Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    आखिर कैसे हुआ था भगवान ब्रह्मा का जन्म?

    इस आर्टिकल में जाने कि आखिर भगवान ब्रह्म का जन्म कैसे हुआ था।   
    author-profile
    Updated at - 2023-01-23,12:24 IST
    Next
    Article
    who is lord brahma

    ब्रह्मा, विष्णु और महेश को हिंदू धर्म में काफी मान्यता दी गई है। शास्त्रों में त्रिदेव का विशेष स्थान दिया गया है। ऐसे में ब्रह्मा जी को कुछ और मान्यता दी जाती है कि क्योंकि उन्हें सृष्टि के रचयिता कहा जाता है। आपने सृष्टि के रचयिता के बारे में तो बहुत सुना होगा। लेकिन क्या आपको पता है कि सृष्टि के रचयिता का जन्म कब हुआ था? आइए जानते हैं इस आर्टिकल में। 

    कैसे हुआ था ब्रह्मा जी का जन्म? 

    lord brahma born

    माना जाता है कि सृष्टि के रचयिता ब्रह्मा जी की उत्पत्ति नाभि से हुई थी। जी हां, सृष्टि के रचयिता ब्रह्मा जी की उत्पत्ति भगवान विष्णु की नाभि से निकले कमल के द्वारा हुई थी। जब इनकी उत्पत्ति हुई को उन्होंने चारों ओर देखा जिसकी वजह से उनके चार मुख हो गए। (कौन हैं सप्तऋषि)

    इसे भी पढ़ेंः क्‍या होता है ब्रह्म मुहूर्त और क्‍या हैं इसके फायदे, पंडित जी से जानें

    उनका नाम ब्रह्मा क्यों पड़ा?

    भारतीय दर्शन शास्त्र में ब्रह्मा जी का नाम के पीछे निर्गुण निराकार और सर्वव्यापी चेतन शक्ति के लिए ‘ब्रह्मा’ शब्द का प्रयोग बताया गया है। सभी गुणों से पूर्ण होने के कारण उन्हें  ब्रह्मा नाम से पुकारा जाता है।  ब्रह्मा जी सवारी हंस है इसलिए उन्हें हंस नाम से भी पुकारा जाता है। (क्यों हिन्दू धर्म के वेदों को रचा गया था दो बार)

    शिवपुराण के अनुसार ब्रह्माजी अपने पुत्र नारदजी से कहते हैं कि विष्णु को उत्पन्न करने के बाद सदाशिव और शक्ति ने पूर्ववत प्रयत्न करके मुझे (ब्रह्माजी को) अपने दाहिने अंग से उत्पन्न किया और तुरंत ही मुझे विष्णु के नाभि कमल में डाल दिया। इस प्रकार उस कमल से पुत्र के रूप में मुझ हिरण्यगर्भ (ब्रह्मा) का जन्म हुआ।

    कौन है भगवान ब्रह्मा का पुत्र? 

    know about lord brahma

    भक्तों में हमेशा से उत्सुकता रही है कि मनु भारतीय इतिहास में कौन थे? लोककथाओं में बताया गया है कि भगवान ब्रह्मा द्वारा बनाए गए पहले व्यक्ति का नाम मनु था जो भगवान ब्रह्मा की पहली रचना की लिस्ट में आता है। हिंदू पौराणिक कथाओं के मुताबिक मनु को भगवान ब्रह्मा के सबसे बड़े पुत्र के रूप में चित्रित किया गया है।

    इसे भी पढ़ेंः अभिजीत मुहूर्त में कौन से कार्य करने होते हैं शुभ

    उम्मीद है आपको अब समझ आ गया होगा कि ब्रह्मा जी का जन्म कैसे हुआ था। अगर आप इसके अलावा किसी और देवता के बारे में जानकारी लेना चाहते हैं तो इस आर्टिकल के कमेंट सेक्शन में सवाल जरूर करें। 

    अगर आपको यह लख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

    Photo Credit: Twitter 

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।