रिश्तों को निभाना और उन्हें जीना दो अलग-अलग बातें होती हैं और गाहे-बगाहे हमें अपने सामने ऐसे लोग जरूर दिखते हैं जो रिश्तों को जीना जानते हैं। यकीनन किसी के साथ रिश्ता बनाना और उसे निभाना फिर भी आसान हो जाता है, लेकिन रिश्तों को जीना ही प्यार का अहसास होता है। हमारी एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में भी ऐसे कई लोग हैं जो रिश्तों को जीना जानते हैं और उनकी लव स्टोरी बहुत खास होती है। एक ऐसी ही लव स्टोरी है मनोज बाजपेयी और शबाना उर्फ नेहा की। 

कई लोगों को लगता है कि नेहा का नाम मनोज जी ने बदला है और रिश्ता निभाने के लिए दोनों के आड़े धर्म आया होगा, लेकिन सही मायनों में जहां प्यार होता है वहां इन सब बातों की जरूरत महसूस ही नहीं होती है। मनोज बाजपेयी और शबाना रज़ा का रिश्ता भी ऐसा ही है जो प्राइवेसी, पर्सनल लाइफ, पार्टनरशिप आदि बातों पर निर्भर करता है। 

अक्सर हम मनोज बायपेयी की स्क्रीन लाइफ के बारे में ही जानते हैं, लेकिन उनकी रियल लाइफ को उन्होंने हमेशा प्राइवेट रखने की कोशिश की है। आज हम उनकी लाइफ की एक झलक आप तक पहुंचाते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें- अनिल कपूर ने फिल्मी अंदाज़ में किया था सुनीता को प्रपोज, पुरानी तस्वीरों संग जानें लव स्टोरी

पहली ही फिल्म से स्टार बन गईं थीं नेहा (शबाना), पर बदलना पड़ा था नाम-

जिन लोगों को ये लगता है कि शबाना जी ने मनोज जी से शादी करने के लिए अपना नाम बदला वो गलत है। दरअसल, बॉबी देओल के अपोजिट 'करीब' फिल्म उनकी पहली फिल्म थी और उस दौरान विधू विनोद चोपड़ा ने उन्हें नाम बदलने की सलाह दी थी। उस फिल्म में उनका नाम बदलकर नेहा रखा गया और आज भी कई लोगों को लगता है कि उनका नाम नेहा ही है। नेहा ने कई फिल्में की जिनमें 'होगी प्यार की जीत, फिज़ा, कोई मेरे दिल में हैं' आदि हिट रही हैं।  

manoh and shaban

पहली ही फिल्म के बाद शबाना से मिले थे मनोज- 

शबाना की पहली फिल्म 'करीब' के बाद ही मनोज और शबाना की मुलाकात हुई थी। 1998 से ही दोनों साथ ही थे और इन्होंने 8 साल का लंबा वक्त डेटिंग करते हुए बिताया है। 1998 में ही मनोज बायपेयी की फिल्म 'सत्या' और शबाना की फिल्म 'करीब' आई थीं और इन दोनों के ही स्टारडम के दौरान दोनों पहली बार मिले थे। हिंदुस्तान टाइम्स के एक इंटरव्यू में शबाना ने कहा था कि मनोज और वो दोनों 10 सालों से एक दूसरे को जानते हैं और "करीब' के रिलीज होने के कुछ ही दिनों के बाद दोनों मिले थे, इसके बाद से ही दोनों साथ हैं।  

manoj and wife

8 साल की डेटिंग के बाद शादी- 

दोनों ने शादी का फैसला बहुत सोच समझ कर लिया था। दोनों ने 8 साल तक डेट किया और अप्रैल 2006 में दोनों ने शादी कर ली। हिंदुस्तान टाइम्स के उसी इंटरव्यू में शबाना ने कहा था कि मनोज और वो खुद एक दूसरे को बहुत अच्छे से समझते हैं और उनकी हेल्दी रिलेशनशिप में पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को अलग रखा जाता है। अपनी हेल्दी रिलेशनशिप को लेकर शबाना का हमेशा ये कहना होता है कि वो दोनों एक दूसरे को बहुत अच्छे से समझते हैं।  

manoj bajpayee wife

इसे जरूर पढ़ें- शाहरुख-गौरी से लेकर ऋतिक-सुजैन तक, इन 9 बॉलीवुड स्टार्स को हुआ था Love At First Sight 

मनोज की पहली पत्नी नहीं हैं शबाना- 

मनोज बाजपेयी की पहली पत्नी नहीं हैं शबाना और ये बहुत ही कम लोग जानते हैं। मनोज अपनी जिंदगी को इतना प्राइवेट रखते हैं कि उनकी पहली पत्नी का नाम ही नहीं पता है। मनोज की शादी 1990 के दशक के शुरुआती दौर में हुई थी और वो उस दौरान स्ट्रगल कर रहे थे। ऐसे में मनोज बाजपेयी को मुंबई आकर रहना पड़ा और दूरी और पैसों की तंगी के कारण दोनों का साथ 1995 में ही छूट गया।  

41 साल की उम्र में पिता बने मनोज बाजपेयी- 

मनोज बाजपेयी और शबाना रज़ा की पहली बेटी एवा नायला 2011 में पैदा हुई। उस समय मनोज 41 साल के थे और पहली बार पिता बने थे। बड़ी उम्र में पिता बनने पर मनोज बाजपेयी को कोई परेशानी नहीं हुई और उन्होंने और शबाना ने अपने किरदार बखूबी निभाए। मनोज ने फिल्मफेयर को दिए एक पुराने इंटरव्यू में कहा था कि उन्हें एवा को गोद में लेते ही लगा था जैसे दुनिया उनके सामने आ गई हो। एवा बिलकुल शबाना जैसी दिख रही थी, लेकिन उस वक्त उन्हें शबाना की ज्यादा चिंता थी।  

manoj bajpayee family

मनोज का कहना है कि एवा के पैदा होने के बाद वो काफी समय तक मुंबई छोड़कर नहीं गए और जब उन्हें 'आरक्षण' फिल्म के लिए बाहर जाना था तो उनकी आंखों में आंसू आ गए थे।  

मनोज का कहना है कि शबाना ने उनके और एवा के लिए बहुत बलिदान दिए हैं और जिस भी दिन शबाना उनसे कहेंगी कि उन्हें वापस फिल्मों में काम करना है वो दिन मनोज के लिए खुशी का दिन होगा।  

मनोज और शबाना की कहानी बताती है कि अगर आपके सामने मुश्किलें आएं तो आपको उन्हें हंसकर देखना चाहिए और साथ मिलकर आगे बढ़ना चाहिए। ऐसा नहीं है कि इन दोनों के रिश्ते में कोई मुश्किल कभी आई ही नहीं होगी, लेकिन कभी भी ये सुर्खियां नहीं बनीं और न ही दोनों ने इसे जगजाहिर करने की कोशिश की।  

फैमिली मैन 2 की सफलता के बाद मनोज बाजपेयी और शबाना की कहानी कई लोग जानना चाहेंगे।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।