हिन्दू कैलेंडर  के अनुसार प्रत्येक महीने का अपना अलग महत्त्व है। इसी क्रम में कार्तिक का महीना भी हिन्दुओं के लिए बहुत ज्यादा मायने रखता है। इस पूरे महीने में भगवान विष्णु की पूरे श्रद्धा भाव से पूजा की जाती है और ऐसी मान्यता है कि इस पूरे महीने में यदि दीपदान के साथ तुलसी जी का पूजन किया जाए तो यह कई तरह से लाभ दिलाता है। कार्तिक के महीने को अत्यंत पवित्र महीना माना जाता है क्योंकि यह चातुर्मास का आखिरी महीना है और इसके बाद देवशयनी एकादशी के दिन विष्णु जी निद्रा से जग जाते हैं और यही कारण है कि इस महीने में विष्णु पूजन फलदायी माना जाता है।

वैसे तो इस पूरे महीने में तुलसी का पूजन और रोपण विशेष रूप से फलदायी है, लेकिन अलग राशियों  के लिए कुछ अलग उपायों से पूजन करना फलदायी हो सकता है। आइए ज्योतिषाचार्य और वास्तु स्पेशलिस्ट डॉक्टर आरती दहिया जी से जानें इस साल कब से शुरू हो रहा है कार्तिक का महीना, इसका क्या महत्व है और राशि के अनुसार क्या उपाय करने चाहिए जो आपको लाभ प्रदान करने के साथ घर में सुख समृद्धि ला सकें। 

कब से शुरू हो रहा है कार्तिक का महीना 

इस साल कार्तिक के पवित्र महीने की शुरुआत 21 अक्टूबर 2021 से हो रही है, जो कि 19 नवंबर तक रहेगा। इस पूरे महीने में विष्णु पूजन का महत्व बहुत ज्यादा है और स्कंद पुराण में कार्तिक के महीने को विस्तार से मास के महत्व को विस्तार से बताया गया है। स्कंद पुराण के अनुसार, कार्तिक के महीने के समान कोई और महीना नहीं है। इस महीने में तुलसी पूजन के अलावा पवित्र स्नान को भी मुख्य रूप से फलदायी माना जाता है। इसमें कार्तिक के महीने का माहात्म्य बताते हुए कहा गया है कि जिस तरह वेदों के समान कोई शास्त्र, गंगा के समान कोई नदी और सतयुग के समान कोई युग नहीं है उसी तरह   कार्तिक के महीने के जैसा कोई महीना नहीं है। 

कार्तिक के महीने में करें दीपदान 

deep dan kartik

कार्तिक के पूरे महीने में दीपदान का विशेष महत्व है। इस महीने में दीपदान करने के महात्म्य के बारे में स्वयं भगवान विष्णु ने ब्रह्मा जी को, ब्रह्मा जी ने नारद जी को और नारद जी ने महाराज पृथु को बताया है। इसलिए इस माह में किसी नदी या पोखर में दीपदान अवश्य करें। कार्तिक के पूरे महीने में  शाम के समय घर के मंदिर, तुलसी के पौधे, नदी, पोखर आदि में दीपदान करना चाहिए। ऐसा करने से बहुत ज्यादा पुण्य मिलता है। 

इसे जरूर पढ़ें:कार्तिक मास में तुलसी पूजा का क्या है महत्व, जानें इसकी कथा

पवित्र नदियों में करें स्नान 

कार्तिक के महीने में गंगा जैसी पवित्र नदी में स्नान करने का विशेष महत्त्व है। कहा जाता है कि इस महीने में नदी स्नान करने से समस्त पापों से मुक्ति मिलती है और उन्नति का मार्ग खुलता है। 

राशियों के अनुसार कार्तिक के महीने में करें ये उपाय 

horoscope zodiac kartik

कार्तिक के इस पूरे महीने में राशि के अनुसार कुछ उपाय आपको उन्नति की ओर ले जा सकते हैं साथ ही घर में सुख समृद्धि भी आएगी। 

मेष राशि 

इस राशि के लोगों को कार्तिक के पूरे महीने में विष्णु जी का पूजन पूरे मनोयोग ये करना चाहिए। इस पूरे महीने में विष्णु जी की तस्वीर को नियमित रूप से चंदन लगाएं और पीले फूल अर्पित करें। 

वृषभ राशि 

वृषभ राशि के लोगों को पूरे कार्तिक के महीने में तुलसी माता को जल अर्पित करें और तुलसी का पूजन निश्चित रूप से करें। तुलसी जी का पूजन कार्तिक के महीने में विशेष रूप से फलदायी होगा और घर में शांति लाएगा। 

