भारत में रिश्तों को बेहद अनूठे नाम दिए गए हैं। यह रिश्ते जितने अनूठे है उतने ही मजेदार भी हैं। वैसे इन मजेदार रिश्तों को निभाने की सारी जिम्मेदारी महिलाओं के कंधे पर डाल दी गई है। भारतीय महिलाओं को बहुत सारे ऐसे रिश्ते निभाते पड़ते हैं जो कभी तीखे तो कभी मीठे हो जाते हैं। जैसे सास-बहू, नंद-भाभी और देवरानी-जेठानी। हमने सास-बहू, नंद-भाभी के रिश्तों पर कई बार बात की है। मगर, आज हम बात करेगें देवरानी-जेठानी के रिश्तों की। देखा जाए तो देवरानी और जेठानी बहुत अच्छी दोस्त और बहन जैसा रिश्ता भी बना सकती हैं तो वहीं दोनों मिल कर परिवार को 2 हिस्सों में बांट भी सकती हैं। हमारे पास दोनों ही तरह के उदाहरण हैं। तो चलिए बात करते हें देश की ऐसी 4 फेमस देवरानी-जेठानी की जोड़ी की, जो हमेशा ही चर्चा में रही हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:बॉलीवुड की इन स्‍टेप मदर-डॉटर की बॉन्डिंग देख चौक जाएंगी आप

Bollywood Gorgeous Celebrity Devrani Jethani Jodis

प्रियंका चोपड़ा- सोफी टर्नर 

प्रियंका चोपड़ा ने जब से अमेरिकन सिंगर निक जोनस से शादी की है तब से वह अपने पति के परिवार के साथ कई बार ट्रिप पर जा चुकी हैं। प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस दोनों ही फैमिली ओरिएंटेड हैं। प्रियंका चोपड़ा ने भी बहुत ही सहजता के साथ निक की फैमिली को अपना लिया है। प्रियंका चोपड़ा निक की फैमिली में सबसे ज्यादा क्लोज अपनी जेठानी सोफी टर्नर से हैं। प्रियंका सोफी टर्नर के साथ हमेशा ही तस्वीरों में मस्ती करते हुए नजर आ जाती हैं। हालही में सोफी टर्नर के साथ उनकी शॉपिंग करते हुए इमेज वायरल हो रही थी। इन तस्वीरों में वह दोनों में साथ में शॉपिंग करते हुए इतनी खुश नजर आ रही हैं जैसे सगी बहनें हों। 

इसे जरूर पढ़ें:बॉलीवुड के ये स्‍टेप भाई-बहन हैं सबके लिए मिसाल

Nita Ambani And Tina Munim Gorgeous Celebrity Devrani Jethani Jodis

नीता अंबानी-टीना मुनीम 

भारत में सबसे अमीर घरानों में से एक अंबानी खानदान हमेशा चर्चा में रहता है। कभी आलीशान शादी के लिए तो कभी बड़े बिजनेट डील्स के लिए। इस घराने की दो बहुएं हैं। नीता अंबानी और टीना मुनीम। दोनों ही अलग-अलग कारणों से फेमस हैं। जहां टीना मुनीम 80 के दशक में बॉलीवुड की टॉप 10 एक्ट्रेस रह चुकी हैं वहीं उनकी जेठानी नीता अंबानी भी एक ट्रेंड क्लासिकल डांसर रह चुकी हैं। दोनों का रिश्ता बेहद दिलचश्प है। दोनों को साथ में केवल फैमिली ईवेंट्स में ही देखा जाता है। इस बार भी मुकेश अंबानी और नीता अंबानी की बेटी ईशा अंबानी की शादी में टीना मुनीम पहुंची थीं। टीना मुनीम कभी भी नीता अंबानी के साथ नजर नहीं आईं मगर, भतीजी की शादी की खुशी में उन्होंने स्टेज पर परिवार के साथ एक ग्रुप डांस जरूर किया था। दोनों के बीच कोई मतभेद है ऐसी खबरें कभी नहीं आईं मगर, दोनों को कभी भी साथ में हैंगआउट करते हुए नहीं देखा गया। टीना और अनिल अंबानी की प्रेम कहानी ऐसी हुई थी शुरू

Neetu Singh And Babita Gorgeous Celebrity Devrani Jethani Jodis

नीतू सिंह- बबीता 

बॉलीवुड का ग्रेट कपूर खानदान बाहर से जितना खुशहाल नजर आता है अंदर से इस परिवर में उतनी ही ‘महाभारत’ रही है। इस महाभारत का आगाज नीतू सिंह और बबीता की लड़ाई से हुआ था। मगर, इस बात को सालों बीत चुके हैं। दोनों के ही बच्चों के बीच बहुत प्रेम है औद अब नीतू सिंह और बबीता भी पूराने विवादों को भुला चुकी हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि केवल विवदों के कारण ही नीतू सिंह करिश्मा कपूर की शादी में नहीं गई थीं।

मगर, हालही में गोवा के एक फैमिली फंक्शन में नीतू और बबीता को साथ में मौजमस्ती करते देखा गया। आपको बता दें कि जेठानी और देवरानी की लड़ाई का असर रणधीर कूपर और ऋषि कपूर ने अपने रिश्ते में नहीं पड़ने दिया। आपको बता दें कि करीना और रणवीर कपूर दोनों ही एक दूसरे के बहुत करीब हैं। नीतू सिंह की कुछ पुरानी यादगार तस्वीरें, आप भी देखें

Soniya Gandhi And Menaka Gandhi Devrani Jethani Jodis

सोनिया गांधी- मेनका गांधी 

देश की सबसे बड़ी पॉलिटिकल फैमिली और देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदरा गांधी की बहुएं सोनिया गांधी और मेनका गांधी के बीच भी सब कुछ ठीक नहीं है। ऐसा कहा जाता है कि पॉलिटिक्स में कोई अपना नहीं होता है। कुद ऐसा ही रिश्ता है सोनिया और मेनका के बीच। आपको जानकर हैरानी होगी कि देश की सबसे बड़ी पॉलिटिकल फैमिली की बहुएं एक दूसरे से नजर भी नहीं मिलाती हैं। मगर, एक वक्त था जब दोनों एक ही घर में रहती थीं। दोनों में सहेलियों जैसे संबंध थे। मगर, संजय गांधी की डेथ के बाद सब कुछ बिगड़ गया।

दरअसल, संजय गांधी के जाने के बाद मेनका उनकी राजनीतिक विरासत को संभालना चाहती थीं मगर, इंदरा गांधी ने तब राजीव गांधी को पॉलिटिक्स में आने के लिए कहा। यही बात उन्हें पसंद नहीं आई। 1982 में मेनका गांधी ने आधी रात में इंदरा गांधी का घर छोड़ दिया। इतना ही नहीं वर्ष 1984 में वह अमेठी से राजीव गांधी के खिलाफ चुनाव भी लड़ी मगर हार गईं।