• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

कश्मीर फाइल्स ही नहीं, फैमिली के साथ देखें ये ऐतिहासिक फिल्में

अगर कश्मीर फाइल्स फिल्म जैसी ऐतिहासिक फिल्मों में आपकी रूचि है तो परिवार के साथ जरूर देखें ये मूवीज।  
author-profile
  • Bhagya Shri Singh
  • Editorial
Published -28 Mar 2022, 16:03 ISTUpdated -28 Mar 2022, 16:47 IST
Next
Article
The Kashmir Files main

डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री की फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' ने आजकल सिनेमाघरों में तहलका मचा दिया है। फिल्म में कई ऐसे दफ़न हो चुके तथ्यों का सनसनीखेज खुलासा किया गया है जिसे देखकर शायद हर कोई अचंभित है। फिल्म में कश्मीरी पंडितों पर हुए जुल्म को देखकर शायद ही कोई अपने आंसू रोक पाए। फिल्म में उजागर हुए राज की वजह से सत्ता के गलियारे में भी हलचल है। कुछ फिल्में मनोरंजन के लिए होती हैं और कुछ अपने काल और अपने समय की गवाही देते आईने की तरह होती हैं। अगर ऐतिहासिक फिल्में देखने में आपकी रूचि है, तो आप अपने परिवार के साथ ये फिल्में भी देख सकते हैं ताकि कई ऐतिहासिक तथ्य आपके सामने उजागर हो सकें। ध्यान रखें कि फिल्म देखने से पहले रिव्यू जरूर पढ़ें ताकि अगर उसमें कोई बोल्ड कंटेंट है तो इसे बच्चों के साथ ना देखें...

परमाणु: द स्टोरी ऑफ पोखरण

Parmanu The Story of Pokhran

डायरेक्टर अभिषेक शर्मा ने जॉन अब्राहम की मुख्य भूमिका वाली फिल्म को पोखरण में हुए पहले सीक्रेट परमाणु परीक्षण पर आधारित है। 44 करोड़ के बजट वाली यह फिल्म सत्य घटना पर आधारित है। भारत ने बड़े ही ख़ुफ़िया तरीके से इस मिशन को अंजाम दिया था। अमेरिका की ख़ुफ़िया एजेंसी सीआईए के सैटेलाईट को चकमा देकर और अजित डोभाल और मिनिस्टर की ख़ास परमिशन लेकर ही मिशन पूरा किया गया था।

इसे भी पढ़ें: स्पोर्ट्स पर बनीं इन बॉलीवुड मूवीज ने जीता दर्शकों का दिल

द लीजेंड ऑफ भगत सिंह

The Legend Of Bhagat Singh

एक्टर अजय देवगन ने इस मूवी में भारत के शहीद भगत सिंह का किरदार अपनी उम्दा एक्टिंग से जीवंत कर दिया था। 2002 में आई इस फिल्म को राजकुमार संतोषी ने डायरेक्ट किया था। फिल्म में ब्रिटिश इंडिया रूल से लोहा लेने का सपना बचपन से पाले हुए भगत सिंह की कहानी और उनका संघर्ष बेहद बारीकी से दिखाया गया है।

द ताशकंद फाइल्स

The Tashkent Files

विवेक अग्निहोत्री ने 'द ताशकंद फाइल्स' से भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की रहस्यमय मृत्यु को उजागर करने की कोशिश की थी। फिल्म आखिर में दर्शकों के मन में कई सवाल छोड़ जाती है। सर्वविदित है कि भारत और पाकिस्तान के बीच 10 जनवरी 1966 को हुए ताशकन्द शांति समझौते पर लाल बहादुर शास्त्री हस्ताक्षर करने गए थे। समझौते के कुछ घंटे बाद ही शास्त्री जी की रहस्यमय हालत में मौत हो गई थी। सबूत इशारा कर रहे थे कि दिल का दौरा पड़ने से शास्त्री जी की मौत हो गई थी। वहीं कुछ का मानना था कि शास्त्री जी की मौत किसी साजिश का नतीजा थी। पूरी फिल्म इसी पर आधारित है। फिल्म में एक पत्रकार को शास्त्री जी की मौत को लेकर अहम लीड मिलती है। वह इस मुद्दे को काफी तेजी से उठाती है और घटना के तह तक जाना चाहती है। मंत्री जी की देखरेख में इसकी जांच के लिए एक कमेटी भी गठित की जाती है।

इसे भी पढ़ें: सिर्फ जया बच्चन के लिए संजीव कुमार ने की थी फिल्म 'सिलसिला', कुछ ऐसा था दोनों का रिश्ता

बाटला हाउस

यह फिल्म बाटला हाउस ऑपरेशन पर आधारित है। फिल्म में जॉन अब्राहम ने मुख्य भूमिका निभाई है। 19 सितंबर, 2008  को दिल्ली पुलिस ने इंडियन मुजाहिदीन के आतंकवादियों का एनकाउंटर किया था। ऑपरेशन को लीड कर रहे स्पेशल सेल इंस्पेक्टर और एनकाउंटर स्पेशलिस्ट मोहन चंद शर्मा मुठभेड़ के दौरान शहीद हो गए। इस घटना पर बाद में पुलिस विभाग पर फर्जी मुठभेड़ का आरोप भी लगा था।

Recommended Video

 

मंगल पांडे: द राइज़िंग

ये फिल्म भी सत्य घटना पर ही आधारित है। आमिर खान ने इस फिल्म में क्रांतिकारी वीर मंगल पांडे का किरदार अदा किया है। केतन मेहता द्वारा डायरेक्ट की गई इस फिल्म में अमीषा पटेल, रानी मुखर्जी और किरण खेर भी अहम भूमिकाओं में हैं।

 

आप अपने परिवार के साथ बैठकर आप ये ऐतिहासिक फ़िल्में देख सकते हैं। यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें, साथ ही इसी तरह की अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें HerZindagi के साथ।

 

Image credit: imdb

 

 

 

 

 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।