ड्राइंग रूम के एक कोने में एक्वेरियम रखा हो तो इसे देखना किसे अच्छा नहीं लगता? स्पार्कलिंग साफ पानी, हरे पेड़ और रंगीन मछलियां, ये सभी एक साथ मिलकर एक अलग दुनिया की सैर कराते हैं। अगर आप घर पर एक्वेरियम रखती हैं, तो घर का लुक तुरंत बदल जाता है। ये आपके घर को एक खूबसूरत लुक देता है। लेकिन एक्वेरियम दिखने में जितना खूबसूरत लगता है, उसे जतन करना उतना ही मुश्किल काम होता है। इसके लिए आपको उसमें रखी मछलियों की उचित देखभाल करनी पड़ती है।

लेकिन आप इसकी अच्‍छे से देखभाल तभी कर पाएंगी जब आप‍को इसकी सही तरीके से जानकारी होगी। अगर आप गलत तरीके से इसकी देखरेख करेंगी तो इसमें रह रही मछलियां मर भी सकती हैं। इसलिए आज हम आपको बताने वाले हैं कि एक्वेरियम की सही तरीके से कैसे देखरेख करें।

know how to take care of aquarium inside

इसे जरूर पढ़ें:अगर कम स्पेस में बनाया है होम गार्डन, तो सब्जियों से लेकर फूल उगाने तक ये 5 टिप्स आएंगे काम

  • एक्वेरियम खरीदने से पहले कुछ रिसर्च जरूर कर लें। आप अपने घर के हिसाब से एक्वेरियम खरीदें, ताकि आप इसे आसानी से रख सकें। साथ ही, जैसा भी एक्वेरियम ले रही हैं उसके लिए पता कर लें कि किस तरह की मछलियां उसमें रखी जा सकती हैं। अगर आप एक छोटा सा गोलाकार एक्वेरियम खरीदती हैं, तो आमतौर पर उसमें छोटी-सुनहरी मछली रखी जा सकती हैं। बेहतर होगा कि आप उसमें बड़ी मछली ना रखें। वैसे अगर आप बड़ा एक्वेरियम खरीद रही हैं तो इसमें आप अपनी पसंद के अनुसार तरह-तरह की मछलियां रख सकती हैं।

tips to take care of aquarium inside

 

  • एक्वैरियम में सबसे महत्वपूर्ण बात पानी की देखभाल है क्यूंकि अगर पानी स्‍वच्‍छ नहीं होगा तो मछलियां मर जाएंगी। इसलिए हर 10 दिन या 2 सप्ताह में इसका पानी जरूर बदलें। हालांकि, पूरा नहीं बल्कि कुल पानी का दस-बीस प्रतिशत ही बदलना होगा। एक्वेरियम की सफाई करते समय ये ध्‍यान रखें कि मछली का भोजन और अन्य अपशिष्ट चीज़ें भी अच्‍छे से साफ की जाएं। एक्वेरियम के कोनों में जमा हुई शैवाल और गंदगी को अच्छी तरह से साफ करें।

Recommended Video

  • आमतौर पर नल का पानी एक्वैरियम के लिए सही रहता है। फिर भी पानी का पीएच स्तर सही है या नहीं ये चेक कर लें। एक्वेरियम के पानी का पीएच 7.5-6.5 होना चाहिए।
  • मछली खरीदने से पहले सोचें कि आपके एक्वेरियम के लिए कौन सी मछली सही रहेगी। जिससे आप मछली खरीदेंगी उसे अपने एक्वेरियम का आकार बताए, वो इस मामले में आपकी मदद कर सकता है। एक जगह में बहुत सारी मछलियों को ना रखें तो बेहतर होगा।
  • वहीं, एक्वेरियम खरीदने से पहले जान लें किे एक्वेरियम में अन्य मछलियों के साथ फाइटर मछली ना रखें।
  • एक्वेरियम के पानी को साफ रखने के लिए फिल्टर का इस्तेमाल करें। हर एक महीने में फिल्टर के अंदर के एक्टिवेटेड कार्बन और एल्गन को बदलना न भूलें और नियमानुसार फिल्टर को साफ करें।

why take care of aquarium inside

  • कृत्रिम पेड़ों के जगह वास्तविक पेड़ों को एक्वेरियम में रखना बेहतर होता है। ये मछली के लिए एक्वेरियम के वातावरण को अनुकूल बनाने में मदद करते हैं। हालांकि, एक्वेरियम के पौधों की देखभाल के लिए कुछ खास बातों पर ध्‍यान देना होगा जैसे सीधे सूरज की रौशनी में एक्वेरियम को ना रखें। लेकिन ये जरूर सुनिश्चित करें कि पेड़ को पर्याप्त रौशनी मिले।
  • जिससे आप मछली खरीद रही हैं उससे पूछे कि वो मछली किस तरह का भोजन खाती है या दिन में कितनी बार खाती है। अगर आप मछली को अतिरिक्त भोजन देती हैं तो ये अक्सर पानी में जम जाता है, जिससे पानी गंदा हो जाता है, इसलिए एक बार में बहुत अधिक भोजन ना दें।

aquarium care tips inside

इसे जरूर पढ़ें:पुराने पिक्चर फ्रेम का घर में कुछ इस तरह करें इस्तेमाल

तो चलिए इन टिप्‍स को अपनाकर अपने एक्वेरियम को लंबे समय तक नये जैसा बनाएं रखें। आपका एक्वेरियम ऐसा हो जिसमें आपकी मछलियां आराम से रहती हो।

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी तो जुड़ी रहिए हमारे साथ। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए पढ़ती रहिए हरजिंदगी।

Photo courtesy- (thesprucepets.com, aliexpress.com, res.cloudinary.com, amazon.com, cf.ltkcdn.net)