अभिनेत्री स्मिता पाटिल एक ऐसी शख्सियत थीं, जिनके काम ने हमेशा लोगों को प्रेरित किया। उन्होंने कई बेहतरीन फिल्में की और उनका जादू कुछ ऐसा था कि वह हर किसी को अपना बना लेती थीं। उनकी सिंपलिसिटी ही उनका सबसे बड़ा गहना थी और यही बात 80 के दशक के बेहतरीन अभिनेता राज बब्बर को पसंद आ गई।

राज बब्बर और स्मिता पाटिल ने कई फिल्मों में साथ काम किया। दोनों की मुलाकात एक फिल्म के सेट पर हुई। इस दौरान राज बब्बर को स्मिता पाटिल की सादगी, उनके अल्फाज इतने भाए की वह स्मिता को अपने दिल में जगह दे बैठे। इस बात ने एक मुश्किल भी खड़ी कर दी थी, क्योंकि राज पहले से ही शादीशुदा थे।

राज दिल के हाथों मजबूर थे और क्या करते? उन्होंने अपने दिल की सुनी और पूरे जमाने से लड़कर स्मिता का हाथ थाम लिया। फिल्मों की तरह ही दोनों की लव स्टोरी रही है। आइए आज हम आपको दोनों की लव स्टोरी के बारे में बताते हैं।

कैसे मिले थे राज और स्मिता पाटिल

how raj babbar and smita patil met

राज बब्बर की स्मिता पाटिल से पहली मुलाकात वर्ष 1982 में आई फिल्म 'भीगी पलकें' के सेट पर हुई थी। दोनों का कुछ समय हंसी मजाक में गुजरा तो थोड़ी नोकझोंक भी हुई। एक इंटरव्यू में खुद राज बब्बर ने बताया था, “उस समय इस फिल्म की शूटिंग ओडिशा के राउरकेला में चल रही थी। हमारी बात नोक-झोंक से शुरू हुई, लेकिन वह मीठी तकरार थी, जिसने हमारे रिश्ते की बुनियाद बनाई।’’ इस मुलाकात में ही राज बब्बर, स्मिता को दिल दे चुके थे। उन्हें उनकी सादगी पसंद आई और जो चीज सबसे अच्छी लगी, वो थे स्मिता के अल्फाज।

राज बब्बर की पहले से शादी बनी अड़चन

raj babbar and nadira babbar

राज बब्बर पहले से शादीशुदा थे, उन्होंने नादिरा से शादी की थी और उनके दो बच्चे भी थे। मगर वह स्मिता को इतना पसंद करते थे कि उन्हें कुछ समझ ही नहीं आ रहा था। दोनों एक-दूसरे को प्यार करते थे और एक-दूसरे से शादी करना चाहते थे। इस बीच कई लोगों ने स्मिता को घर तोड़ने वाली औरत का नाम दे दिया। मगर राज ने बताया था कि नादिरा और उनके बीच तनाव की वजह कभी स्मिता नहीं थी।

इसे भी पढ़ें :मनोज बाजपेयी और शबाना की लव स्टोरी, धर्म की दीवार कभी नहीं तोड़ पाई इनका प्यार

बॉलीवुडशादी में छपे एक इंटरव्यू में राज ने कहा था, ‘स्मिता के साथ मेरे रिश्ते के कारण मेरे और नादिरा के बीच कभी कोई समस्या नहीं हुई। वो सब बस अपने आप हो गया। नादिरा बहुत मैच्योर थीं और मेरी भावनाएं समझ सकती थीं और जूही (राज और नादिरा बब्बर की बड़ी बेटी) को हमेशा स्मिता के साथ रहना पसंद था।’

एक शादी पर टिकी थीं कई जिंदगियां

raj babbar nadira and smita patil

राज बब्बर और स्मिता पाटिल की नजदीकियों ने राज, स्मिता और नादिरा की जिंदगी को हिला कर रख दिया था। नादिरा को अपने पति की बेवफाई के बारे में गॉसिप और टैब्लॉयड के माध्यम से पता चला था। जब उन्होंने खुद राज से इस बारे में बात की, तो उनका सबसे बड़ा डर सच हो गया और वह बिखर गई थीं।

बॉलीवुडशादी में छपी खबर के मुताबिक,  नादिरा के लिए अब उनका काम और बच्चे ही सबकुछ थे। उनका काम और बच्चों ने उन्हें जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने साल 2013 के एक इंटरव्यू में खुलासा किया था, 'थिएटर और मेरे बच्चों ने मुझे खुद को संभालने में मदद की। मैं अपने बच्चों के प्रति सुरक्षात्मक हो गई थी ज्यादा आर्य के प्रति थी जो बहुत छोटा था।’

इसे भी पढ़ें :रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण की लव स्टोरी है सबसे अलग, जानें कैसे किया प्यार का इज़हार

कुछ समय का साथ और फिर लंबी जुदाई

smita and raj love story

राज ने नादिरा को बिना तलाक दिए (इन बॉलीवुड सेलेब्स ने अपनी पहली पत्नी को तलाक दिए बिना ही की थी दूसरी शादी) स्मिता से शादी कर ली थी। उसके बाद साल 1986 में स्मिता ने प्रतीक बब्बर को जन्म दिया, लेकिन प्रतीक के जन्म के समय उन्हें कुछ कॉम्प्लिकेशन्स हो गई। 2 हफ्ते तक जूझने के बाद, स्मिता और राज एक दूसरे से हमेशा के लिए अलग हो गए। स्मिता अपने पीछे प्रतीको और राज बब्बर को छोड़ कर दुनिया को अलविदा कह चुकी थीं।

स्मिता के निधन से राज पूरा तरह टूट चुके थे। उन्होंने एक पुराने इंटरव्यू में कहा था, स्मिता मुझे हमेशा के लिए छोड़कर चली गई। उसकी मौत से मुझे सदमा पहुंचा। लेकिन मैं नहीं चाहता था कि मेरी समस्याएं उन लोगों के जीवन को प्रभावित करें जो मुझ पर भरोसा करते हैं। मैं अपने काम में डूब गया, लेकिन घावों को ठीक होने में समय लगा।

Recommended Video

स्मिता और राज की कहानी एक ट्रेजेडी के साथ खत्म हुई थी। इसके कुछ समय बाद, नादिरा और राज फिर एक हो गए। हालांकि लोगों को लगा था कि नादिरा, राज को नहीं अपनाएंगी। मगर इसका उलट हुआ, इसकी वजह भी नादिरा ने एक इंटरव्यू में बताई थी, उसके घर जाने के लिए मेरा मजाक उड़ाया गया... उसके अपने सपने और इच्छाएं थीं। यह दुख की बात है कि वह उन्हें नहीं जी सकी। उनके जाने का गम किसी और गम से बड़ा हो गया। इसने सभी को तोड़ दिया। मैंने सबको माफ कर दिया है। मेरी किसी के प्रति कोई दुर्भावना नहीं है।"

कुछ ऐसी थी राज और स्मिता की प्रेम कहानी, जो जमाने से लड़कर एक हुए, मगर किस्मत को कुछ और ही पसंद था। दोनों मिलकर भी बिछड़ गए। 

आपको दोनों की लव स्टोरी कैसी लगी, हमें जरूर बताएं। यह लव स्टोरी आपको पसंद आई हो तो इसे लाइक और शेयर करें। बॉलीवुड की ऐसी और भी लव स्टोरी के बारे में जानने के लिए पढ़ते रहें हरजिंदगी।

Image Credit: instagram@prateikbabbar