टैटू करवाना इन दिनों काफी ट्रेंड में है। यंगस्टर्स के बीच टैटू करवाने का क्रेज काफी अधिक है। वैसे इन्हीं लोगों में कुछ ऐसे भी होते हैं, जिन्हें टैटू करवाने का मन तो बहुत होता है, लेकिन फिर भी वह बॉडी टैटू करवाने से डरते हैं। दरअसल, उनके मन में टैटू करवाने को लेकर कई तरह के मिथ होते हैं। जैसे कि टैटू करवाने में बहुत अधिक दर्द होता है या फिर इससे आपको बॉडी में इंफेक्शन होकर कैंसर या अन्श् कोई खतरनाक बीमारी भी हो सकती हैं। इन्हीं सब मिथ्स के चलते कुछ लोग टैटू करवाने से बचते हैं। हो सकता है कि आपका नाम भी ऐसे ही लोगों की लिस्ट में शुमार हो, जो टैटू करवाने से डरते हों। वैसे टैटू करवाना या ना करवाना यह पूरी तरह से आपकी पर्सनल च्वॉइस पर निर्भर करता है, लेकिन फिर भी यह जरूरी है कि आप अपने मन के मिथ्स व उसकी असल सच्चाई के बारे में जरूर जान लें। तो चलिए आज इस लेख में जानते हैं कुछ ऐसे ही पॉपुलर टैटू मिथ्स व उनकी रिएलिटी के बारे में-

मिथ 1: टैटू करवाने में एक बच्चे को जन्म देने जितना दर्द होता है-

 permanent tattoo tips inside

सच्चाईः अधिकतर महिलाएं सिर्फ इसलिए भी टैटू नहीं करवातीं, क्योंकि उन्हें लगता है कि ऐसा करने में उन्हें एक बच्चे को जन्म देने जितना दर्द होता है। जबकि यह सच नहीं है। यकीनन टैटू करवाने में आपको थोड़ा दर्द होता है। लेकिन यह सिर्फ उतना ही है, जितना कि आपको एक सनबर्न को स्क्रैच करने या फिर कई चींटियों के एक जगह काटने पर होगा।

इसे जरूर पढ़ें: ऊनी कपड़ों के रोंएं से है परेशान, तो उन्हें हटाने के लिए अपनाएं ये हैक्स

मिथ 2: कलर्ड टैटू को रिमूव नहीं किया जात सकता-

 permanent tattoo tips inside

सच्चाईः हालाँकि यह सच है कि येलो, व्हाइट और पिंक जैसे रंगों को लेजर उपचार से भी हटाना काफी मुश्किल होता है। लेकिन काले रंग के टैटू को लेजर से आसानी हटाया जा सकता है। लेकिन कलर्ड टैटू को भी रिमूव किया जा सकता। हो सकता है कि आपको बाद में इसके हल्के निशान नजर आएं। लेकिन यह इतने हल्के होते हैं कि आप कंसीलर की मदद से इसे आसानी से छिपा सकती हैं।

इसे जरूर पढ़ें: इन यूनिक आईडियाज़ से पार्टनर के साथ मनाएं वैलेंटाइन डे और इस दिन को बनाएं यादगार

मिथ 3: बहुत सारी क्रीम लगाने से टैटू जल्दी हील होता है-

 permanent tattoo tips inside

सच्चाईः जब आप टैटू करवाती हैं तो उस एरिया पर सूजन नजर आती हैं और उसे हील होने में वक्त लगता है। उस दौरान हम ऑइनमेंट लगाती हैं। लेकिन अगर आप सोचती हैं कि बहुत सारी क्रीम लगाने से टैटू जल्दी हील होता है तो आप गलत हैं। ऐसा करने से टैटू के सरफेस पर बबल्स नजर आते हैं और कई बार इससे हीलिंग प्रॉसेस भी काफी कॉम्पलीकेटिड हो जाता है। इसके अलावा, अगर आप अपने टैटू को बहुत ड्राई रखती हैं तो इससे त्वचा में दरार पड़ सकती है। इसलिए आप मरहम का इस्तेमाल करें, लेकिन ना तो बहुत अधिक और ना ही बहुत कम। (टैटू बनवाने जा रही हैं तो जरा सोचें, body को नुकसान पहुंचाता है tattoo)

मिथ 4: क्लोरीनयुक्त पूल में नहाने से टैटू का कलर फेड हो जाएगा-

 permanent tattoo tips inside

सच्चाईः यह एक अजीब सा मिथ है, जिस पर अधिकतर लोग भरोसा करते हैं। हालांकि वास्तविक सच्चाई यह है कि क्लोरीन त्वचा की पहली परतों से सुई की तरह नीचे नहीं उतर सकता है और इसलिए, क्लोरीनयुक्त पानी रंगों को लीक या फीका करने का कारण नहीं बन सकता है और इसलिए आपको क्लोरीन के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं है। हालांकि आप यह जरूर सुनिश्चित करें कि अगर आपने हाल ही में टैटू करवाया है और वह अभी तक पूरी तरह हील नहीं हुआ है तो आप पूल में ना जाएं।

Recommended Video

मिथ 5: टैटू करवाने से एड्स या कैंसर जैसी घातक बीमारी हो सकती है-

 permanent tattoo tips inside

सच्चाईः कुछ महिलाएं टैटू करवाने से इसलिए भी डरती हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि ऐसा करने से उन्हें कई गंभीर रोग जैसे एड्स या कैंसर आदि हो सकता है। ऐसा होने की संभावना केवल तभी होती है, जब आप ऐसे ही कहीं पर भी टैटू करवाती है। अगर आप एक पार्लर में टैटू बनवा रही हैं जहां पर प्रॉपर स्टेरलाइजेशन से लेकर हाईजीन का ख्याल रखा जाता है और हर बार फ्रेश सुई का इस्तेमाल किया जाता है तो आपको इस बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है। इसलिए हमेशा एक अच्छे टैटू पार्लर से किसी अनुभवी टैटू आर्टिस्ट से ही टैटू करवाएं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik