Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    कनिका कपूर ने ठीक होने के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों को प्लाज्मा डोनेट करने की जताई इच्छा

    कनिका कपूर ने ठीक होने के बाद कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए प्लाज्मा डोनेट करने की इच्छा जताई है। जानिए पूरी खबर। 
    author-profile
    Published -28 Apr 2020, 14:19 ISTUpdated -28 Apr 2020, 14:47 IST
    Next
    Article
    kanika kapoor helping corona patients by donating plasma main

    बॉलीवुड की चर्चित सिंगर कनिका कपूर के कोरोना पॉजिटव होने की खबर सुर्खियों में रही थी। उनके फैन्स उनके जल्दी ठीक होने की दुआ कर रहे थे। अब रिकवरी के बाद कनिका कपूर ने अन्य कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों को प्लाज्मा डोनेट करने की इच्छा जताई है। कनिका कपूर ने लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज(केजीएमयू) में अपना ब्लड सैंपल टेंस्टिंग के लिए दिया है। केजीएमयू की Head of Department of Transfusion Medicine ने पीटीआई को बताया, 'कनिका कपूर ने प्लाज्मा डोनेट करने की इच्छा जताई थी। इसके बाद उन्हें बुलाया गया और टेस्टिंग के लिए उनका सैंपल लिया गया। अगर उनके ब्लड टेस्ट की रिपोर्ट सही पाई गई तो उनका प्लाज्मा डोनेट करने के लिए उन्हें बुलाया जाएगा।' 

    लखनऊ के केजीएमयू में दिया ब्लड सैंपल

    kanika kapoor helping corona patients donate plasma

    इस अस्पताल से अब तक कोरोना के तीन मरीज ठीक होकर जा चुके हैं और तीनों ने अपना प्लाज्मा डोनेट किया है। इसमें यहां के एक रेजिडेंट डॉक्टर तौसीफ खान भी शामिल हैं। कनिका कपूर 20 मार्च को नोवेल कोरोना वायरस के टेस्ट में पॉजिटिव पाई गई थीं। इससे पहले कनिका ने एक पार्टी दी थी, जिसमें कई बड़े सेलेब्रिटीज और नेता शामिल हुए थे। तब कोरोना इन्फेक्शन के बीच लापरवाही बरतने और क्वारंटाइन में नहीं रहने के मद्देनजर कनिका कपूर को आलोचना का शिकार होना पड़ा था। कनिका ने अपने हालिया बयान में कहा, 'मुझे इस बात का पता है कि मीडिया में किस तरह की खबरें आईं। लेकिन नेगेटिव खबरें आने से सच्चाई नहीं बदल जाती।'

    इसे जरूर पढ़ें: Coronavirus Update: कोरोना वायरस को मात दे 18 दिन बाद घर वापिस लौटीं बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर

    'नहीं दी थी कोई पार्टी'

    kanika kapoor offers to donate plasma fight against deadly corona

    कनिका ने आगे बताया, 'मैं 11 मार्च को अपने परिवार से मिलने गई थी और वहां पर डोमेस्टिक फ्लाइट के लिए किसी तरह की स्क्रीनिंग का इंतजाम नहीं था। 14 और 15 मार्च को मैंने अपने दोस्त के यहां लंच और डिनर किया।' कनिका ने ये भी स्पष्ट किया कि उन्होंने कोई पार्टी नहीं दी थी और वह पूरी तरह से सामान्य थीं। 

    इसे जरूर पढ़ें: 18 साल की उम्र में हो गई थी शादी, बकिंघम पैलेस में गा चुकी हैं गाना, जानिए कनिका कपूर के बारे में कुछ अनसुनी बातें

    '21 दिन क्वारंटाइन में रही' 

    kanika kapoor offers to donate plasma for corona patient

    17 और 18 मार्च को लक्षण नजर आने लगे और इसके बाद कनिका अपना टेस्ट कराने के लिए गईं। कनिका ने आगे बताया, '20 मार्च को जब मुझे सूचित किया गया कि टेस्ट पॉजिटिव आया है, तो मैं हॉस्पिटल गई। तीन नेगेटिव टेस्ट के बाद मुझे डिस्चार्ज कर दिया गया और इसके बाद मैं 21 दिनों तक घर पर रही।' 

    Recommended Video

    इसी बीच 58 साल के एक डॉक्टर को कोरोना संक्रमण के बाद इलाज के दौरान प्लाज्मा थैरेपी से इलाज किए जाने की खबर आई। उत्तर प्रदेश के उरई की डॉक्टर को प्लाज्मा कनाडा की एक डॉक्टर की तरफ से मिला, जो केजीएमयू में कोरोना की पहली मरीज के तौर पर एडमिट हुई थी और इसके बाद ठीक हो गई। 

    प्लाज्मा थेरेपी से मिले पॉजिटिव रिजल्ट

    प्लाज्मा थेरेपी कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए एक नया प्रयोग है, जिसमें शुरुआती परिणाम पॉजिटिव मिले हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी अपनी प्रेस कॉन्फ्रेस में इस बात की घोषणा की थी कि प्लाज्मा थेरेपी से इलाज में बेहतर नतीजे मिले हैं। दरअसल जो  मरीज कोरोना से संक्रमित होने के बाद ठीक हो चुके हैं, उनके शरीर में बन चुकी एंटी बॉडीज कोरोना से प्रभावित होने वाले दूसरे मरीजों के इलाज में कारगर साबित होती है। प्लाज्मा डोनेट करने की प्रक्रिया खून डोनेट करने जैसी ही होती है और इसमें लगभग एक घंटे का समय लगता है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में प्लाज्मा थेरेपी के रिजल्ट देखने के बाद राज्य की मेडिकल अथॉरिटीज से इस थैरेपी को प्रमोट करने के लिए कहा था। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने हाल ही में प्लाज्मा थेरेपी के क्लीनिकल ट्रायल्स की स्वीकृति दे दी थी 

     

    बहरहाल कनिका कपूर की ब्लड रिपोर्ट्स अगर नॉर्मल रहती हैं और वह अपना प्लाज्मा डोनेट करके किसी कोरोना से पीड़ित मरीज की मदद करती हैं तो इससे बढ़कर कुछ और नहीं हो सकता। देश में अभी भी कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। अगर कनिका कपूर की तरह अन्य कोरोना पीड़ित अपना प्लाज्मा स्वेच्छा से डोनेट करने के लिए आगे आएं, तो कोरोना की कड़ी को तोड़ने और इस पर जीत हासिल करने में कामयाबी हासिल की जा सकती है।  

    अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे जरूर शेयर करें और अपने चहेते सेलेब्रिटीज के बारे में अपडेट्स पाने के लिए विजिट करती रहें हरजिंदगी।

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।