• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

12 जुलाई से शनि देव मकर राशि में कर रहे हैं गोचर, जानें धन लाभ के अचूक उपाय

12 जुलाई से शनि देव का गोचर मकर राशि में होने वाला है जिससे कुछ राशियों पर अच्छे और बुरे प्रभाव होंगे। जानें कुछ ज्योतिषीय उपायों के बारे में।
author-profile
Published -28 Jun 2022, 18:07 ISTUpdated -06 Jul 2022, 15:52 IST
Next
Article
shani gochar effects and remedies zodiac

ज्योतिष शास्त्र में ग्रहों के गोचर यानी कि ग्रहों के अपने स्थान परिवर्तन करने और किसी राशि में प्रवेश करने से कई राशियों पर असर होता है। खासतौर पर वक्री शनि का गोचर राशियों के लिए अलग तरह के प्रभाव लाता है। 27 जून 2022 को प्रातः मंगल ग्रह का मेष राशि में प्रवेश हो चुका है,जो कि 10 अगस्त 2022 बुधवार तक रहेगा। मंगल ग्रह,मेष राशि में प्रवेश कर वहां पहले से गोचर कर रहे राहु से युति करेंगे, जिससे अंगारक योग बनेगा।

यहां मंगल और राहु की यह युति इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि कुंभ राशि में वक्री शनि का गोचर अपनी तीसरी दृष्टि से इसे अधिक अशुभ बना रहा है। ऐसे में हिंसक घटनाएं, जायदाद के झगड़े जैसी कई गतिविधियों के होने की संभावना है। वहीं 12 जुलाई को शनि देव का मकर राशि में प्रवेश होने जा रहा है जो कुछ राशियों के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होने वाला है। आइए ज्योतिर्विद पं रमेश भोजराज द्विवेदी जी से जानें कि शनि के गोचर का किन राशियों पर असर होगा और कौन से उपाय आपको लाभ पहुंचा सकते हैं।

शनि के गोचर का किन राशियों पर होगा असर

मीन राशि

meen zodiac effect of shani gochar

मीन राशि के लोगों के लिए शनि का गोचर लाभकारी होगा। आपको धन लाभ हो सकता है और नौकरी में प्रमोशन के योग हैं।

मेष राशि

मेष राशि के लोगों के लिए शनि का गोचर आर्थिक संकट का कारण बन सकता है। इन लोगों को नौकरी और बिजनेस में नुकसान हो सकता है। आपके कार्यस्थल में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।  

इसे जरूर पढ़ें:Ashadha Amavasya 2022: इस दिन करें ये उपाय, पितृ दोष से मुक्ति के साथ आएगी सुख समृद्धि

धनु राशि

dhanu rashi effects of shani gochar

इस राशि के लोगों को शनि के दुष्प्रभाव का सामना करना पड़ सकता है। आपके कुछ काम बिगड़ सकते हैं। आपको कुछ आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

इसे जरूर पढ़ें:आषाढ़ के महीने में कब से आरंभ हो रही है गुप्त नवरात्रि, कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और महत्व जानें

Recommended Video


मिथुन राशि

मिथुन राशि के लोगों को शनि की ढैय्या का सामना करना पड़ सकता है। इसके प्रभाव से आपको आर्थिक नुकसान हो सकते हैं। इसलिए आपको सचेत रहने की आवश्यकता है।

अपनाएं ये ज्योतिषीय उपाय

astro remedies for shani gochar

  • शनि के गोचर के प्रभाव से शुभ फलों के लिए प्रतिदिन श्री हनुमान चालीसा का पाठकरें और शनिदेव में तिल के तेल का दीपक जलाएं।
  • 30 जून से गुप्त नवरात्रि का आरंभ हो रहा है। अतः आप अपनी यथाशक्ति मां दुर्गा की आराधना एवं दुर्गा सप्तशती का पाठ अवश्य करें।
  • घर में गुगल की धूप का धुआं अवश्य करें इससे घर से सभी नकारात्मक प्रभाव दूर होंगे।
  • यदि जन्म पत्रिका में भी अंगारक योग या मंगल शनि की युति हो तो विशेष सावधानी रखें।

इस प्रकार शनि का गोचर पूरे जुलाई के महीने से लगभग 6 महीने के लिए कुछ राशियों को प्रभावित कर सकता है। आपको यहां बताए कुछ ज्योतिषीय उपाय आजमाने होंगे जो आपको किसी भी दुष्प्रभाव से बचा सकते हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।