर देखें। साथ ही धर्म और वास्‍तु से जुड़े उपायों को जानने के लिए पढ़ती रहें HerZindagi। 

Image Credit: Brett Cole, Vedicsecrets