डिजिटल प्लेटफार्म की दुनिया में एक और सीरीज़ ने कदम रखा है जो इन दिनों खूब चर्चों में छाया हुआ है। ‘Sex Rated: The Vice Gudie To Sex In India’ नाम के इस वेब सीरीज़ के ज़रिये मेकर्स भारत में सेक्स एजुकेशन की ज़रूरत की कहानी पेश कर रहे हैं। इस शो में लीड किरदार निभा रहीं रितिशा राठौर ने हमसे ख़ास बातचीत की और बताया कि भारत में सेक्स एजुकेशन को एक Taboo बनाया हुआ है, बल्कि इस बारे में खुल कर बात होनी चाहिए।

Rytasha Rathore inside

रितिशा का कहना है कि हमारे यहां कोई भी पेरेंट्स अपने बच्चों को सेक्स एजुकेशन नहीं देता और तो और इस बारे में बात करना भी गलत माना जाता है। लेकिन, कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इसे बहुत ज़रूरी समझते हैं मगर, जानते नहीं कि आखिर किस उम्र में इस बारे में बच्चों से बात की जाए। रितिशा ने सेक्स एजुकेशन को लेकर और भी बहुत कुछ कहा, आइये जानते हैं-

बचपन से ही शुरू हो जानी चाहिए सेक्स एजुकेशन

मैं बहुत खुश हूँ कि मुझे अपने काम के ज़रिये ऐसा कुछ करने का मौका मिल रहा है। इस सीरीज़ का अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। इसे शूट करते हुए भी मैंने बहुत कुछ सीखा है, जैसे मैं एक्सपर्ट्स से मिली तो उन्होंने मुझे बताया कि बच्चों को जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी बच्चों को सेक्स एजुकेशन देना शुरू कर देना चाहिए। गुड टच और बैड टच के बारे में उन्हें बताएं, बॉडी पार्ट्स के बारे में खुल कर बात करें, उनके सवालों का सही जवाब दें।

Read more : बच्चों की इंटरनेट सर्फिंग को इस तरह बनाएं सुरक्षित

Rytasha Rathore inside

आपकी बॉडी आपके घर की तरह है

रितिशा कहती हैं कि हमें बच्चों को समझाना चाहिए कि आपकी बॉडी आपके घर की तरह है। आपको इसके बारे में सब कुछ जानना चाहिए। बॉडी डेवलपमेंट और वक़्त के चलते इसमें आने वाले बदलाव के बारे में बच्चों को पहले से पता होना चाहिए। बच्चे अक्सर इन्टरनेट और आपस में दोस्तों से बात करके ये सारी जानकारियां लेते हैं, जो हर समय सही हो ये ज़रूरी नहीं है। इसके लिए आपको अपने बच्चों का दोस्त बनना पड़ेगा और उनसे खुलकर बात करनी होगी, यह कोई शर्म की बात नहीं है।

Rytasha Rathore inside

रितिशा कहती हैं कि एक पब्लिक फिगर होने के नाते मुझे लगता है कि शायद अगर मैं कुछ कहूँगी तो लोग इसे सीरियसली लेंगे। हमें ऐसे लोगों की बहुत ज़रुरत है जो Sex Education को Taboo ना समझे और लोगों से इस बारे में खुलकर बात करें।