पिछले एक दशक में महिलाओं ने काफी प्रोग्रेस की है। खासतौर पर कामकाजी महिलाओं की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। चाहें फिल्में हों या राजनीति, फैशन हो या चिकित्सा क्षेत्र, हर जगह महिलाएं परचम लहरा रही हैं। लेकिन महिलाओं के तरक्की करने के बावजूद भी वे भेदभाव की शिकार होती हैं। बॉलीवुड की चर्चित एक्ट्रेस मंदिरा बेदी ने इस बारे में अपनी राय खुलकर जाहिर की है। मंदिरा बेदी ने वर्किंग वुमन के चैंलेंजेस पर चर्चा करते हुए कहा कि चाहें ग्लैमर की दुनिया हो या रियल लाइफ, हर जगह महिलाएं भेदभाव की शिकार हो रही हैं। 

वर्किंग वुमन आज भी झेल रही हैं भेदभाव

mandira bedi celebrity inside

ऑफिसों में अक्सर ये चीज देखने को मिलती है कि महिला कर्मचारियों का प्रमोशन टल जाता है और हर बार किसी पुरुष सहयोगी को मिल जाता है। ऐसे मामले भी अक्सर सामने आते हैं, जहां कोई महिला ड्राइवर या मैकेनिक बनकर अपनी रोजी-रोटी कमाना चाहती हो, लेकिन घर-परिवार से उसकी इजाजत नहीं मिलती। ऐसे में महिलाओं के लिए जीवन आसान नहीं है। इसकी झलक वेब सीरीज “Kiska Hoga Thinkistan Season 2” में भी देखने को मिल रही है।

ऑफिस में होने वाली पॉलिटिक्स, प्रोफेशनल होड़, दुश्मनी और दफ्तरों में महिलाओं से किए जाने वाले भेदभाव, इन सब रियल लाइफ की चीजों की झलक इस शो में दिखाई देती है। एमएक्स ओरिजिनल सीरीज के शो “किसका होगा थिंकिस्तान” में मंदिरा बेदी एक इंप्रेसिव बॉस की भूमिका निभा रही हैं। शो में वह एक साहसी और दिलेर महिला का किरदार निभा रही हैं, जो स्वभाव से विनम्र है। मंदिरा बेदी ने इस बारे में कहा है, 'चाहे ऑफिस लाइफ हो या असल जिंदगी हो, महिलाओं के साथ भेदभाव हर जगह सामने आते हैं।'

इसे जरूर पढ़ें: देश की पहली ट्रांसजैंडर न्‍यूज एंकर पद्मिनी प्रकाश की इंस्‍पायरिंग कहानी

कड़ी मेहनत कर रही हैं महिलाएं

इस पर चर्चा करते हुए मंदिरा बेदा का कहना था, 'व्यापक तौर पर देखा जाए तो वर्कप्लेस पर अब भी भेदभाव का बर्ताव होता है। आज की तारीख में भी दफ्तरों में लैंगिक असामानता के बीच इस बात से थोड़ी उम्मीद जागती है कि महिलाएं संघर्ष कर अपना मुकाम वापस हासिल कर रही हैं। वे बाधाओं की परवाह किए बिना लगातार सफलताएं हासिल कर रही हैं।

इसे जरूर पढ़ें: एअरइंडिया ने ट्रांस वूमेन को नौकरी नहीं दी तो उसने इच्छामृत्यु की मांग की

शो के जरिए महिलाओं को जागरूक करना चाहती हैं मंदिरा बेदी

mandira bedi on working women inside

मंदिरा बेदी ने शो पर चर्चा करते हुए बताया, 'मैं इस सीरीज में बॉस का रोल निभा रही हूं, जो मेहनती है, खुद्दार है और साहसी है। उसे यह अच्छी तरह से पता है कि अपने कर्मचारियों को किस तरह प्रोत्साहित करना है। वह अपने कर्मचारियों के अच्छे काम की तारीफ करती है, उन्हें क्रिएटिव फीडबैक देती है। मैं सोचती हूं कि अगर एक भी महिला को हमारी सीरीज देखकर अपने अधिकारों के बारे में जागरूक होने की प्रेरणा मिली तो हम सभी लोगों के सीरीज बनाने का मकसद हल हो जाएगा।”

वैसे इस शो में एडवर्टाइजिंग की दुनिया की कड़वी हकीकत भी देखने को मिलेंगी। मशहूर ऐड फिल्‍म मेकर एन. पद्मकुमार के डायरेक्शन में बनी इस वेब सीरीज के इस सीजन में कई इमोशन्स देखने को मिलेंगे। इसमें ऑफिस के भीतर पुरुष और महिलाओं में भेद, दुश्मनी, दोस्ती, प्यार धोखा और एक्‍स्‍ट्रा मैरिटल अफेयर जैसा बहुत कुछ देखने को मिल रहा है।