मां बनना किसी भी महिला के लिए एक अलग अनुभव होता है। यकीनन ये खुशनुमा पल होता है। लेकिन कई महिलाओं को इसके बाद डिप्रेशन हो जाता है। भले ही कोई कुछ भी कहे, लेकिन कई रिसर्च कहती हैं कि महिलाओं के लिए पोस्ट पार्टम (Post Partum) डिप्रेशन में जाना बहुत आम बात है। एक्ट्रेस समीरा रेड्डी भी इस डिप्रेशन से गुजरी हैं। उन्होंने अपनी दूसरी प्रेग्नेंसी के बाद इस बारे में खुलकर बात की है।  

कुछ समय पहले ही समीरा रेड्डी ने अपनी बेटी न्यारा को जन्म दिया है। उनका पहला बेटा हंस है। समीरा को पहली प्रेग्नेंसी के बाद कुछ ज्यादा फर्क नहीं पड़ा, लेकिन दूसरी प्रेग्नेंसी ने उन्हें काफी अलग अहसास दिया है।  

सोशल मीडिया पर शुरू की ये कैम्पेन-  

बेटी के जन्म के बाद अब समीरा ने सोशल मीडिया पर #ImperfectlyPerfect कैंपेन शुरू की है। इसके बारे में एक अंग्रेजी वेबसाइट को इंटरव्यू देते हुए समीरा ने काफी कुछ कहा। 

sameera reddy post partum depression

इसे जरूर पढ़ें- बिग बाज़ार और हाइपरसिटी जैसे सुपरमार्केट से लेना है सामान? ये टिप्स करवाएंगी स्मार्ट शॉपिंग 

प्रेग्नेंसी के बाद डिप्रेशन की बात की-  

समीरा रेड्डी ने मानसिक तनाव को लेकर कहा कि, 'मेरा वजन 105 किलो तक बढ़ गया था। पहली बार प्रेग्नेंट होने के बाद में भ्रम में थी और टूट सी गई थी। मेरी परफेक्ट बॉडी, मेरा परफेक्ट चेहरा जिसके लिए मैंने इतनी मेहनत की थी, मेरा फिल्म करियर सब कुछ टूट गया और मैं पूरी तरह से खो गई।' 

sameera reddy pregnancy

अब समीरा ये नहीं समझ पा रही हैं कि लोग उन्हें इतना जज क्यों कर रहे हैं।  

खुद से प्यार करने की दी सलाह- 

मां बनने के बाद समीरा रेड्डी ने कहा कि उन्हें ये अहसास हुआ है कि खुद को स्वीकारना बहुत जरूरी है। ये आज के दौर में खत्म सा होता जा रहा है। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए इसके बारे में जागरुकता फैलाने की कोशिश की है।

दूसरे बच्चे के बाद समीरा के लिए उन्हें संभालना बहुत ही परेशानी भरा हो गया था और वो कहती हैं कि फिर भी वो काफी तैयार थीं क्योंकि उनका चार साल का बेटा हंस था। 

Recommended Video

नई मां को होता है पोस्ट पार्टम डिप्रेशन-  

नई मां के लिए पोस्ट पार्टम डिप्रेशन में जाना बहुत आसान है। समीरा ने इसे अपनी पहली प्रेग्नेंसी के वक्त भी झेला था। समीरा ने जब इसके बारे में लोगों से बात की तो उन्हें कहा गया कि ये प्रेग्नेंसी ब्लूज हो सकते हैं, लेकिन समीरा ने सोचना बंद नहीं किया कि उनके साथ क्या समस्या है। उन्हें बहुत निगेटिव समस्याएं हो रही थीं। 

इसे जरूर पढ़ें- सर्दियों में करना है Travel, इन आसान टिप्स की मदद से आप बचा सकती हैं पैसे

समीरा कहती हैं कि उन्होंने इसके लिए बहुत समय लिया। वो चाहतीं तो पहले इसके बारे में खुलकर बात करतीं और सब सही हो सकता था। 

दूसरी प्रेग्नेंसी के बाद समीरा थोड़ी तैयार थीं इस बात के लिए कि उनके साथ ये सब हो सकता है। वो अब चाहती हैं कि वो महिलाएं जो प्रेग्नेंट हैं या अभी-अभी मां बनी हैं उन्हें इसके बारे में पता हो और वो खुद को लेकर बेहतर मेहसूस करें। 

प्रेग्नेंसी को लेकर, ब्रेस्टफीडिंग को लेकर, पोस्ट पार्टम डिप्रेशन को लेकर अक्सर लोग बात नहीं करते हैं। यही नहीं महिलाएं प्रेग्नेंसी के बाद शेप वियर भी पहनने लगती हैं। ऐसे में समीरा का ये कदम काफी अच्छा है।