मिथुन राशि 

इस राशि के लोग कार्तिक के पूरे महीने में तुलसी के सामने घी के 7 दीपक जलाएं और रविवार और एकादशी को छोड़कर नियमित रूप से तुलसी में जल अर्पित करें। 

कर्क राशि 

कर्क राशि के लोग यदि तुलसी पूजन के साथ तुलसी जी को नियमित भोग में कुछ मीठा अर्पित करेंगे तो ये घर की सुख समृद्धि का कारण बनेगा। इस राशि के लोगों को विष्णु पूजन के साथ माता लक्ष्मी का पूजन भी नियमित करना चाहिए और मुख्य रूप से शुक्रवार के दिन माता लक्ष्मी को खीर का भोग अर्पित करें। 

सिंह राशि 

सिंह राशि के लोग कार्तिक के महीने में घर के मुख्य द्वार पर घी का दीपक (दीपक जलाते समय ध्यान रखें ये बातें) जलाएं और इसे मुख्य द्वार की दाहिनी तरफ रखें। यदि आप पूरे महीने ऐसा नहीं कर पा रहे हैं तो कम से कम एकादशी और पूर्णिमा तिथि को जरूर यह उपाय करें। 

कन्या राशि 

इस राशि के लोगों को घर में तुलसी के नए पौधे का रोपण जरूर करना चाहिए। कार्तिक के महीने में लगाया गया तुलसी का पौधा घर में सुख समृद्धि  लेकर आएगा। 

Recommended Video

तुला राशि 

इस राशि का स्वामी ग्रह शुक्र है। इसलिए कार्तिक के पूरे महीने में शुक्रवार के दिन तुलसी माता को दूध और चावल की खीर का भोग लगाएं तथा नियमित तुलसी जी के सामने दीपक प्रज्वलित करें। 

वृश्चिक राशि 

वृश्चिक राशि के लोगों को मुख्य रूप से महिलाओं को नियमित तुलसी का पूजन (तुलसी पूजन में न करें ये गलतियां)करना है और एकादशी तिथि में श्रृंगार का सामान अर्पित करना है। ऐसा करने से घर में सुख समृद्धि आएगी। 

धनु राशि 

धनु राशि के लोगों को कार्तिक के महीने में कम से कम एक बार किसी पवित्र नदी में स्नान जरूर करना चाहिए और यदि आप ऐसा नहीं कर पा रहे हैं तो नहाने के पानी में नियमित रूप से गंगाजल की कुछ बूंदें मिलाकर स्नान करें। 

aarti dahiya kartik month

मकर राशि 

इस राशि का स्वामी ग्रह शनि है और इस राशि के लोगों को कार्तिक के पूरे महीने में शनि और पीपल में दीपक प्रज्वलित करना है। यदि आप ऐसा नहीं कर प् रहे हैं तो तुलसी में नियमित रूप से दीया जरूर प्रज्वलित करें। 

कुंभ राशि 

इस राशि के लोगों को कार्तिक के पूरे महीने में नियमित रूप से विष्णु जी का पूजन करना है और बृहस्पतिवार के दिन दही से पंचामृत तैयार करें और तुलसी की पत्ती डालकर विष्णु जी को भोग अर्पित करें। 

मीन राशि 

मीन राशि के लोगों को पूरे महीने तुलसी का पूजन करना है। इसके लिए तुलसी के पौधे में सुबह जल अर्पित करें और रात में दीपक प्रज्वलित करके तुलसी जी की आरती करें। 

तुलसी पूजा है महत्त्वपूर्ण 

tulsi pujan

तुलसी के पौधे को अत्यंत पवित्र माना जाता है। मुख्य रूप से कार्तिक के महीने को तुलसी जी के विवाह के महीने के रूप में मनाया जाता है। इस महीने में तुलसी का विवाह भगवान विष्णु जी के साथ हुआ था, इसलिए विष्णु जी के साथ तुलसी पूजन किया जाता है। कार्तिक के महीने में तुलसी का पौधा  लगाना विशेष रूप से लाभकारी होता है। 

इसे जरूर पढ़ें:Diwali Special: दिवाली में इस विधि से करें लक्ष्मी पूजन, घर में होगी धन की वर्षा

कार्तिक के पूरे महीने में राशि के अनुसार किये गए ये उपाय आपके घर में सुख समृद्धि ला सकते हैं और घर को धन धान्य से पूर्ण कर सकते हैं। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik and pinterst