वैसे तो सबको लेकिन लड़कियों को ब्रांडेड कपड़ों की शॉपिंग करना बहुत पसंद होता है। हर लड़की चाहती है कि जब वह ब्रांडेड और महंगे कपड़े पहनकर बाहर जाएं तो हर कोई उसे मुड़ मुड़ कर देखे और उसकी तारीफ करें! अक्सर जब मॉल्स में सेल चलती हैं तो लड़कियां हजारों के कपड़े खरीद लेती हैं। लेकिन आजकल जिस तरह की धोखाधड़ी और डुप्लीकेट प्रॉडक्ट्स सभी फील्स में बिकने लगे हैं, कपड़े भी इससे अछूते नहीं हैं। अक्सर ऐसा होता है कि आप पैसे तो ब्रांडेड कपड़ों के देती हैं लेकिन बदले में आपको नकली सामान मिल जाता है। और यह सिर्फ कपड़ों में ही नहीं बल्कि जूते, बैग, घड़ियां और मेकअप प्रॉडक्ट्स सभी के साथ होता है। सबसे बड़ी बात यह है कि असली और नकली सामान में कई बार कुछ भी फर्क नहीं दिखता है और इसलिए लड़कियां धोखा खा जाती है। आज इस आर्टिकल में आपको कुछ ऐसे सीक्रेट्स बता रहे हैं जिनसे आप असली और नकली चीजों को मिनटों में पहनचान लेंगी।

इसे भी पढ़ें: महिलाओं के लिए खुशखबरी, इस बाजार में आपको मिलेंगे सस्‍ते में बेस्ट फुटवियर

सबसे पहले देखें स्टिचिंग

identify between a counterfeit and original product inside

किसी भी ब्रांडेड कपड़े को खरीदने से पहले उसकी स्टिचिंग पर ध्यान दें। जो कपड़े लोकल होते हैं उनकी स्टिचिंग भी उसी तरह की होती है। जबकि ओरिजनल कपड़ों की स्टिचिंग बहुत फाइन होती है। सिर्फ यही नहीं कपड़े पर जिस कलर के धागे से स्टिचिंग होती है उसी कलर के उसमें बटन, बेल्ट और अन्य एक्सैसरी भी होती हैं। साथ ही ब्रांडेड कपड़ों पर लगे बटन कभी लूज नहीं होते हैं।

बटन पर ब्रांड का नाम

ब्रांडेड कपड़ों की जिप और बटन पर हमेशा उस ब्रांड का नाम होता है। साथ ही कपड़े पर लगी जिप बहुत स्मूद और अच्छी क्वालिटी की होती हैं। इसलिए यह एक बहुत अच्छा सीक्रेट है ब्रांडेड कपड़ों की पहचान करने का।

टैग जरूर देखें

identify between a counterfeit and original product inside

कई बार हम शोरूम में ऐसे कपड़े भी देखते हैं जो रहते हैं तो ब्रांडेड कपड़ों की रो में हैं लेकिन उनमें टैग नहीं होता है। इसके बदले में ब्रांड से संबंधित लोग यह कहते हैं कि टैग नहीं है लेकिन आपको बिल मिलेगा। प्लीज, ऐसे कपड़े कभी न खरीदें। बल्कि आप कपड़े की सही पहचान करने के लिए इंटरनेट से लोगो निकालकर उसे मैच कर देखें।

इसे भी पढ़ें: सस्ते ब्रांडेड कपड़ों के लिए इंडिया की मशहूर स्ट्रीट शोपिंग मार्केट कौन सी हैं?

नहीं निकलता कलर

identify between a counterfeit and original product inside

जो कपड़े ब्रांडेड होते हैं उनका आसानी से कलर भी नहीं निकलता है। बल्कि यह छूने में बहुत स्मूद और मुलायम होते हैं। साथ ही कपड़े पर टैग भी ओरिजनल होता है। इनमें कभी आपको हाथ से लिखा हुआ प्राइज नहीं मिलेगा।

पहनने में भी होते हैं कम्फरटेबल

identify between a counterfeit and original product inside

जो कपड़े वाकई में ब्रांडेड होते हैं वह पहनने में भी बहुत हल्के और कम्फरटेबल होते हैं। अगर आपको ब्रांडेड कपड़े पहनने के बाद कभी भारीपन या बॉडी में खुजली आदि तो उसे तुरंत वापिस करा दें।